Submit your post

Follow Us

मयंक और शुभमन ने मार-मार के भूसा भर दिया, दूसरी टीम मिलके उतने रन न बना सकी

5
शेयर्स

साल 2018 के अंडर-19 वर्ल्ड कप में बेस्ट प्लेयर चुने गए थे शुभमन गिल. डोमेस्टिक क्रिकेट में रन मशीन के नाम से बुलाए जाते हैं. लोग दूसरा विराट कोहली बताते हैं. अपने बड़े स्कोर्स के लिए मशहूर गिल ने 1 नवंबर को भी ऐसा ही कुछ किया. देवधर ट्रॉफी में इंडिया C को लीड करते हुए शुभमन ने 142 बॉल्स पर 143 रन की बड़ी पारी खेली. इस दौरान उन्होंने 10 चौके और छह छक्के जडे़.

शुभमन ने रांची के JSCA इंटरनेशनल कॉम्प्लेक्स में चल रहे इस मैच में इंडिया A के खिलाफ यह पारी खेली. यह पंजाब के इस ओपनर का अब तक का सबसे बड़ा लिस्ट A स्कोर भी है. इससे पहले उन्होंने 2018 विजय हज़ारे ट्रॉफी में कर्नाटक के खिलाफ 123 रन की नॉटआउट पारी खेली थी.

गिल के अलावा मयंक अग्रवाल ने भी शानदार सेंचुरी जड़ी. अग्रवाल ने 111 गेंदों पर 120 रन बनाए. गिल और अग्रवाल ने मिलकर पहले विकेट के लिए 38.3 ओवर्स में 226 रन जोड़ डाले. इसके बाद चौथे नंबर पर आए सूर्यकुमार यादव ने महज 29 बॉल्स में 72 रन पीट डाले.

इनकी पारियों के दम पर इंडिया C ने 50 ओवर्स में 366 रन बना दिए. जवाब में खेलने उतरी इंडिया A ने जलज सक्सेना की बॉलिंग के आगे सरेंडर कर दिया. जलज ने सिर्फ 41 रन देकर सात विकेट झटक लिए और इंडिया A महज 134 रन पर सिमट गई.

गिल ने इसी सितंबर में साउथ अफ्रीका A के खिलाफ अनऑफिशल क्रिकेट टेस्ट में भारत A को लीड किया था. बेहतरीन फॉर्म में चल रहे गिल ने इस सीरीज के पहले और दूसरे टेस्ट की पहली पारियों में 90 और 92 रन बनाए थे.

इससे पहले अगस्त में उन्होंने वेस्ट इंडीज A के खिलाफ शानदार डबल सेंचुरी जड़ी थी. इसी साल उन्हें पहली बार टीम इंडिया के लिए भी बुलाया गया था. हालांकि वह अभी तक अपना डेब्यू नहीं कर पाए हैं.


बांग्लादेश के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करेगी टीम इंडिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नागरिकता कानून में हुए संशोधन पर संविधान एक्सपर्ट्स का क्या कहना है?

एक्सपर्ट्स का दावा, ये संशोधन संविधान के आर्टिकल 14, 5 और 11 का उल्लंघन है.

पासपोर्ट पर कमल छाप तो दिया लेकिन सरकार खुद इसे राष्ट्रीय फूल नहीं मानती

बवाल मचा तो सरकार ने कहा था राष्ट्रीय प्रतीकों को छाप रहे हैं.

16 दिसंबर को इस वजह से नहीं होगी निर्भया के चारों दोषियों को फांसी

सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद ही डेथ वारंट पर फैसला होगा.

CAB विरोध: असम में पुलिस की फायरिंग से दो की मौत, कर्फ़्यू मान नहीं रही है भीड़

तीन BJP विधायकों के घर पर हमला. मेघालय के भी कुछ इलाकों में कर्फ़्यू. तीन राज्य में इंटरनेट बंद.

नागरिकता संशोधन बिल पास होने पर IPS ऑफिसर ने विरोध में इस्तीफा दिया

उन्होंने कहा, 'ये बिल देश को बांटने वाला है.'

कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में BJP का क्या हुआ?

BJP सरकार बनी रहेगी या जाएगी?

मोदी सरकार के इस कदम से घरेलू इंडस्ट्री चमक सकती है, पर रिस्क भी बहुत बड़ी है

सरकार नई नौकरियों का दावा कर रही. पर आंकड़ा किसी को नहीं पता.

अगर संसद में ये बिल पास हो गया तो एक ही तमंचे पर डिस्को हो पाएगा

वैसे नए कानून के मुताबिक, तमंचे पर डिस्को करने पर भी 2 साल की सज़ा हो सकती है.

तेलंगाना पुलिस ने खुद बताई एनकाउंटर के पीछे की पूरी कहानी

'आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीनकर फायरिंग की'.

हैदराबाद डॉक्टर रेप केस: चारों आरोपी पुलिस एनकाउंटर में मारे गए

उसी जगह मारे गए, जहां रेप किया. पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने उनपर हमला करके भागने की कोशिश की.