Submit your post

Follow Us

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

गुरुवार 8 अक्टूबर को मुंबई पुलिस ने TRP रैकेट के भंडाफोड़ का दावा किया. TRP मतलब टीवी चैनलों की लोकप्रियता नापने का पैमाना. मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि इस मामले में दो चैनलों के मालिकों को गिरफ्तार किया गया है. इस कथित फर्जीवाड़े में बड़ा नाम ‘रिपब्लिक टीवी’ का भी जुड़ा. उन्होंने बताया कि BARC ने जो एनालिटिक रिपोर्ट सबमिट की है, उसमें रिपब्लिक टेलीविजन का भी नाम आया. उसकी टीआरपी के संदिग्ध ट्रेंड देखे गए हैं. ऐसे कस्टमर्स, जिनको अप्रोच किया गया था, हमने उन्हें बुलाकर पूछताछ की, तो उन्होंने माना कि उनको पैसा दिया गया था. चैनल विशेष को ऑपरेट करने के लिए. पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है.

आरोप झेल रहे ‘रिपब्लिक टीवी’ के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी  का इस मामले में बयान आया. उन्होंने आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया. इसके बाद अर्नब गोस्वामी ने आरोप लगाया कि जिस एफआईर की बात हो रही है उसमें इंडिया टुडे का भी नाम है. लेकिन पुलिस ने इंडिया टुडे की बजाय रिपब्लिक टीवी को फंसाने की कोशिश की है. उनका कहना है कि इंडिया टुडे के खिलाफ शिकायत 6 अक्टूबर को की गई थी.

और क्या आरोप लगाए?

रिपब्लिक टीवी का कहना है कि उसने हंसा रिसर्च ग्रुप प्राइवेट लिमिटेड के डिप्टी जनरल मैनेजर नितिन देवकर द्वारा दायर FIR को देखा है. ये कंपनी ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल BARC के बार-ओ-मीटर को स्थापित करने और उसके संचालन के लिए जिम्मेदार है. रिपब्लिक टीवी ने कहा, मुंबई पुलिस द्वारा गिरफ्तार, विशाल भंडारी- हंसा रिसर्च ग्रुप प्राइवेट लिमिटेड के रिलेशनशिप मैनेजर ने खुलासा किया है कि इंडिया टुडे और अन्य चैनलों ने उन्हें घरों में पैनल लगाने के लिए पैसे की पेशकश की. इसके अलावा विनय नामक व्यक्ति ने भंडारी से नवंबर 2019 में 5 घरों का रुख करने के लिए कहा और उन्हें 2 घंटे रोजाना इंडिया टुडे देखने को कहा.

पुलिस का क्या कहना है?

आरोप लगने के बाद इंडिया टुडे ने इस मामले में मुंबई पुलिस से बात की. मुंबई पुलिस के ज्वाइंट कमिश्नर से इस बारे में इंडिया ने पूछा कि एफआईआर में कुछ चैनलों का नाम लिया गया. इंडिया टुडे वगैरह का. एफआईआर में क्या था और जांच में क्या पता चला? उन्होंने बताया,

एफआईआर में इंडिया टुडे चैनल का नाम लिया गया है, लेकिन जब आरोपी से हमने पूछताछ की तो उसने इंडिया टुडे का नाम ना लेते हुए, रिपब्लिक टीवी, Fakt Marathi (फक्त मराठी) और बॉक्स सिनेमा. तीन चैनल का नाम लिया. हमने जब उन हाउसहोल्डर्स का स्टेटमेंट रिकॉर्ड किया. उन्होंने भी तीन चैनलों का नाम लिया. अब तक की जांच में इन तीन चैनलों के खिलाफ एविडेंस बरामद हुए हैं. लेकिन हमारी तफ्तीश का एंगल पूरा ओपन है, इंडिया टुडे या बाकी चैनलों के खिलाफ जो भी एविडेंस मिलता है हमारी जांच उस आधार पर आगे बढ़ेगी.एफआईआर से इंवेस्टिगेशन शुरू होता है, लेकिन जांच के लिए पुख्ता सबूत होना चाहिए. जांच अब भी ओपन है.

गवाह ने इंडिया टुडे को क्या बताया? 

वहीं फर्जी टीआरपी केस में गवाह तेजल सोलंकी से इंडिया टुडे ने बात की. टीआरपी रेटिंग देखने वाली कंपनी BARC की शिकायत में गवाह तेजल सोलंकी ने कहा है कि उसे इंडिया टुडे द्वारा कभी कोई रिश्वत नहीं दी गई थी और तो और इंडिया टुडे चैनल उसके टीवी चैनल पैकेज में सब्सक्राइब भी नहीं है. इंडिया टुडे संवाददाता साहिल जोशी ने तेजल सोलंकी से फोन पर बात की है.

साहिल जोशी: तेजलजी मैं साहिल बोल रहा हूं. इंडिया टुडे से. ये आपका हमने अभी फोनो सुना है, आपको हमारी तरफ से किसी ने कॉन्टैक्ट किया था क्या कभी?

तेजल: नहीं सर.

साहिल जोशी: तो आप शांति से सोचकर बताइए. आपने उसमें ये बोला कि आपके बच्चों को किसी ने कॉन्टैक्ट किया था.

तेजल: हां, सर मुझे रात 10 बजे के बाद रिपब्लिक द्वारा बार-बार कॉल किया जा रहा था, कृपया इस चैनल को देखें, वे कह रहे थे कि कृपया इस चैनल को देखें, लेकिन यह चैनल हमने सब्सक्राइब नहीं किया है.

साहिल जोशी: तो आपने इंडिया टुडे को सब्सक्राइब नहीं किया है?

तेजल: नहीं है सर.

साहिल: किसी ने आपको कुछ पैसे दिए हैं, आपके बच्चों को इंडिया टुडे या किसी अन्य चैनल को देखने के लिए कोई पैसा दिया था.

तेजल: नहीं सर, किसी ने भी ऐसा कुछ नहीं कहा, मैंने ऐसा कुछ नहीं कहा है, अगर आप चाहें तो मैं आपको अभी स्क्रीनशॉट भेज सकती हूं.

साहिल: आप इंडिया टुडे देखिए, ऐसा करके किसी ने आपको कॉल नहीं किया. ये आपका कहना है.

तेजल: हां.

साहिल: विशाल नाम के आदमी ने कभी आपको कॉल किया क्या?

तेजल: विशाल वह व्यक्ति है, जो बैरोमीटर वाला व्यक्ति यहां आया था, उसकी कोई कॉल नहीं आई थी.

साहिल: तो कोई चैनल देखने के लिए उसने आपको नहीं बताया.

तेजल: नहीं, नहीं बताया सर.

साहिल: तो आपको रिपब्लिक वालों ने जो बताया, क्योंकि वे आपको कॉल कर रहे थे, वो आपने कह दिया.
तेजल: वे इंडिया टुडे इंडिया टुडे बोल रहे थे. मैंने सोचा कि यह एक अंग्रेजी चैनल है, मुझे लगा कि बच्चे इसे देखते होंगे, इसलिए मैंने सिर्फ इतना कहा. हां बच्चे लोग देखते होंगे.

साहिल: लेकिन आपको कभी भी इंडिया टुडे से फोन नहीं गया या इस चैनल को देखने के लिए नहीं कहा गया. आपको कभी भी चैनल देखने के लिए कोई पैसे का ऑफर नहीं किया गया.

तेजल: नहीं नहीं

साहिल: तो यह आपको नहीं बताया गया था

तेजल: सर मेरे पास एयरटेल डिशटीवी है, उस पैकेज में इंडिया टुडे नहीं है.

साहिल: ठीक है

तेजल: इंडिया टुडे का सब्सक्रिप्शन ही नहीं लिया गया है.

साहिल: ओके
तेजल: यदि आप चाहते हैं तो आपको स्क्रीनशॉट आपके व्हाट्स एप नंबर पर भी भेज सकती हूं.

साहिल: कृपया इस नंबर पर स्क्रीनशॉट भेजें जिसे मैंने कहा है

तेजल: ठीक है सर धन्यवाद
तेजल: सर वे कह रहे थे कि इस चैनल को अभी देखिए, मैं इसे अभी आपके पास भेज सकती हूं, वे इसे बार-बार कह रहे थे.

वहीं अर्नब गोस्वामी का कहना है कि यह जांच दुर्भावानापूर्ण है और बदले की कार्रवाई है, क्योंकि वह मुंबई पुलिस और उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ खुलकर बोल रहे थे. उन्होंने पुलिस कमिश्ननर के खिलाफ कोर्ट में मामला दर्ज करने की धमकी दी है. राज्य के सत्तारूढ़ दल के राजनीतिज्ञों के खिलाफ व्यक्तिगत हमलों को लेकर अर्नब गोस्वामी के​ खिलाफ एक मामला दर्ज हुआ है, इसके बाद से ही ​अर्नब गोस्वामी और पुलिस कमिश्नर के बीच लड़ाई चल रही है. सुशांत सिंह राजपूत केस में महाराष्ट्र सरकार ने आरोप लगाया है कि अर्नब गोस्वामी फेक न्यूज चला रहे हैं और दुष्प्रचार कर रहे हैं. अर्नब पर यह भी आरोप सरकार ने लगाया है कि वे अपुष्ट सूचनाओं को प्रसारित कर रहे हैं जिससे यूट्यूब पर साजिश थ्योरी चलाने वालों को बढ़ावा मिल रहा है.


टीवी वाले TRP से कैसे कमाते हैं, पूरा लेखा-जोखा यहां पर जान लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

'बिग बॉस' की एक्स-कंटेस्टेंट ने ज़ायरा वसीम की तरह बॉलीवुड को 'बाय' बोल दिया है

शोबिज़ को गुडबाय बोलते हुए सना ने क्या-क्या लिखा है.

लालू प्रसाद यादव को बेल मिल गई है

क्या अब बिहार चुनाव में RJD के लिए बहार आएगी?

AIIMS के डायरेक्टर ने कहा- ठंड में प्रदूषण बढ़ने से कोरोना वायरस के मामले भी बढ़ जाएंगे

सर्दियों में प्रदूषण बढ़ता है, ये हम हर साल देखते आ रहे हैं.

बीजेपी विधायक के मामा को घर के बाहर ही गोलियों से भूनकर मार डाला

मॉर्निंग वॉक कर रहे थे नरेश त्यागी, तब हुई हत्या.

वॉर्नर-बेयरस्टो ने एक ही पारी में एक-दो नहीं, इतने सारे रिकॉर्ड बना डाले

IPL की बेस्ट ओपनिंग जोड़ी बनते जा रहे हैं दोनों.

गो-कार्ट चला रही थी इंजीनियरिंग स्टूडेंट, पहिए में बाल ऐसे उलझे कि जान चली गई

प्ले ज़ोन में हुआ बड़ा हादसा

KXIP के बॉलर चिल्ला-चिल्लाकर कह रहे होंगे- अगले बरस मोहे इस टीम में न कीज्यो

सैकड़ों गेदों के बाद आखिरकार मिल गया KXIP को विकेट.

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान नहीं रहे

कई दिनों से बीमार थे.

बालाकोट एयर स्ट्राइक में बड़ा कारनामा करने वाली इस महिला अफसर को अवॉर्ड मिला है

पाकिस्तान ने काउंटर अटैक की कोशिश की थी, तो इन्होंने वायुसेना को अलर्ट किया था.

सुनील गावस्कर का यह सुझाव मान लिया गया, तो बल्लेबाजों की शामत आ जाएगी!

टी20 क्रिकेट को लेकर गावस्कर का आइडिया बड़ा धांसू है.