Submit your post

Follow Us

इस शख्स ने चुपके से चार लोगों का लोन चुका दिया, अपना नाम तक नहीं बताया

कैसा हो, अगर आप पर लाख-दो लाख का लोन हो और कोई अनजान व्यक्ति उस लोन को चुका दे? और बस आपको इतनी ही खबर हो कि आपका लोन चुका दिया गया. जी, मिजोरम में ऐसा ही कुछ हुआ है. यहां की राजधानी आईजोल में बिजनेस करने वाले एक शख्स ने चार अलग-अलग लोगों के करीब 10 लाख रुपये का लोन चुका दिया. उन्होंने अपनी पहचान गुप्त रखी है.

क्या है मामला

52 साल की एक महिला को ब्रेन ट्यूमर था. उन्होंने अपने इलाज के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से करीब चार लाख का लोन लिया था. कोलकाता में उनका इलाज चल रहा था. उनके पति नहीं हैं, सिर्फ दो बेटियां हैं. बैंक के अधिकारियों के अनुसार, पैसा दे पाने में वो सक्षम नहीं थीं.

ऐसे ही मुआना एल फनाई नाम के शख्स ने बैंक से 2.5 लाख रुपये का कर्ज लिया. उन्हें पॉल्ट्री फार्म खोलना था. लेकिन कोरोना के चलते उनका यह बिजनेस काफी समस्याओं में घिर गया और वे लोन नहीं चुका पा रहे थे.

ये दोनों लोग, उन चार शख्स में शामिल हैं, जिनके कुल मिलाकर करीब 10 लाख रुपए का लोन चुका दिया गया है.

हुआ यूं कि लोन चुकाने वाले शख्स ने बैंक अधिकारियों से बात की और कहा कि वे उन लोगों की मदद करना चाहते हैं, जो कोरोना के दौर में अपना लोन नहीं चुका पा रहे हैं और इसके लिए अपनी संपत्ति गिरवी रख दी है. इसके बाद बैंक के अधिकारियों ने इन चार जरूरतमंद लोगों को चुना.

इनमें से ब्रेन ट्यूमर का इलाज करा रहीं महिला से जब ‘संडे एक्सप्रेस’ ने बात की तो उन्होंने कहा-

मुझे बैंक से कॉल आई. कोई शख्स है, जो कुछ लोन चुकाना चाहता है. बैंक ने कुछ लोगों को चुना है और उस लिस्ट में मुझे भी सेलेक्ट किया है.

आइजोल ब्रांच की स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मैनेजर शेरिल वनचंग ने कहा-

हम लोग इस शख्स को पिछले कुछ वक्त से जानते हैं. कुछ दिन पहले वो आए और हमें बताया कि वे ऐसा करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि आप हमें चुनकर बताएं, तो उनका लोन भर देंगे. उन्होंने 10 लाख रुपये तक की मदद के लिए ही कहा था.

इसके बाद बैंक ने चार लोगों को चुना, जो लॉकडाउन के कारण अपना कर्ज नहीं चुका पा रहे थे. चारों लोगों को अगले दिन बुलाया गया और जब वे पहुंचे, तो उनके सारे कागजात वगैरह उन्हें वापस कर दिए गए. लेकिन ये सब उस अनजान व्यक्ति को धन्यवाद करना चाह रहे थे,  उनसे मिलना चाहते थे.

इन चारों लोगों के कहने पर बैंक ने उस व्यक्ति से बैंक आने का अनुरोध किया, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया.



वीडियो देखें: मिजोरम में तुइकुम वॉलीबॉल टीम की खिलाड़ी लाल्वेंतलुआंगी की ब्रेस्टफीड कराती तस्वीर वायरल

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन 4.0: सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, जानें क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

31 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया है.

घर जाने को लेकर राजकोट में 500 मज़दूरों का सब्र जवाब दे गया, सड़क पर उतरे

हंगामे के बीच पुलिस घायल, किसी तरह शांत हुआ मामला.

चोटिल बेटे को खटिया पर लादकर 900 किमी दूर घर के लिए निकल पड़ा ये मज़दूर

पंजाब से चला था परिवार, मध्य प्रदेश जाना था.

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज की आख़िरी किश्त में मनरेगा को 40 हजार करोड़, अन्य को क्या मिला?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सात सेक्टर्स के लिए घोषणाएं कीं.

यूपी: औरैया में दो ट्रक टकराने से 24 मज़दूर मारे गए, योगी ने कई पुलिसवालों को सस्पेंड किया

पीएम मोदी ने घटना पर शोक जताया है.

घर-घर खाना पहुंचाने वाली ये कंपनी 600 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रही है

राहत वाली बात ये है कि छह महीने तक आधी सैलरी मिलती रहेगी.

बंगाल में हफ्तेभर से क्या बवाल चल रहा है, जिसमें 129 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं

‘तुम कोरोना फैला रहे हो’ कहकर हमला किया, हिंसा भड़की.

लंबे वक्त तक क्रिकेट के नक्शे पर पाकिस्तान को जिंदा रखा था इस जोड़ी ने

वो दिन, जब मिस्बाह-उल-हक़ और यूनिस खान ने क्रिकेट को अलविदा कहा

कश्मीर : चेकप्वाइंट पर गाड़ी नहीं रोकी तो आम नागरिक को CRPF ने गोली मार दी?

क्या है घटना का सच?

रेलवे ने टिकट कटा चुके लोगों को बड़ा झटका दिया है

इसका श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों पर क्या असर पड़ेगा?