Submit your post

Follow Us

अफगानिस्तान: तालिबान ने बामियान में अब किस चर्चित शख्स की प्रतिमा गिरा दी?

अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद तालिबान ने बामियान में एक और प्रतिमा को गिरा दिया है. खबर है कि अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में काबिज होते ही तालिबान ने बामियान शहर में लगा अब्दुल अली मजारी का स्टैचू गिरा दिया. इस हरकत ने बामियान में ही तालिबान द्वारा बुद्ध की विशाल प्रतिमा गिराए जाने की घटना की याद ताजा कर दी है. तब पूरी दुनिया में तालिबान की आलोचना हुई थी. अब अब्दुल अली मजारी की प्रतिमा गिराने की घटना क्यों अहम है, ये समझने के लिए हमें मजारी के बारे में जानना होगा.

हज़ारा समुदाय और अब्दुल मजारी

अफगानिस्तान का एक समुदाय है- हज़ारा. इस समुदाय के लोग मुख्य तौर पर मध्य अफगानिस्तान के इलाकों में रहते हैं. जैसे- बामियान, दायकुंदी. हज़ारा अफगानिस्तान की तीसरी सबसे बड़ी आबादी है. यहां की कुल आबादी में करीब 20 फीसदी हिस्सा हज़ारा समुदाय का है.

तालिबान और हज़ारा का एक लंबा इतिहास रहा है. इसके मूल में है धार्मिक भेदभाव. हज़ारा लोग अनुयायी होते हैं शिया इस्लाम के. इस वजह से जब पिछली बार अफगानिस्तान में तालिबानी शासन था, तो हज़ारा समुदाय पर अत्याचार की तमाम ख़बरें आई थीं.

अब्दुल अली मजारी हज़ारा समुदाय के ही नेता थे. जबसे अफगानिस्तान में तालिबान पनपना शुरू हुआ था, तबसे इसका विरोध करने वालों में मजारी प्रमुख रहे थे. उन्हें इसकी कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी थी.

1995 में मुल्ला बुरजान की अगुवाई में तालिबान के एक दल ने अब्दुल अली मजारी और उनके समर्थकों को वार्ता के लिए बुलाया. मजारी के साथ 8 लोग गए. काबुल के पास मुलाकात तय हुई. बातचीत के लिए 12 मार्च 1995 की तारीख़ तय हुई थी. लेकिन वार्ता के नाम पर बुलाकर तालिबान ने मजारी और उनके दल के हर सदस्य की हत्या कर दी. बाद में कहा कि पहला हमला मजारी के समर्थकों ने किया था, इसीलिए उन्हें मारा गया. ये अफगानिस्तान के इतिहास की बड़ी घटना मानी जाती है.

बाद में जब अफगानिस्तान में अशरफ गनी की सरकार आई तो मजारी को तालिबानी क्रूरता के विरोध का प्रतीक मानते हुए बामियान में उनका बड़ा स्टैचू लगवाया गया. 2016 में उन्हें शहीद का दर्जा दिया गया. लेकिन अब तालिबान एक बार फिर ताकत हासिल कर अफगानिस्तान का सिरमौर बन चुका है. इसलिए उसके लड़ाकों ने बामियान में लगा मजारी का स्टैचू गिरा दिया.

बुद्ध की भी प्रतिमा गिराई थी

ये पहला मौका नहीं है जब तालिबान ने कोई चर्चित या ऐतिहासिक प्रतिमा गिराकर अपना संदेश दिया है. इससे पहले 2001 में बामियान में ही भगवान बुद्ध की भव्य प्रतिमा को तालिबान ने गिरा दिया था. उस वक्त BBC ने अपनी एक रिपोर्ट में बामियान के रहने वाले लोगों के हवाले से बताया था कि किस तरह तालिबान इस एक प्रतिमा को नुकसान पहुंचाने के मकसद से वहां आया था. रिपोर्ट में कहा गया था,

“तालिबान (के आतंकी) ट्रकों में भरकर विस्फोटक लाए थे. उन लोगों को प्रतिमा के चारों ओर विस्फोटक लगाने में तीन दिन लगे. और फिर भयानक विस्फोट किया गया.”

कहा जाता है कि ‘बामियान के बुद्ध’ की प्रतिमा गिराए जाने के साथ भारत-अफगानिस्तान संबंधों का सबसे बड़ा लिंक भी टूट गया था. हाल के सालों में दोनों देशों के संबंधों को फिर से बहाल करने की कई बड़ी कोशिशें हुईं. भारत अफगानिस्तान के विकास में बड़ी भूमिका निभा रहा था. अब तालिबान की वापसी के बाद अच्छे संबंधों की तमाम संभावनाएं धुंधली होती दिख रही हैं.


अफ़ग़ानिस्तान में मुस्लिमों के शरिया कानून का हवाला देकर कैसे धोखा देता रहा तालिबान?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

LIC पॉलिसी से PAN नंबर लिंक नहीं है, ये बड़ा नुकसान होगा!

LIC पॉलिसी से PAN नंबर लिंक नहीं है, ये बड़ा नुकसान होगा!

लिंक करने का पूरा प्रोसेस बता रहे हैं, जान लीजिए.

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

सपा ने ट्वीट कर कहा- 2022 में मिलकर करेंगे बीजेपी को साफ़!

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

थाने के मालखाने से 25 लाख चोरी के आरोप में पुलिस ने पकड़ा था सफाईकर्मी को.

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कभी खत्म न होने वाली कहानी न बन जाए ये जांच.

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.