Submit your post

Follow Us

सुप्रीम कोर्ट ने ग्रेजुएट चपरासी की नियुक्ति रद्द किए जाने को किस आधार पर सही ठहराया

सुप्रीम कोर्ट ने ग्रेजुएट होने की बात छुपाकर पंजाब नेशनल बैंक में चपरासी के पद पर भर्ती होने वाले शख्स की बर्खास्तगी को बरकरार रखा है. साथ ही इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने उड़ीसा हाई कोर्ट के पहले के दो आदेशों को दरकिनार कर दिया है. हाई कोर्ट ने अपने फैसले में बैंक के इस चपरासी की सेवाएं जारी रखने का आदेश दिया था. साथ ही कहा था कि अभ्यर्थी को इस आधार पर उसके पद से वंचित नहीं किया जा सकता है कि उसकी योग्यता ज्यादा है.

क्या है पूरा मामला

पंजाब नेशनल बैंक. देश का जाना-माना बैंक. इस बैंक ने साल 2016 में चपरासी पद की नौकरी के लिए वैकेंसी निकाली थी. इसके लिए विज्ञापन जारी किया गया था. विज्ञापन में लिखा था कि चपरासी पद के लिए आवेदन करने वाला व्यक्ति ग्रेजुएट नहीं होना चाहिए. बस उसे अंग्रेजी पढ़ने-लिखने आती हो और साथ ही 12वीं पास या उसके समकक्ष पढ़ाई करने वाले इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इस पद पर कई लोगों की नियुक्ति हुई. उसमें से एक थे अमित कुमार दास. बैंक ने अमित की नियुक्ति यह कहते हुए रद्द कर दी कि वह ग्रेजुएट हैं. यानी चपरासी पद के लिए जितनी योग्यता मांगी गई थी, अमित उससे अधिक योग्यता रखते हैं. बैंक का कहना है कि यह बात अमित ने छुपाई थी.

इसके खिलाफ अमित ने उड़ीस हाई कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी. अर्जी में लिखा था कि अधिक योग्यता के आधार पर नियुक्ति रद्द करना गलत है, उन्हें चपरासी की नौकरी वापस दी जाए. हाई कोर्ट ने भी अमित की बातों को सही कहा था. हाईकोर्ट ने 3 अक्टूबर, 2016 को अपने फैसले में कहा था कि अधिक योग्यता से नियुक्ति रद्द नहीं होती, अमित इस पद पर बने रहेंगे. लेकिन बैंक ने बर्खास्तगी का फैसला बरकरार रखा था. इसके खिलाफ अमित दास ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. इसी पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया है.

सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

जस्टिस अशोक भूषण, आर. सुभाष रेड्डी और एम.आर. शाह की बेंच ने अमित की सेवाएं समाप्त करने के पंजाब नेशनल बैंक के आदेश को बरकरार रखते हुए कहा-

“महत्वपूर्ण जानकारी छिपाने या गलत जानकारी देने वाला अभ्यर्थी सेवा में बने रहने का दावा नहीं कर सकता है. अमित ने योग्यता को चुनौती देने की बजाय अपनी योग्यता छिपाते हुए नौकरी के लिये आवेदन किया था. उसे चपरासी के पद पर अपना काम करते रहने का निर्देश देकर उच्च न्यायालय ने भी गलती की. जानकारी छुपाने और गलत जानकारी देने से कर्मचारी के चरित्र पर भी प्रभाव पड़ता है.”

कोर्ट ने आगे कहा-

“किसी पद के लिए शैक्षिक योग्यता उस संस्था या उद्योग की जरूरतों और हितों को देखते हुए तय की जाती है. इन योग्यताओं को तय करने का काम कोर्ट का नहीं है.”

जस्टिस अशोक भूषण ने कहा-

“अमित ने चपरासी के पद के लिये आवेदन किया, लेकिन इसमें यह जानकारी नहीं दी कि उसने 2014 में ही ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल कर ली थी. उसने सिर्फ 12वीं पास होने का ही जिक्र किया था. उसके इस शरारतपूर्ण कृत्य से एक अन्य योग्य व्यक्ति को नौकरी नहीं मिल सकी.”


(ये स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहे बृज द्विवेदी ने लिखी है)


वीडियो देखें: अटॉर्नी जनरल ने मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के किस फैसले पर टिप्पणी करते हुए ‘फिल्मी’ कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने पर हंगामा हुआ तो पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

मंदिर में नमाज पढ़ने पर क्या कहा, ये भी जान लीजिए

तुर्की और ग्रीस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, 19 की मौत, 700 से अधिक घायल

इस भूकंप के कारण सुनामी भी आई.

कॉलेज से लौटती लड़की को सरेआम गोली मारी, परिवार ने 'लव जिहाद' का आरोप लगाया

दोनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

ऑस्ट्रेलिया टूर की टीम से क्यों बाहर हुए रोहित शर्मा?

अनाउंस हुई टीम इंडिया, मिला नया उपकप्तान.

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

मामला 21 साल पुराना है.

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.