Submit your post

Follow Us

मसूद अज़हर के अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित होने से भारत को क्या फर्क पड़ेगा?

1.41 K
शेयर्स

आखिरकार 1 मई, 2019 को आतंकवाद के खिलाफ भारत को एक बड़ी कामयाबी मिल ही गई. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भारत के सबसे बड़े खतरे मौलाना मसूद अज़हर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर ही दिया. इससे पहले भारत की ओर से मसूद अज़हर को कई बार अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने की कोशिश की गई थी, लेकिन हर बार चीन इसमें अडंगा लगाता रहता था.

भारत के लिए क्यों ज़रूरी थी ये घोषणा?

भारत के लिए फिलहाल सबसे बड़ा कोई खतरा है तो उसका नाम है मौलाना मसूद अज़हर. ये वही आतंकवादी है, जिसे छुड़ाने के लिए आतंकवादियों ने प्लेन तक को हाईजैक कर लिया था. मज़बूरी में भारत सरकार को इस आतंकी को छोड़ना पड़ा. उसके बाद से ही मसूद अज़हर भारत में कई आतंकी हमले करवा चुका है. संसद भवन पर हुए हमले से लेकर पठानकोट और पुलवामा हमले तक में मसूद अज़हर शामिल रहा है. अब जब सुरक्षा परिषद की ओर से मसूद अज़हर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया गया है, तो अब मसूद अज़हर पर पूरी दुनिया के देश ऐक्शन ले सकेंगे. मसूद अज़हर के साथ अब क्या-क्या हो सकता है, हम आपको बताते हैं-

मसूद अजहर जैश-ए-मोहम्मद का मुखिया है
मसूद अजहर जैश-ए-मोहम्मद का मुखिया है

# दुनियाभर के देशों में मसूद अज़हर की एंट्री पर बैन लग जाएगा.

# मसूद किसी भी देश में आर्थिक गतिविधियां नहीं चला पाएगा.

# संयुक्त राष्ट्र के सभी सदस्य देश मसूद के बैंक अकाउंट्स और प्रॉपर्टी को फ्रीज कर देंगे.

# मसूद से संबंधित व्यक्तियों या उसकी संस्थाओं को कोई मदद नहीं मिलेगी.

# पाकिस्तान को भी मसूद अजहर के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंध लगाने पड़ेंगे.

# बैन के बाद पाकिस्तान को मसूद अजहर के टेरर कैंप और उसके मदरसों को भी बंद करना पड़ेगा.

चीन चाहता, तो 2009 में ही हो गया होता फैसला

# भारत ने साल 2009 में ही मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करने का प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र संघ में दिया था. उस वक्त चीन ने अडंगा लगा दिया था.

# साल 2016 में भारत ने एक बार फिर अमेरिका, यूके और फ्रांस यानी पी-3 देशों के साथ मिलकर मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव दिया. प्रस्ताव में कहा गया कि जनवरी 2016 में पठानकोट एयरबेस पर हमले का मास्टरमाइंड अजहर ही था. पर चीन ने फिर रोड़ा लगा दिया.

# साल 2017 में पी-3 देशों ने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र में मसूद को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करने के लिए प्रस्ताव दिया. चीन ने फिर से इसे रोक दिया.

# 27 फरवरी, 2019 को एक बार फिर से फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका ने मसूद अज़हर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करने का प्रस्ताव रखा. समिति के सदस्यों को इस प्रस्ताव पर आपत्ति जताने के लिए 10 दिन का वक्त था. ये समय सीमा 13 मार्च, 2019 की रात 12.30 बजे खत्म हो रही थी. इससे पहले ही चीन ने प्रस्ताव को होल्ड कर दिया. चीन ने प्रस्ताव की समीक्षा और कुछ टाइम और देने की मांग की थी. चूंकि सुरक्षा परिषद को फैसला करने के लिए सभी सदस्य देशों की सहमति लेनी थी, लिहाजा उस वक्त मसूद अज़हर पर फैसला नहीं हो सका.

#  अब 1 मई, 2019 को चीन ने अपना होल्ट हटा लिया, जिसके बाद सुरक्षा परिषद ने मसूद अज़हर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करने का फैसला कर लिया.


 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Terrorist Masood Azhar is designated as a global terrorist by the United Nations Security Council after China lifted a hold

क्या चल रहा है?

प्रशांत कनौजिया को रिहा करने का फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार से क्या कहा?

गिरफ्तारी के तरीके पर सवाल उठाते हुए यूपी सरकार और पुलिस को फटकार लगाई गई है.

युवराज का करियर कमाल था, लेकिन ये पारी ऐसी थी जिसे वो भूल जाना चाहेंगे

उस मैच के बाद युवराज को लगा कि उनका करियर अब खत्म हो गया.

युवराज को लेकर ये बात हर नाखुश भारतीय के मन में थी, रोहित शर्मा ने कह डाली

युवराज ने जवाब तो छोटा सा दिया है, पर उसके मायने बहुत गहरे हैं.

अमिताभ बच्चन का ट्विटर अकाउंट हैक करने वाले बंदे ने एक बड़ी गलती कर डाली

अब लोगों की हंसी का कारण बना हुआ है.

पायल तड़वी केस: कोर्ट का आदेश सुनते ही तीनों आरोपी डॉक्टर्स रोने लगीं

आरोप है कि इन्हीं तीन की जातिगत टिप्पणियों और हरैसमेंट से तंग आकर पायल ने सुसाइड किया था.

क्या बीजेपी सांसद रेखा वर्मा ने सिपाही को थप्पड़ मारा?

केस दर्ज भी हो गया है.

बिहार के विधायकों का मणिपुर की लड़कियों के साथ वायरल डांस वीडियो की सच्चाई क्या है?

क्या विधायक सच में मस्ती करने गए थे मणिपुर...

13 साल पहले जिन मुलायम की वजह से रोए थे योगी, आज उन्हीं की सेहत देखने पहुंच गए

तब मुलायम सीएम थे, अब योगी आदित्यनाथ सीएम हैं.

डांस कर रही लड़कियों को बिना कपड़े नचाने वाले मामले में नई बात पता चली है

और ये ऐसी बात है, जिसे कोई भी खुलकर बोलने को तैयार नहीं है.

अब भोपाल में 9 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या, पुलिसवाले ने जो कहा सुनकर घिन आएगी

ऐसी घटनाओं का सिलिसला रुक ही नहीं रहा है.