Submit your post

Follow Us

'नसुड्डे नोएडा' में ना हो पावेगा अखिलेश-मोदी मिलन

अखिलेश यादव ने नोएडा-मेरठ एक्सप्रेसवे के उद्घाटन में न जाने का फैसला लिया है. उद्घाटन करने वाले हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. अगर उद्घाटन का वेन्यू नोएडा न होता तो हो सकता था देश के PM और UP के CM का मिलन.

क्या है कि नोएडा शहर और उत्तर प्रदेश के किसी भी CM की आज तक बनी नहीं. जो जो इस शहर में आया, उसकी कुर्सी छिन गई. इसलिए नोएडा अखिलेश के लिए बन गया नसुड्डा.

क्यों है नोएडा अपशकुनी:

1988: CM वीर बहादुर सिंह ने नोएडा का दौरा किया. कुछ दिनों बाद चली गई कुर्सी.
1989: ND तिवारी का पत्ता कटा
1995: इस बार थी पप्पा मुलायम सिंह यादव की बारी
1997: मायावती आयीं नोएडा. गिर गया साम्राज्य.
1999: कल्याण सिंह का नंबर लग गया
2011: अक्टूबर में नोएडा में एक स्कूल का उद्घाटन करने आयीं मायावती. 2012 में चुनाव हार गईं.

पापा दूध से जले तो बेटा छाछ फूंक-फूंक कर पीने लगा. अगस्त 2012 में अखिलेश यादव ने लखनऊ में बैठे-बैठे ही यमुना एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया. उसके अगले साल भी इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट का उद्घाटन घर से ही किया.

MODI AKHILESH

इस बार भी अखिलेश यादव घर में मूंगफली खाएंगे. और उद्घाटन के लिए जाएंगे पंचायती राज मिनिस्टर कैलाश यादव.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

भारतीय नौसेना के 21 जवान कोरोना से संक्रमित, बढ़ सकती है संख्या

ये जवान आईएनएस आंग्रे पर तैनात थे.

किस क्रिकेटर ने शोएब अख्तर की सबसे भद्दी बेज्जती की थी?

अख्तर को याद आया 2003 वर्ल्ड कप.

टीम इंडिया के इस मौजूदा खिलाड़ी की वजह से धोनी को 20 साल बाद आया गुस्सा!

धोनी ने गुस्से में कहा, 'मैं पागल हूं? 300 वनडे खेला हूं'

130 करोड़ हिन्दुस्तानियों के लिए छक्के पे छक्के क्यों खाना चाहते हैं शोएब अख्तर

सचिन के बारे में अख़्तर ऐसी बात बोल गए हैं जिसे हिन्दुस्तानी नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते.

हॉलीवुड एक्ट्रेस जैसी दिखने के लिए 'सर्जरी' कराने वाली इंस्टाग्राम स्टार को कोरोना हो गया है!

कभी ईरान की इंस्टाग्राम स्टार रहीं सहर तबर जेल में हैं.

अगर आपको भी लगता है कि गर्मी में कोरोना मर जाएगा तो ये रिसर्च पढ़िए

जितने में पानी खौल जाए, उससे कुछ कम तापमान तक सह लेता है कोरोना.

जब सौरव गांगुली के गॉडफादर ने बचाया शोएब अख्तर का करियर

ये 'उन' दिनों की बात है...

WWE ने अपने कई रेसलर्स को काम से निकाला, ट्विटर पर रो पड़े ड्रक मैवरिक

लॉकडाउन के बीच WWE के दर्शकों की संख्या घट गई है.

अस्पताल से भागकर कोरोना पॉजिटिव मरीज ने हंगामा किया, रस्सियों से बांधकर अंदर लाया गया

बताया जा रहा है कि शख्स की मानसिक हालत सही नहीं थी.

जिस फिल्म फेस्ट में जाने के लिए डायरेक्टर खतम हो जाते हैं, वो इस बार क्यों नहीं हो रहा?

जहां मिले स्टैंडिंग ओवेशन का ज़िक्र करके फिल्ममेकर बहुत इतराते हैं.