Submit your post

Follow Us

यूपी सरकार पर क्यों भड़क गए सुरेश रैना?

टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी सुरेश रैना (Suresh Raina) ने उत्तर प्रदेश सरकार को पुराना वादा याद दिलाया है. सुरेश रैना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी से पूछा है कि गाज़ियाबाद में स्टेडियम कब बनेगा? कब सरकार अपना वादा पूरा करेगी. साथ ही रैना ने ये भी कहा है कि 2015 में गाजियाबाद ने इंटरनेशनल स्टेडियम के सपने देखे थे. लेकिन अभी भी सिर्फ जमीन ही जमीन दिखाई देती है. रैना के ट्वीट पर शलभ मणि त्रिपाठी ने आश्वासन दिया है कि जल्द ही गाज़ियाबाद में स्टेडियम बनेगा.

बता दें कि शलभ मणि त्रिपाठी देवरिया गए हुए थे. जहां उन्होंने नौजवान खिलाड़ियों से मुलाक़ात की. और देवरिया में प्रस्तावित स्टेडियम पर चर्चा की. अपने ट्विटर अकाउंट पर देवरिया दौरे की तस्वीर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा,

‘क्रिकेट के क्षेत्र में देवरिया का नाम रोशन करने की कोशिश कर रहे नौजवान साथियों से भुजौली स्थित प्रस्तावित स्टेडियम में आज मुलाक़ात हुई. उनका उत्साहवर्धन किया. सभी के प्रयासों से यह स्टेडियम देवरिया में खिलाड़ियों की फ़ैक्टरी बन सकता है. शुभकामनाएं.’

शलभ मणि त्रिपाठी के इस ट्वीट पर सुरेश रैना ने सवाल करते हुए लिखा,

‘गाज़ियाबाद कब होगा सर?’

रैना के इस सवाल पर शलभ मणि त्रिपाठी ने जवाब दिया,

‘ आपने कहा है तो पुरज़ोर प्रयास होगा, आप यूपी के गौरव हैं सुरेश रैना जी. शुभकामनाएं.’

इस पर रैना ने फिर सवाल दागते हुए कहा,

‘ये स्थिति है. 2015 में गाज़ियाबाद ने अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के सपने देखे थे.अभी भी सिर्फ जमीन ही जमीन दिखाई देती है. कृपया राज्य सरकार संज्ञान ले.’

बता दें कि गाज़ियाबाद में प्रस्तावित क्रिकेट स्टेडियम का दो बार भूमि पूजन होने के बाद भी निर्माण नहीं शुरू हो पाया है. UPCA यानी उत्तर प्रदेश क्रिकेट असोसिएशन ने साल 2015 में गाज़ियाबाद इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम के निर्माण की योजना पर काम करना शुरू किया था. असोसिएशन की तरफ से जीडीए में जमा किये गए नक़्शे में लगभग 34 एकड़ जमीन में से 22 एकड़ जमीन पर स्टेडियम के निर्माण की बात शामिल थी. बची हुई जमीन पर फाइव स्टार होटल और बाकी चीजें बननी थी. जोकि अब तक नहीं बनी है. स्टेडियम बनाने की कुल लागत 600 करोड़ बताई गई थी.

# दो बार भूमि पूजन

दैनिक जागरण की एक रिपोर्ट के अनुसार जमीन खरीद में अब तक 80 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं. इतना ही नहीं, 28 जुलाई 2019 को लखनऊ में आयोजित इन्वेस्टर्स समिट कार्यक्रम में इसका दूसरी बार भूमि पूजन भी हुआ था. खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और गृह मंत्री अमित शाह ने भूमि पूजन किया था. योजना के छह साल बीत चुके हैं. और दूसरी बार भूमि पूजन हुए लगभग ढाई साल हो गए हैं. काम कुछ हुआ नहीं.  यही वजह है कि पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना के सब्र का बांध टूटा और वह सवाल करने लगे.

बता दें कि सुरेश रैना मुरादनगर, गाज़ियाबाद से ताल्लुक रखते हैं. सुरेश रैना भारत के लिए 226 वनडे खेल चुके हैं. इनमें उन्होंने पांच शतक और 36 अर्धशतक की मदद से 5615 रन बनाए हैं. इसके अलावा रैना ने 18 टेस्ट मैच में एक शतक और सात अर्धशतक की मदद से 768 रन भी बनाए थे. जबकि 78 T20I मैच में उनके नाम एक शतक और पांच अर्धशतक की मदद से 1605 रन हैं. सुरेश रैना ने 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था.


क्या पवन सहरावत को क़ाबू कर पाएगा पलटन का डिफेंस?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

वो पेरारिवलन, जिसने राजीव गांधी की हत्या में इस्तेमाल जैकेट के लिए बैटरी सप्लाई की थी

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

मामला सुप्रीम कोर्ट क्यों गया?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

ऑफर प्राइस से 8% नीचे लिस्ट हुआ देश का सबसे बड़ा IPO

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.