Submit your post

Follow Us

घर-घर जाकर कॉन्डम बेचती हैं ये पाकिस्तानी औरतें

“मुझसे लोगों ने कहा कि बच्चों को इस दुनिया में आने से रोकना पाप है.”

समीना का गांव पाकिस्तान में सिंध के दक्षिणी हिस्से में है. पूरे पाकिस्तान से कटा हुआ. गांव में 1500 लोग रहते हैं. गांव इतना गरीब है कि अधिकांश औरतों का जीवन खेतों में मर्दों का हाथ बटाते, बकरियां पालते, या रुई बटोरते बीत जाता है. इस इस गरीबी में बढ़ती जनसंख्या इसे और गरीब बनाती है.

पाकिस्तानी अखबार द गार्डियन के मुताबिक़, 25 साल की समीना ने गांव का ख़याल रखने का जिम्मा अपने कन्धों पर लिया है. वो घर-घर जाकर कॉन्डम, गर्भ निरोधक गोलियां, और गर्भ रोकने के साधन के मुफ्त सैंपल बांटती है. रोज सुबह 8 बजे काम में जुट जाती है. और शाम 4 बजे फुर्सत पाती है.

समीना ‘Marginalised Area Reproductive Health Viable Initiative – Marvi’ की वर्कर हैं. ये संस्था सिंध में औरतों की बेहतरी के लिए काम करती है. इसमें कम पढ़ी लिखी, या अनपढ़ औरतें हैं. जो घर-घर जाकर लोगों को कम बच्चे पैदा करने का महत्व समझाती हैं. ये औरतें 18 से 40 की उम्र के बीच होती हैं.

पूरे एशिया में, जिन देशों में जन्म देते हुए सबसे ज्यादा औरतों की मौत होती है, पाकिस्तान उनमें से एक है. पाकिस्तान का बर्थ रेट दुनिया में छठे नंबर पर है.

पाकिस्तानी औरतें गर्भ निरोधक का उपयोग कम ही करती हैं. 15 से 49 की उम्र की औरतों में से केवल 35 फीसदी औरतें गर्भ निरोधक यूज करती हैं. शहरों में एक औसत औरत 3 से ज्यादा बच्चे पैदा करती है. गांव में 4 से ज्यादा.

“मैं उन्हें समझाती हूं, कि परिवार बड़ा होगा तो सबके पेट कैसे भरोगे? मेरी बात समझाने के लिए एक घर में 5-6 चक्कर लगाने पड़ते हैं.”

एक कॉण्ट्रासेप्टिव 5 रूपये में बिकता है. हर बिक्री पर इस औरतों को 3 रूपये मिलते हैं.

पाकिस्तान में गर्भ निरोधन धार्मिक मुद्दा बन जाता है. Marvi की औरतें मौलवियों के पास जाती हैं. उन्हें समझाती हैं कि फैमिली प्लानिंग क्यों जरूरी है. इसलिए Marvi की औरतें सबसे पह्के उन लोगों के पास जाती हैं समाज में चलती है. जैसे मौलवी और जमींदार. उन्हें कम बच्चे पैदा करने के फायदे बताती हैं.

“मौलवी भी हमारा साथ देते हैं. घर-घर जा कर कॉन्डम बेचने से रोकते नहीं. और मस्जिदों के लाउडस्पीकर पर ये नहीं कहते कि गर्भ को रोकना कोई गलत बात है. औरतों की दो प्रेगनेंसी के बीच फर्क हो, इस बात को भी मानते हैं. ऐसे लगभग 40 मौलवी देखे गए… लोगों की सोच खुली है. अब धीरे धीरे फैमिली प्लानिंग को लोग अपनाने लगे हैं.”

मुझे गर्व है कि मैं औरतों को क़ुरान और गर्भ रोकना, दोनों सिखाती हूं.

बीते दिनों पाकिस्तान में टीवी और रेडियो पर कॉन्डम और गर्भ रोकने वाले प्रोडक्ट्स पर बैन लगा दिया. ये कहते हुए कि इससे बच्चों के दिमाग पर बुरा असर पड़ता है. ऐसे समय पाकिस्तानी समाज को इन औरतों की पहले से ज्यादा जरूरत है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

DRS विवाद पर अब क्या बोल गए विराट कोहली?

DRS विवाद पर अब क्या बोल गए विराट कोहली?

'बाहरी लोग नहीं जानते.'

किसने सोचा था पुजारा-रहाणे के भविष्य पर ऐसा कुछ बोल देंगे विराट कोहली!

किसने सोचा था पुजारा-रहाणे के भविष्य पर ऐसा कुछ बोल देंगे विराट कोहली!

कोहली ने क्या कहा?

हार के बाद कोहली के किस फैसले पर भड़क उठे गावस्कर?

हार के बाद कोहली के किस फैसले पर भड़क उठे गावस्कर?

भारत का टेस्ट सीरीज जीतने का सपना टूटा.

इस खास कैटेगरी की कारों में अब 2 नहीं 6 एयरबैग लगाने होंगे

इस खास कैटेगरी की कारों में अब 2 नहीं 6 एयरबैग लगाने होंगे

नितिन गडकरी ने ट्वीट कर दी जानकारी.

विराट कोहली ने खुलकर बताया कौन है इस हार का जिम्मेदार!

विराट कोहली ने खुलकर बताया कौन है इस हार का जिम्मेदार!

डीन एल्गर ने भी कुछ कहा है.

CDS बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर क्रैश की जांच रिपोर्ट में सच सामने आ गया है

CDS बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर क्रैश की जांच रिपोर्ट में सच सामने आ गया है

फ्लाइड डेटा रिकॉर्डर और कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर के विश्लेषण से क्या पता चला?

टीम इंडिया की हार के बाद रोहित शर्मा क्यों ट्रेंड हुए?

टीम इंडिया की हार के बाद रोहित शर्मा क्यों ट्रेंड हुए?

शास्त्री के लिए क्या बातें हुईं?

विराट कोहली की हरकतें मैदान पर स्वीकार करने योग्य नहीं!

विराट कोहली की हरकतें मैदान पर स्वीकार करने योग्य नहीं!

BCCI के दबदबे के चलते बच जाते हैं कोहली?

जोकोविच अब तीन साल ऑस्ट्रेलियन ओपन नहीं खेल पाएंगे?

जोकोविच अब तीन साल ऑस्ट्रेलियन ओपन नहीं खेल पाएंगे?

दूसरी बार रद्द हुआ जोकोविच का वीजा.

हैकर्स Omicron नाम का ऐसे उठा रहे हैं फायदा

हैकर्स Omicron नाम का ऐसे उठा रहे हैं फायदा

साइबर ठगी के लिए नया हथियार बना ओमिक्रॉन न्यूज़.