Submit your post

Follow Us

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

सुप्रीम कोर्ट ने विधायक और गैंगस्टर मुख़्तार अंसारी को पंजाब की जेल से यूपी भेजने का आदेश दिया है. पंजाब सरकार से कहा है कि दो सप्ताह में इस काम को पूरा कर ले. अंसारी को इलाहाबाद या बांदा किस जेल में शिफ्ट किया जाए, ये विशेष कोर्ट तय करेगी. यूपी सरकार रोपड़ की जेल में बंद मुख्तार अंसारी को राज्य में भेजे जाने की मांग लंबे समय से कर रही थी, लेकिन पंजाब सरकार हर बार मुख्तार की सेहत का हवाला देकर इनकार कर देती थी. पांच बार के विधायक मुख्तार अंसारी के मुकदमे और कस्टडी ट्रांसफर की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने अब ये फैसला सुनाया है.

पंजाब में क्यों बंद है मुख्तार?

पंजाब और दिल्ली-एनसीआर में रियल एस्टेट का काम करने वाले होमलैंड ग्रुप के सीईओ ने मोहाली पुलिस को शिकायत की थी कि 9 जनवरी 2019 को उनसे 10 करोड़ की रंगदारी मांगी गई. रंगदारी मांगने वाले ने अपना नाम यूपी का कोई अंसारी बताया था. पुलिस ने FIR दर्ज की, और आरोपी बनाया बांदा के पते पर रहने वाले मुख्तार अंसारी को. मुख्तार अंसारी उस समय बांदा की जेल में ही बंद था. पंजाब पुलिस केस दर्ज होने के 15 दिनों के भीतर प्रोडक्शन वारंट लेकर बांदा पहुंची, और मुख्तार को ले आई. तब से मुख्तार रोपड़ जेल में ही बंद है.

पांच बार विधायक रहे मुख्तार अंसारी पर उत्तर प्रदेश के मऊ, गाजीपुर और लखनऊ समेत कई जिलों में 38 मुकदमे दर्ज हैं. मुहमदाबाद थाने में उनकी हिस्ट्रीशीट खुली हुई है. 9 जुलाई 2018 को मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मुन्ना बजरंगी भी कृष्णानंद राय हत्याकांड में आरोपी था. उस समय मुन्ना बजरंगी को मुख्तार का खास शूटर माना जाता था. हालांकि बाद में दोनों के संबंध खराब हो गए. मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद अंसारी परिवार ने मुख्तार की जान के लिए खतरा बताया और सुरक्षा की मांग की. लखनऊ और गाजीपुर में इस तरह की बातें चलती हैं कि मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के बाद ही मुख्तार को पंजाब शिफ्ट करने का प्लान बना.

यूपी सरकार क्यों लाना चाहती है?

यूपी की मऊ सीट से विधायक मुख्तार अंसारी के रोपड़ जेल में बंद होने के बाद से ही यूपी सरकार उसे वापस अपने यहां लाने की कोशिश कर रही थी. सरकार का कहना था कि मुख्तार पर पंजाब से ज्यादा यूपी में मामले चल रहे हैं. ऐसे में उसे यूपी में शिफ्ट किया जाना चाहिए.

पंजाब सरकार ने इनकार कर दिया. जब कई बार ऐसा हुआ तो उत्तर प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर मुख्तार की कस्टडी मांगी. सुनवाई के दौरान UP सरकार ने कहा कि अंसारी पर 15 केस दर्ज हैं. वह गैंगस्टर की श्रेणी में आता है. उसके न आने से उत्तर प्रदेश की अदालतों में उसके खिलाफ सुनवाई रुकी हुई है. इस पर 11 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब सरकार और मुख्तार अंसारी से जवाब मांगा. साथ में मुख्तार की मेडिकल रिपोर्ट भी मांगी.

पंजाब क्यों नहीं भेजना चाहता?

पंजाब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया. जेल अधीक्षक के हवाले से कहा कि मुख्तार हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, डिप्रेशन, पीठ दर्द और स्किन एलर्जी से पीड़ित हैं. उसे ट्रांसफर नहीं किया जा सकता. पंजाब सरकार ने ये भी कहा कि मुख्तार अंसारी को यूपी से दूर रखने के लिए कोई साजिश नहीं है.

केस की सुनवाई के दौरान पंजाब सरकार के वकील दुष्यंत दवे ने दलील दी थी कि यूपी सरकार की मांग संवैधानिक प्रावधानों के खिलाफ है. यूपी की याचिका संविधान के अनुच्छेद 32 के तहत मेंटेनेबल नहीं है. न्यायपालिका के सिद्धांतों का उल्लंघन करती है. अगर इसे माना गया तो भविष्य में ऐसे मुकदमों की बाढ़ आ जाएगी. ऐसे में इसे खारिज किया जाए.

दुष्यंत दवे ने सुनवाई में कहा था कि यूपी सरकार इस मामले में पंजाब सरकार को कटघरे में खड़ा कर रही है. मुख्तार अंसारी के बारे में जो बातें पंजाब सरकार को लेकर यूपी ने कही हैं, वो पूरी तरह निराधार हैं. मुख्तार अंसारी पंजाब सरकार के लिए भी अपराधी है. हम विशेषज्ञ डॉक्टरों की रिपोर्ट के आधार पर मुख्तार को यूपी भेजने का विरोध कर रहे हैं.

यूपी सरकार की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने जवाब में कहा था कि मुख्तार के वकील कह रहे हैं कि केस के लिए उन्हें यूपी भेजना जरूरी नहीं है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ट्रायल करवा दिया जाए. अगर ऐसा है तो विजय माल्या को भी भारत लाने की ज़रूरत नहीं. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ही उनकी भी पेशी करवा दी जाए.

पंजाब पर संरक्षण देने का आरोप

इस बीच, बीजेपी ने आरोप लगाया कि पंजाब सरकार जानबूझकर मुख्तार को संरक्षण दे रही है, और यूपी नहीं भेज रही है. गाजीपुर से बीजेपी विधायक अलका राय ने 2 फरवरी को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को चिट्ठी लिखकर कहा था कि आपकी सरकार एक हत्यारे को क्यों बचा रही है? उनका आरोप था कि पंजाब सरकार ने मेरे पति कृष्णानंद राय के हत्यारे मुख्तार और उसके बेटे को राज्य अतिथि के रूप में शरण दी है.

बहरहाल, अब सुप्रीम कोर्ट ने यूपी की याचिका स्वीकार कर ली है. मुख्तार को यूपी जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया है.


हिस्ट्रीशीटर मुख्तार अंसारी को लेकर UP और पंजाब पुलिस में क्या लफड़ा हो गया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

तस्वीरों में देखिए किसानों के भारत बंद का कहां कितना असर

आंदोलन के चार महीने पूरे होने पर संयुक्त किसान मोर्चा ने 12 घंटे का भारत बंद बुलाया है.

साइरस मिस्त्री की टाटा बाय बाय पर सुप्रीम कोर्ट ने मुहर लगा दी है

2016 से चला आ रहा वो पूरा झगड़ा जान लीजिए, जिसमें टाटा कंपनी को जीत मिली है.

यूपी: उन्नाव में वकीलों पर बड़ा आरोप- कोर्ट में जज को दौड़ाया, लात-घूंसों से मारा

जज ने पुलिस में शिकायत दी, वकील हड़ताल पर चले गए

मुंबई के कोविड हॉस्पिटल में आग से 10 की मौत, मेयर ने कहा- पहली बार देखा मॉल में अस्पताल

ऐसा क्या हुआ था कि मॉल में अस्पताल खोलना पड़ा?

उद्धव सरकार की मुसीबत बढ़ाने वाली रश्मि शुक्ला पर गाज गिराने की तैयारी हो गई है!

महाराष्ट्र के चीफ सेक्रेटरी ने रश्मि शुक्ला के खिलाफ जो रिपोर्ट दी है, उसमें क्या है?

किसानों का 12 घंटे का भारत बंद शुरू, सड़कों-पटरियों पर बैठे प्रदर्शनकारी

जानिए क्या-क्या बंद रह सकता है?

पंजाब के तरनतारन में विशाल मेगा मार्ट में गोलीबारी, 20-25 लोग घुसे और मचा दिया कोहराम

तरनतारन के एसएसपी के घर के नज़दीक हुई है ये घटना.

यूपी : तीन साल पहले परीक्षा हुई, रिज़ल्ट आया, मंत्री की शिकायत के बाद कैंसिल कर दी गई

क्या धांधली पकड़ी गई थी इस परीक्षा में?

एंटीलिया केस: सचिन वाझे ने कोर्ट से कहा, 'मुझे बलि का बकरा बनाया जा रहा है'

अदालत ने वाझे की कस्टडी 3 अप्रैल तक बढ़ाई.

कोरोना की ये रिपोर्ट सच निकल गई तो 100 दिन में फिर 2020 जैसा बुरा हाल हो जाएगा

हर दिन 50 हजार से ज्यादा मामले आ रहे हैं.