Submit your post

Follow Us

लॉर्ड्स के मैदान पर कोहली की टीम इंडिया ने खराब खेल की नई इबारत लिखी है

260
शेयर्स

35.2 ओवर. इतने ही ओवर लगे इंडिया को ऑल आउट करने में. बारिश से बाधित लॉर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में इंडिया 107 रनों पर ऑल आउट हो गई है. ये इस क्रिकेट के मैदान में पिछले 100 सालों में दूसरी बार हुआ है.  इंडिया के अलावा इस मैदान पर किसी टेस्ट की पहली पारी में एक और टीम आउट हुई है. वो है जिम्बाब्वे. साल 2000 में जिम्बाब्वे 30.3 ओवरों में 83 के स्कोर पर ऑल आउट हुई थी. जब इंडिया किसी रिकॉर्ड के मामले में इस अफ्रीकन देश के सामने खड़ी हो जाए तो अंदाजा लगा लीजिए ये टीम इंडिया का कितना बुरा प्रदर्शन है.

 पिछले 100 सालों में लॉर्ड्स के मैदान पर पहली पारी में ये दूसरा सबसे छोटा स्कोर है. पहला जिम्बाब्वे (83), दूसरा इंडिया (107) तीसरा बांग्लादेश (108), चौथा ऑस्ट्रेलिया (190) और पांचवां इंग्लैंड (77) के नाम है. 

क्या आपको पता है कि टीम इंडिया का टेस्ट की एक पारी में सबसे कम स्कोर क्या है? ये ज्यादा नहीं, 42 है. अपनी टीम ने अपना सबसे छोटा स्कोर इसी मैदान पर बनाया था. 20 जून 1974 को टीम यहां 42 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई थी. ये मैच की तीसरी पारी थी जब इंडिया सिर्फ 17 ओवर खेल पाई थी. अजीत वाडेकर की कप्तानी में टीम खेल रही थी और टीम में गावस्कर से लेकर फारुख इंजीनियर, गुंडप्पा विश्वनाथ और बीपी पटेल सरीखे बल्लेबाज खेल रहे थे. मगर अंग्रेजी फास्ट बॉलिंग के आगे टीम टिक नहीं पाई. तेज गेंदबाज जॉफ अरनॉल्ड ने 4 और क्रिस ओल्ड ने 5 विकेट लेकर टीम की कमर तोड़ दी थी. वो मैच इंग्लैंड पारी और 285 रनों से जीत गया था.

Rahane out
रहाणे आउट होकर जाते हुए, जेम्स एंडरसन ने 5 विकेट लिए हैं.

अब आते हैं विराट कोहली की टीम के इन 107 रनों पर. टॉस जीतकर पहले इंग्लैंड ने बॉलिंग करने का फैसला किया. यहां जेम्स एंडरसन की गेंद हवा में काफी मूव हो रही थी. मगर टीम इंडिया की मजबूत बैटिंग लाइन जिस तरीके से ढह गई, लगा ही नहीं कि अपने बल्लेबाजों के पास बैटिंग स्किल्स हैं. पहले ही ओवर की 5वीं गेंद पर मुरली विजय बोल्ड हुए और फिर केएल राहुल 7वें ओवर में चलते बने. स्कोर अभी 10/2 था. बारिश के चलते मैच रुकता और शुरू होता रहा. फिर उम्मीद थी पुजारा से मगर कोहली के साथ ऐसा घालमेल हुआ कि 25 गेंद खेलने वाले पुजारा रन आउट हो गए. यहां पुजारा से ज्यादा गलती कोहली की थी, मगर गलती तो गलती है. फिर क्या था. टीम के सभी खिलाड़ी आया राम और गया राम हो गई.

यहां एक रिकॉर्ड और जान लीजिए. रिकॉर्ड ये कि आखिरी बार टीम के टॉप तीन खिलाड़ी दहाई का आंकड़ा साल 2015 में नहीं छू पाए थे. तब श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में खेलते हुए टीम की ये हालत हुई थी. और अब विजय (0), राहुल (8) और पुजारा (1) भी दहाई का आकंड़े छुए ही निकल लिए. इनके अलावा कोहली ने 23 रन, रहाणे ने 18, पंड्या ने 11, कार्तिक ने 1, अश्विन ने 29, कुलदीप ने 0, शमी ने 10 और ईशांत ने 0 रन बनाए.


Also Read

पुजारा को कोहली ने जिस तरह रन आउट करवाया, उससे बढ़िया तो उसे टीम में ही न लेते

क्या हैं लोढ़ा पैनल की सिफारिशें, जिनकी वजह से बीसीसीआई की मनमानियों पर लगाम लगने वाली है?

17 साल पहले भी लॉर्ड्स में पहले दिन बारिश हुई थी, फिर जो हुआ वो इंडिया के साथ न ही हो

अनुष्का शर्मा की फोटो पर बवाल करने वालो, ये भी तो जानो वो गईं क्यों थीं?

277 रन का ओपनिंग स्टैंड, पृथ्वी और मयंक की सलामी जोड़ी ने फिर कहर ढाया है

32 महीने से कब्जा जमाए बैठे स्मिथ को हटा विराट बने सबसे बड़े बल्लेबाज

टेस्ट मैच में 20 विकेट होते हैं, इस इंग्लिश खिलाड़ी ने अकेले 19 गिरा दिए थे

‘चक दे इंडिया’ वाली ‘राक्षसों की सेना’ आजकल कहां हैं!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

विधानसभा में पॉर्न देखते पकड़ाए थे, BJP ने उपमुख्यमंत्री बना दिया

और BJP ने देश में पॉर्न पर प्रतिबंध लगाया हुआ है.

आईफोन होने से इतनी बड़ी दिक्कत आएगी, ब्रिटेन में रहने वालों ने नहीं सोचा होगा

मामला ब्रेग्जिट से जुड़ा है. लोग फॉर्म नहीं भर पा रहे.

पूर्व CBI जज ने कहा, ज़मानत के लिए भाजपा नेता ने की थी 40 करोड़ की पेशकश

और अब भाजपा के "कुबेर" गहरा फंस चुके हैं.

आशीर्वाद मांगने पहुंचे खट्टर, आदमी ने खुद को आग लगा ली

दो बार मुख्यमंत्री से मिला, फिर भी नहीं लगी नौकरी.

नेटफ्लिक्स पर आने वाली शाहरुख़ की 'बार्ड ऑफ़ ब्लड' में कश्मीर क्यूं खचेर रहा है पाकिस्तान?

पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता के बयान पर सोशल मीडिया कहने लगा 'पीछे तो देखो'.

केरल बाढ़ के हीरो आईएएस कन्नन गोपीनाथन ने कश्मीर मसले पर नौकरी छोड़ते हुए ये बातें कही हैं

नौकरी छोड़ दी. अब न कोई सेविंग्स है, न ही रहने को अपना ख़ुद का घर.

धरती पर क्राइम तो रोज़ होते हैं, लेकिन पहली बार अंतरिक्ष में हुए क्राइम की खबर आई है

अंतरिक्ष में रहते क्राइम करने की बात चौंकाती है.

अरुण जेटली नहीं रहे, यूएई से पीएम मोदी ने कुछ यूं किया याद

गौतम गंभीर ने जेटली को पिता तुल्य बताया.

रफाल के अलावा फ्रांस से और क्या-क्या लाने वाले हैं पीएम मोदी?

इस बड़े मुद्दे पर भारत की तगड़ी मदद करने वाला है फ्रांस.

चंद्रमा पर पहुंचने वाला है चंद्रयान-2, कैसे करेगा काम?

चंद्रयान के एक-एक दिन का हिसाब दे दिया है