Submit your post

Follow Us

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

भारत के उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के पर्सनल ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक हटने की वजह से ट्विटर 5 जून को एक बार फिर विवादों में आ गया. ब्लू टिक वैंकेया नायडू के पर्सनल अकाउंट @MVenkaiahNaidu से हटाया गया था, जिस पर करीब 13 लाख फॉलोअर्स हैं. हालांकि भारत के उपराष्ट्रपति का जो आधिकारिक अकाउंट है – @VPSecretariat, उस पर ब्लू टिक बरकरार रहा. इस पर 9 लाख से अधिक फॉलोअर्स हैं. विवाद शुरू हुआ ही था कि ट्विटर ने आनन-फानन में ये ब्लू टिक रिस्टोर कर दिया.

ट्विटर का कहना है कि अकाउंट काफी समय से इनएक्टिव था, इसलिए ब्लू टिक हट गया था. ट्विटर ने बयान जारी करते हुए कहा –

“अकाउंट जुलाई 2020 से इनएक्टिव था. हमारी वैरिफिकेशन पॉलिसी के मुताबिक अगर अकाउंट काफी समय से इनएक्टिव है तो ब्लू टिक हट जाता है. ऐसा ही हुआ, लेकिन बाद में ब्लू टिक रिस्टोरी किया गया.”

हालांकि, कुछ ट्विटर अकाउंट ऐसे भी हैं जो बरसों से एक्टिव नहीं हैं, फिर भी उन पर ब्लू टिक है. जैसे कि पूर्व वित्त मंत्री और दिवंगत भाजपा नेता अरुण जेटली के ट्विटर अकाउंट से आखिरी ट्वीट 7 अगस्त 2019 को हुआ था, लेकिन उनका अकाउंट अब भी वेरिफाई है.

वहीं, ट्विटर के नियम कहते हैं कि पिछले 6 महीने में लॉग इन करना जरूरी है, तभी उसे एक्टिव अकाउंट माना जाएगा.  हालांकि, इसके लिए जरूरी नहीं है कि आप ट्वीट, रीट्वीट, लाइन, फॉलो, अनफॉलो करें.  लेकिन अकाउंट एक्टिव रखने के लिए 6 महीने में एक बार लॉग इन करना जरूरी है और प्रोफाइल अपडेट रखना जरूरी है.

हालांकि सूत्रों के हवाले से खबर है कि ट्विटर को IT मंत्रालय की तरफ से नोटिस भेजे जाने की तैयारी है. मंत्रालय का मानना है कि भारत के उपराष्ट्रपति के अकाउंट से ब्लू टिक को बिना किसी सूचना के हटाना भारत के संवैधानिक पद की अवमानना है.  इसके बाद 5 तारीख़ की सुबह से ही ट्विटर पर ही #BanTwitterInIndia , #BlueTick और #VenkaiahNaidu ट्रेंड होने लगा.

भागवत का भी ब्लू टिक हटा

इसके अलावा कुछ RSS नेताओं के अकाउंट से भी ब्लू टिक हटने की बात आ रही है. इनमें सबसे प्रमुख नाम है सरसंघचालक मोहन भागवत का. भागवत के ट्विटर अकाउंट से भी ब्लू टिक हट गया है. हालांकि अभी ट्विटर की तरफ से इस पर कोई स्पष्टीकरण नहीं आया है कि उनके अकाउंट से टिक क्यों हटा. संभवतः इसके पीछे भी वही कारण हो सकता है, जो कारण नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटने पर दिया गया था. मोहन भागवत का ट्विटर अकाउंट मई 2019 में बना था, लेकिन अभी उनके ट्विटर पर एक भी ट्वीट नहीं दिखा रहा है.


राज्यसभा में AAP सांसद सुशील गुप्ता को वेंकैया नायडू ने डांट क्यों पिला दी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

यूपी चुनाव में BJP का CM फेस योगी ही होंगे? केशव प्रसाद मौर्य दिलचस्प जवाब दे गए

यूपी चुनाव में BJP का CM फेस योगी ही होंगे? केशव प्रसाद मौर्य दिलचस्प जवाब दे गए

केशव प्रसाद मौर्य ने ऐसा क्यों कहा?

'आउट ऑफ फॉर्म' विराट ने कौन सा बड़ा RECORD बनाया?

'आउट ऑफ फॉर्म' विराट ने कौन सा बड़ा RECORD बनाया?

सचिन, पोंटिंग, द्रविड़...कोई नहीं है टक्कर में.

पुजारा को पूरे करियर में किसने सबसे ज़्यादा परेशान किया?

पुजारा को पूरे करियर में किसने सबसे ज़्यादा परेशान किया?

अब इस रिकॉर्ड को भुलाना होगा.

दिल्ली जल बोर्ड ने 36 दिन का पानी का बिल 6 करोड़ रुपए का थमा दिया!

दिल्ली जल बोर्ड ने 36 दिन का पानी का बिल 6 करोड़ रुपए का थमा दिया!

दिल्ली के सुभाष नगर का मामला.

PF कटता है तो ये दो खातों वाली ख़बर आपके बहुत काम की है!

PF कटता है तो ये दो खातों वाली ख़बर आपके बहुत काम की है!

पीएफ पर ब्याज कमाते हैं तब तो जरूर पढ़ें.

दिल्ली दंगा: हाई कोर्ट ने क्या कहकर 5 में से 4 FIR रद्द कर दीं?

दिल्ली दंगा: हाई कोर्ट ने क्या कहकर 5 में से 4 FIR रद्द कर दीं?

दिल्ली हाई कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट का हवाला दिया है.

ओवल में काली पट्टी बांध क्यों खेल रही है टीम इंडिया?

ओवल में काली पट्टी बांध क्यों खेल रही है टीम इंडिया?

किसके सम्मान में भारतीय खिलाड़ी कर रहे हैं ऐसा.

सिद्धार्थ शुक्ला के गुज़रने के बाद उनकी पीआर टीम ने मीडिया से क्या अपील की है?

सिद्धार्थ शुक्ला के गुज़रने के बाद उनकी पीआर टीम ने मीडिया से क्या अपील की है?

सिद्धार्थ की पीआर टीम द्वारा जारी किए गए स्टेटमेंट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर शेयर हो रहा है.

टॉस हारे तो विराट ने बता दिया, चौथा टेस्ट जीत का क्या है प्लान

टॉस हारे तो विराट ने बता दिया, चौथा टेस्ट जीत का क्या है प्लान

अश्विन को फिर नहीं दिया मौका.

कोर्ट ने भाजपा विधायक को सजा सुनाई, फिर 'अच्छे बर्ताव' के लिए प्रोबेशन पर रिहा कर दिया

कोर्ट ने भाजपा विधायक को सजा सुनाई, फिर 'अच्छे बर्ताव' के लिए प्रोबेशन पर रिहा कर दिया

कासगंज सदर से विधायक देवेंद्र सिंह राजपूत को 11 साल पुराने केस में कोर्ट ने दोषी माना.