Submit your post

Follow Us

इस चिड़ियाघर में बच्चों के सामने जिराफ, शेर के बच्चे मार दिए गए

पिछले हफ्ते डेनमार्क के तीसरे सबसे बड़े शहर ओडेन्स के चिड़ियाघर में एक जवान शेर के साथ ऐसा बर्ताव हुआ, जिससे दुनिया सकते में आ गई. ओडेन्स के चिड़ियाघर में Animals Inside Out नाम का एक सेशन रखा गया जिसमें लोगों के सामने टेबल पर रखा गया था एक बब्बर शेर. शेर को मौत के करीब लाने के लिए एक साल से इंजेक्शन दिए जा रहे थे.

दो युवतियों ने फिर वहीं बच्चों, बूढ़ों, पारिवारिक लोगों के सामने उस शेर को काटा. लिवर निकाला, आंतें निकालीं, दिल निकाला. युवतियां बॉयोल्जी की स्टूडेंट थीं. डेनमार्क में ‘एनिमल डाइसेक्शन’ पर कानूनन पाबंदी नहीं है. हालांकि वहां जानवरों के क़त्ल और चीर-फाड़ को बहुत छुपाया नहीं जाता लेकिन सरेआम प्रचारित भी नहीं किया जाता.

pg 1
फ़ोटो कर्टसीः द न्यू यॉर्कर

जिराफ के बच्चे को भी मारा जिससे हल्ला मच गया

मामला 2014 का है. कोपनहेगन चिड़ियाघर में मैरियस नाम के एक जिराफ़ के बच्चे को गोली मार दी गई थी और शेरों को खिला दिया गया. मैरियस सिर्फ़ 2 साल का था. स्वस्थ था. लेकिन ज़ू के अधिकारियों ने बाड़े में आंतरिक प्रजनन रोकने के लिए उसे मार दिया. उसे गोली मार दी गई. बावजूद इसके कि बहुत सारे लोग उस जिराफ़ को गोद लेने के लिए तैयार थे.

मैरियस को बचाने के लिए कई ऑनलाइन पिटीशन भी डाली गईं. लेकिन सब बेकार गया. ज़ू वालों ने 9 फरवरी 2014 को उसकी जान ले ली. इतना ही नहीं. इसके बाद ज़ू वालों ने पब्लिक में, बच्चों, परिवारों के सामने उसे लिटा कर चीरा.  

Denmark Image
फोटोः AP

इस हत्या को दुनिया भर के मीडिया ने ख़ूब दिखाया. लोगों में इस कदर गुस्सा था कि ज़ू के अधिकारियों को मौत की धमकी भी आने लगीं. वीडियो में दिखाया गया जिराफ़ का ये पोस्टमॉर्टम शरीर विज्ञान के प्रति जागरूकता फैलाने के इरादे से लोगों के सामने किया गया और टिकट के पैसे बटोरने के लिए ये पाठक ही तय करें.

इसी तरह दिसंबर 2015 में भी कोपनहेगन के इसी चिड़ियाघर में जहां मैरियस को मारा गया था, वहीं शेर के एक पूरे परिवार भी डाइसेक्ट कर दिया गया. 4 शेरों के इस परिवार में 2 प्यारे से शावक भी थे. लोगों में इसे लेकर गुस्सा था लेकिन ज़ू के लोग अपने को सही ठहराते  रहे.

Lion cubs enter a lion enclosure for the first time in Copenhagen Zoo in this July 17, 2013 file photograph provided by Scanpix. Copenhagen Zoo euthanised four healthy lions on March 24, 2014 just a few weeks after putting down and publicly dissecting a young giraffe, causing outrage among animal lovers around the world. The zoo said it had killed a 16-year old male lion, a lioness of around the same age and two younger females after a new male lion arrived on Sunday as part of a programme to renew the zoo's breeding stock. Scanpix could not confirm if the lions in the photo were the ones killed. REUTERS/Mads Nissen/Scanpix (DENMARK - Tags: ANIMALS SOCIETY) FOR EDITORIAL USE ONLY. NOT FOR SALE FOR MARKETING OR ADVERTISING CAMPAIGNS. THIS IMAGE HAS BEEN SUPPLIED BY A THIRD PARTY. IT IS DISTRIBUTED, EXACTLY AS RECEIVED BY REUTERS, AS A SERVICE TO CLIENTS. DENMARK OUT. NO COMMERCIAL OR EDITORIAL SALES IN DENMARK
वो दो प्यारे शेर के बच्चे, किम और तोन्या

क्या होता है डाइसेक्शन?

पहले कुछ दिनों तक इंजेक्शन देकर जानवरों को मौत के करीब लाया जाता है. फ़िर काटा जाता है. एक-एक अंग निकाला जाता हैं. फिर उसका मीट बनाकर बेच दिया जाता है, या बॉयोल्जी, सर्जिकल साइंस और फोरेंसिक साइंस के बच्चों के प्रैक्टिकल के लिए रख दिया जाता है.

A lion is dissected at the Museum of Natural History in Aarhus, February 17, 2016. REUTERS/Jens Thaysen/Scanpix ATTENTION EDITORS - THIS IMAGE WAS PROVIDED BY A THIRD PARTY. FOR EDITORIAL USE ONLY. NOT FOR SALE FOR MARKETING OR ADVERTISING CAMPAIGNS. THIS PICTURE IS DISTRIBUTED EXACTLY AS RECEIVED BY REUTERS, AS A SERVICE TO CLIENTS. DENMARK OUT. NO COMMERCIAL OR EDITORIAL SALES IN DENMARK. NO COMMERCIAL SALES.

एेसा क्यों करते हैं?

जब चिड़ियाघर वालों को लगता है कि कोई जानवर बच्चे पैदा करने के लिए सही नहीं है, उसमें जेनेटिक कमी है तो वो उसे ख़त्म करने का फ़ैसला ले लेते हैं. ताकि वो बाड़े की किसी और मादा के साथ आकर बच्चे न पैदा कर दे.

मैरियस जिराफ़ को मारने के बाद ज़ू मालिक ने बयान दिया था, ‘हम सबको प्रैक्टिकली बिहेव करने की जरूरत है. जानवरों से प्यार ठीक है लेकिन ऐसे जानवरों का बचे रहना बाकी जानवरों की सेहत के लिए ठीक नहीं है.’

पाठकों को क्या लगता है?


ये भी पढ़ें:

समंदर के अंदर शार्क से टक्कर का लाइव वीडियो!

वोदका के चखने में चूहा भकोस गया ये आदमी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सुशांत पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच का आदेश दिया, महाराष्ट्र के वकील को आपत्ति

कोर्ट ने कहा, सारे काग़ज़ CBI को दे दीजिए.

बिहार : महीनों से बिना सैलरी के पढ़ा रहे हैं गेस्ट टीचर, मांगकर खाने की आ गई नौबत!

इस पर अधिकारियों ने क्या जवाब दिया?

सलमान खान की रेकी करने वाला शार्प शूटर पकड़ा गया

जनवरी में रची गई थी सलमान खान की हत्या की साजिश!

रोहित शर्मा और इन तीन खिलाड़ियों को मिलेगा इस साल का खेल रत्न!

इसमें यंग टेबल टेनिस सेंसेशन का भी नाम शामिल है.

प्रसिद्ध शास्त्रीय गायक पंडित जसराज नहीं रहे

पिछले कुछ समय से अमेरिका में रह रहे थे.

प. बंगाल: विश्व भारती यूनिवर्सिटी में जबरदस्त हंगामा, उपद्रवियों ने ऐतिहासिक ढांचे भी ढहाए

एक फेमस मेले ग्राउंड के चारों तरफ दीवार खड़ी की जा रही थी.

धोनी के 16 साल के क्रिकेट करियर की 16 अनसुनी बातें

धोनी ने रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया है.

धोनी के तुरंत बाद सुरेश रैना ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा

इंस्टाग्राम पोस्ट के ज़रिए रिटायरमेंट की बात बताई.

धोनी क्रिकेट से रिटायर, फैंस ने बताया, एक जनरेशन में एक बार आने वाला खिलाड़ी

एक इंस्टाग्राम पोस्ट करके विदा ले ली धोनी ने.

गुजरात सरकार ने पीएम मोदी की फसल बीमा योजना को सस्पेंड क्यों कर दिया?

मोदी सरकार इस योजना की खूब बातें करती थीं.