Submit your post

Follow Us

'आतिफ असलम ने जिस लड़की को बचाया उसका मोलेस्टेशन नहीं हुआ था'

अभी कोई हफ्ते पहले की बात है. खबर आई कि कराची में पाकिस्तानी सिंगर आतिफ असलम का कॉन्सर्ट चल रहा था. कुछ लड़के भीड़ की अगली लाइन में ही एक लड़की को दबोच रहे थे. आतिफ असलम ने देखा तो अपना शो रोक दिया और लड़की को उन लड़कों से बचा लिया. ये खबर सब जगह पब्लिश हुई. लेकिन ये आधा सच है. जिस लड़के पर ये इल्ज़ाम लगा, उस लड़के से ‘डेली पाकिस्तान’ ने बातचीत की और नाम न छापने की शर्त पर बताया कि जैसा अक्सर होता है. लड़के लड़की के मामले में लोग बिना सच जाने लड़के को ही गलत मान लेते हैं वैसे ही मेरे साथ हुआ. जबकि असल विक्टिम तो मैं हूं वो लड़की नहीं. मुझे मारा गया, पीटा गया, जबकि मैं तो अपनी ड्यूटी निभा रहा था. मैं तो खुद ही उस शो की सिक्योरिटी में ही लगा हुआ था.

मामला ये था कि पाकिस्तान में ‘कराची ईट 2017’ प्रोग्राम में आतिफ परफॉर्म कर रहे थे. ये इवेंट हर साल कराची में होता है. रात का वक्त था. करीब एक बजे आतिफ परफॉर्मेंस के लिए स्टेज पर पहुंचे थे. आतिफ ने गाना गाते हुए देखा कि पहली ही लाइन में खड़े कुछ लड़के एक लड़की को परेशान कर रहे हैं. उन्होंने शो को रोकने का इशारा किया. वो लड़की को दबोच रहे लोगों के पास आए और बोले, ‘क्या तुमने इससे पहले लड़की नहीं देखी है? इस जगह तुम्हारी मां या बहन भी हो सकती है.’

लड़की को परेशान कर रहे लड़कों ने वार्निंग दी तो आतिफ असलम ने लड़की को स्टेज पर बुला लिया. और आयोजकों से लड़की को किसी और जगह पर ले जाने को कहा. आतिफ असलम ने शो दोबारा शुरू करने से पहले लोगों को नसीहत की, ‘इंसान की औलाद बनो.’

सुनिए उस लड़के की, जिसपर इल्ज़ाम लगा

अब जो खबर है वो ये है कि ये उस घटना का एक पहलू था जो आतिफ असलम ने शो के दौरान देखा और उनके जरिये मीडिया ने लोगों को दिखाया. आतिफ असलम ने पूरी घटना नहीं जानी कि असल में वहां क्या हुआ? जिसपर मोलेस्टेशन करने का इल्ज़ाम लगा वो लड़का पाकिस्तान में IBA संस्थान स्टूडेंट है.

उसने बताया, ‘जो लोग इवेंट की सिक्योरिटी में लगे थे. उनमें से वो भी एक था. और मेरा काम था कि मैं VIP सेक्शन में किसी नॉन वीआईपी को न आने दूं. सिर्फ वैलिड टिकट वालों को ही आने दूं. मैंने देखा दो लड़कियां एक लड़के के साथ नॉन वीआईपी सेक्शन को क्रॉस करके पहली लाइन में आने की कोशिश कर रही हैं.उनके अलावा और लोग भी आगे आने के लिए धक्कामुक्की कर रहे थे. पहले ही आगे की लाइन में बहुत भीड़ थी और ये लोग पीछे से और धक्का दे रहे थे. मैं इन लोगों के पास पहुंचा और बहुत आराम से इनको पीछे होने के लिए बोला. मैंने उन लड़कियों से कहा अगर तुम्हारे पास VIP टिकट है तो आगे आ जाओ नहीं तो पीछे जाइए. उन्होंने इस बात से इंकार कर दिया और आगे आने की जिद पर अड़ गईं. उन्होंने धक्कामुक्की के दौरान मेरी गर्दन पर अपने नाखूनों से खुरेंचे लगा दीं. मेरे चेहरे पर थप्पड़ मारकर लोगों को मेरे खिलाफ भड़काने लगीं.’

लड़के का कहना है, ‘जब वो मेरे चेहरे को नोच रही थीं. और उनके साथ का लड़का मुझे मार रहा था. तभी आतिफ असलम की निगाह इस तरफ पड़ी. और उन्होंने ये जानने की कोशिश नहीं की कि सच क्या है. जब लड़का और लड़की का मामला होता है तो हमारी सोसाइटी में ये मैटर नहीं करता कि सच क्या है और झूठ क्या है. बस लड़के को ही गलत समझ लिया जाता है. जब आतिफ असलम ने उस लड़की को स्टेज पर बुला लिया तो हर किसी ने मुझे ही गलत समझ लिया. लोगों को लगा मैं लड़की को मोलेस्ट कर रहा था. और भीड़ ने मुझे पीटना शुरू कर दिया.’

आरोपी का कहना है, ‘मैं अपनी पूरी जिंदगी में इतना नहीं पिटा. जबकि मैं सिर्फ अपनी जॉब कर रहा था. असल में वो लड़कियां विक्टिम नहीं थीं बल्कि वो बहुत शातिर, हिंसक और रूड थीं. हर किसी ने मेरी स्टोरी सुनने से इंकार कर दिया. इस घटना को एक हफ्ता गुज़र चुका है. लेकिन मेरे चेहरे पर आज भी उनके नाखूनों के निशान मौजूद हैं. ये तो भर जाएंगे, लेकिन जो अंदरूनी घाव दिए गए हैं उनका भरना मुश्किल है, क्योंकि किसी ने मुझे मोलेस्टर कहा तो किसी ने रेपिस्ट. ये घाव बहुत गहरे हैं.’

डेली पाकिस्तान का कहना है कि ये सवाल मन में आना लाजिमी है कि ये लड़का अब तक कहां था, जो अब ये सफाई दे रहा है? लड़के का कहना है कि इंस्टिट्यूट में जांच पड़ताल की जा रही थी और उसे बाहर किसी से भी इस बारे में बात करने को मना किया गया था. मीडिया में कोई भी बयान देने पर पाबंदी लगाई गई थी.

सच क्या है इसका तो तभी पता चल सकता है जब ठीक से जांच पड़ताल की जाए. मगर लड़की का केस होने की वजह से लड़के के पॉइंट को भी इग्नोर नहीं किया जाना चाहिए, क्योंकि कहा गया कि लड़के ने लड़की को दबोचा था, जबकि वो लड़का खुद सिक्योरिटी टीम में शामिल था.

उस घटना का एक वीडियो यहां देख सकते हैं


 

पहले क्या खबर आई थी वो भी पढ़ लो

वीडियो: आतिफ असलम ने लड़की को यौन उत्पीड़न से बचाने के लिए क्या किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

पेड़ की टहनी हटाने के लिए आदमी नंगे पैर बिजली के तार पर चढ़ गया

विडियो वायरल है और डरावना भी.

नहीं रहे बासु चटर्जी, जिन्होंने 'चमेली की शादी', 'रजनीगंधा' जैसी शानदार फ़िल्में दी थीं

लोगों ने लिखा, 'बासु दा बहुत याद आओगे'.

अमेरिकी नस्लवाद पर आवाज़ उठाने वाले बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ को अभय देओल ने आईना दिखा दिया

बोले - रेसिज़्म पर आवाज़ उठाने वालों, पहले अपना आंगन तो देख लो.

केरल : गर्भवती हथिनी की मौत पर कुछ भी लिखने से पहले पूरा मामला जान लीजिए

फ़िलहाल सोशल मीडिया पर हथिनी को लेकर ढेरों बातें लिखी जा रही हैं.

गुजरात की केमिकल फैक्ट्री के टैंक में ब्लास्ट, आठ मज़दूरों की मौत हो गई

हादसे का कारण अभी तक पता नहीं चला.

चीन के साथ टेंशन में भारत ने इमरजेंसी हवाई पट्टी का निर्माण शुरू कर दिया!

वो भी 3.5 किलोमीटर लम्बी!

अक्षय के लिए ज़बरदस्त हिट गाना लिखने वाले लिरिसिस्ट नहीं रहे

“वादा रहा सनम, होंगे जुदा न हम.”

योगी और प्रियंका की बस वाली लड़ाई के बाद से यूपी कांग्रेस अध्यक्ष जेल में क्यों बंद?

अजय कुमार लल्लू की दो जमानत याचिका भी खारिज हो चुकी हैं.

डरावना! असम में तेल के कुएं से हफ्ते भर से गैस लीक हो रही, अब ब्लास्ट का ख़तरा

असम के तिनसुकिया जिले में है तेल का ये कुंआ.

इंग्लैंड छोड़ अब किस देश से खेलना चाहता है इंग्लैंड को वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाला प्लेयर?

'मौका मिलेगा तो छोड़ूंगा नहीं.'