Submit your post

Follow Us

BJP के विधायकों ने त्रिपुरा के सीएम को तानाशाह बताया, हटाने की मांग लेकर दिल्ली पहुंचे

त्रिपुरा के सात भाजपा विधायक मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब को हटाने की मांग लेकर दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. विधायकों ने मुख्यमंत्री को तानाशाह, अनुभवहीन और अलोकप्रिय बताया है. ये सभी विधायक सुदीप रॉय बर्मन के नेतृत्व में दिल्ली गए हैं. इनका दावा है कि इन्हें दो अन्य विधायकों का भी समर्थन प्राप्त है लेकिन वो दिल्ली नहीं आ सके हैं. बर्मन के अलावा दिल्ली पहुंचे विधायकों में आशीष दास, दिवा चंद्र रंखल, बर्ब मोहन त्रिपुरा, सुशांता चौधरी, राम प्रसाद पाल, आशीष साहा और परिमल देब बर्मा शामिल हैं.

त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 36 विधायक हैं. इंडिजिनस पीपल फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) के आठ विधायक भी बिप्लब देब सरकार का समर्थन कर रहे हैं. हालांकि मुख्यमंत्री के करीबी नेताओं कe कहना है कि सरकार और पार्टी को कोई खतरा नहीं है. त्रिपुरा भाजपा अध्यक्ष मानिक साहा ने भी इस पूरे मामले पर टिप्पणी की है. उन्होंने कहा, सरकार बिल्कुल सुरक्षित है और मैं ये सुनिश्चित कर सकता हूं कि सात या आठ विधायक सरकार नहीं गिरा सकते हैं.

विधायकों की शिकायतों पर उन्होंने कहा,

मैंने उनकी शिकायतें नहीं सुनी हैं. हम पार्टी के बाहर ऐसे मुद्दों पर चर्चा नहीं करते हैं

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार भाजपा के सूत्रों ने कहा है कि महासचिव (संगठन) बीएल संतोष ने सुदीप रॉय बर्मन से मुलाकात की और उन्हें बताया कि शीर्ष स्तर से किसी बदलाव की संभावना नहीं है. इसके बाद बागी विधायकों ने गृहमंत्री अमित शाह और अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की मांग की है.

त्रिपुरा विधायकों का कहना है कि अगर पार्टी राज्य में लंबे समय तक सत्ता में बने रहना चाहती है तो बिप्लब देब को मुख्यमंत्री पद से हटाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में जो हो रहा है वह तानाशाही है. मुख्यमंत्री को अपने विधायकों पर भरोसा नहीं है, वह खुद दो दर्जन से अधिक विभागों का प्रभार संभाल रहे हैं. इस पूरे मामले में बागी विधायक सुशांता चौधरी ने कहा,

हम प्रधानमंत्री से भी मुलाकात की मांग करेंगे. त्रिपुरा में जो हो रहा है उसे लेकर प्रधानमंत्री को अंधेरे में नहीं रखा जा सकता है

चौधरी ने कहा कि वे भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विचारधारा के प्रति समर्पित हैं. उन्हें इसकी सत्ता से कोई समस्या नहीं है. उन्होंने बिप्लब देब को घेरे में लेते हुए कहा,

बिप्लब देब जमीन तैयार कर रहे हैं… अगर भाजपा नेतृत्व त्रिपुरा में बने रहना चाहता है तो उन्हें देब की जगह किसी और को लाना चाहिए. उन्हें न तो शासन करने का अनुभव है, न ही राजनीतिक कौशल. वे सबसे अनुभवहीन है और हर किसी को लेकर असुरक्षित रहते हैं. इस बात की पुष्टि करने के लिए भाजपा नेतृत्व चाहे तो मुख्यमंत्री की लोकप्रियता का सर्वे करवा सकता है, मुझे यकीन है कि 100 में से 98 लोग कहेंगे कि उन्हें हटा दिया जाना चाहिए

बागी विधायक यह भी कह रहे हैं कि कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बावजूद राज्य में स्वास्थ्य मंत्री नहीं हैं. मुख्यमंत्री बिप्लब देब खुद उसका प्रभार संभाल रहे हैं


वीडियो देखिए:  इस बार सीएम बिप्लब देब ने जाटों-पंजाबियों को लेकर कुछ बवाली स्टेटमेंट दिया है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

फारुख अबदुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

फारुख अबदुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा-आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

रैकेट में दो और चैनलों के भी नाम हैं, उनके मालिक गिरफ्तार कर लिए गए है.

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

गणित के मास्टर भी हैं CSK को पीटने वाले राहुल त्रिपाठी.

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

क्या ये चिराग पासवान के लिए ज़मीन तैयार करने की रणनीति है?

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

स्टूडेंट्स, अभिभावकों की लिखित सहमति से ही स्कूल जा सकते हैं.