Submit your post

Follow Us

चाइना ओपनः इन भारतीय प्लेयर्स ने दुनिया की नंबर एक जोड़ी के पसीने छुटा दिए

सात्विक साइराज रैंकिरेड्डी और चिराग शेट्टी. पिछले कुछ वक्त से भारतीय बैडमिंटन के सबसे सफल नाम. वर्ल्ड रैंकिंग में अपने से ऊपर के प्लेयर्स को रेगुलर अंतराल में हराने वाले. इन दोनों को लगातार दूसरे टूर्नामेंट में वर्ल्ड नंबर-1 जोड़ी के हाथों हार का सामना करना पड़ा.

9 नवंबर को हुए चाइना ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के सेमी-फाइनल में इन दोनों को इंडोनेशियन जोड़ी मार्कस फर्नाल्डी गिडियन और केविन संजया सुकामुजो ने सीधे सेटों में मात दी. कुल 40 मिनट तक चले इस मुकाबले को इंडोनेशियन जोड़ी ने 21-16, 22-20 से जीता.

#जीत का इंतजार

इस टूर्नामेंट को लगातार तीन बार जीत चुके मार्कस और केविन चार साल में यहां एक भी मैच नहीं हारे हैं. इन दोनों ने पिछले ही महीने फ्रेंच ओपन के फाइनल में भी भारतीय जोड़ी को मात दी थी. अब सात्विक और चिराग लगातार 8 बार इन दोनों से हार चुके हैं.

भारतीय जोड़ी ने वर्ल्ड नंबर-3 लि जुन हुइ और लिउ यु चेन को हराकर सेमी-फाइनल में एंट्री की थी. उससे पहले के मैच में इन्होंने वर्ल्ड रैंकिंग में छठे नंबर पर मौजूद जापान के हिरोयुकी इंडो और युता वातानाबे को मात दी थी.

इस मैच की बात करें तो पहले दोनों सेट में भारतीय जोड़ी ने अच्छी शुरुआत की लेकिन लॉन्ग रन में उसका फायदा नहीं उठा पाए. पहले सेट में एक-एक पॉइंट के लिए गज़ब की फाइट हुई. हालांकि भारतीय जोड़ी यहां बहुत देर तक नहीं टिक पाई और जल्दी ही पहला सेट 21-16 से गंवा दिया.

#कमाल का मैच

दूसरे सेट के पहले पांच पॉइंट्स के दौरान भारतीय जोड़ी लीड लेती गई और इंडोनेशियन जोड़ी ने स्कोर बराबर करना जारी रखा. इसके बाद पहली बार इंडोनेशियन जोड़ी को लीड लेने का मौका मिला और स्कोर 6-5 हुआ लेकिन यहां से सात्विक-चिराग ने लगातार दो पॉइंट बनाकर एक बार फिर से स्कोर 7-6 से अपनी तरफ किया. लेकिन इंडोनेशियन जोड़ी इतनी आसानी से झुकने वाली नहीं थी. 8-6 के स्कोर पर उन्होंने लगातार दो पॉइंट खींचे और स्कोर फिर 8-8 से बराबर हो गया.

लगातार सात बार इनसे हार चुके सात्विक-चिराग भी इस मैच को अपने हाथ से जाने देने के पक्ष में नहीं थे. उन्होंने फिर से अपना गेम उठाया और लगातार दो पॉइंट्स बनाकर स्कोर 10-8 किया. यह दोनों पॉइंट्स सात्विक की बदौलत आए. पहला पॉइंट तो उन्होंने एक करारे स्मैश के जरिए बनाया और फिर दूसरे पॉइंट के लिए जबरदस्त डिफेंस का प्रदर्शन किया. इसके बाद इंडोनेशियन जोड़ी ने मैच में अपना पूरा अनुभव झोंक दिया और लगातार 3 पॉइंट्स बनाकर 11-10 की लीड ले ली.

इसी स्कोर पर इंटरवल हो गया. इंटरवल के बाद इंडोनेशियन जोड़ी ने एक पॉइंट बनाकर अपने इरादे दिखाए लेकिन सात्विक-चिराग की जोड़ी ने तुरंत ही लगातार 3 पॉइंट्स लेकर पलटवार किया. अब स्कोर 12-13 से भारत के पक्ष में था. फिर दोनों जोड़ियों ने मैच को अपनी तरफ खींचने की कोशिशें जारी रखीं और एक-एक पॉइंट के लिए जमकर मेहनत की. अगले कुछ मिनटों में इंडोनेशियन जोड़ी ने 2 पॉइंट बनाए और जवाब में भारतीय जोड़ी ने 3.

#अनुभव की कमी

स्कोर अब 16-14 से भारतीय जोड़ी की तरफ था. यहां भारतीय जोड़ी ने शटल को बाहर मार इंडोनेशियन जोड़ी को एक पॉइंट गिफ्ट कर दिया. स्कोर 16-15 होने के बाद दोनों ही जोड़ियों ने 1-1 पॉइंट बनाया. इंडोनेशियन जोड़ी अब भी पीछे थी और भारतीय जोड़ी ने एक और पॉइंट खींच अपनी लीड दो पॉइंट्स की कर ली.

इसके बाद वर्ल्ड नंबर-1 इंडोनेशियन जोड़ी ने लगातार तीन पॉइंट बनाकर स्कोर 19-18 कर लिया. यहां सात्विक-चिराग की अनुभवहीनता साफ दिखी लेकिन फिर उन्होंने खुद को संभालकर एक पॉइंट बनाया. इसके बाद इंडोनेशियन जोड़ी ने तुरंत प्रहार कर स्कोर 20-19 कर लिया. इसके बाद लोगों को लगा कि मैच गया लेकिन सात्विक-चिराग के इरादे कुछ और ही थे.

उन्होंने एक पॉइंट बनाकर इंडोनेशियन जोड़ी पर थोड़ा दबाव बनाया लेकिन यह दबाव उन्हें सेट जिताने के लिए काफी नहीं था. इंडोनेशियन जोड़ी ने लगातार दो पॉइंट बनाकर लगातार चौथी बार चाइना ओपन के फाइनल में एंट्री कर ली. 40 मिनट तक चले इस मुकाबले को इंडोनेशियन जोड़ी ने 21-16, 22-20 से जीता.


सात्विकसाइराज रैंकिरेड्डी और चिराग शेट्टी : 1983 के बाद फ्रेंच ओपन में पहुंचने वाली पहली भारतीय जोड़ी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अमेरिकी कंपनी ने कोरोना की अंडर ट्रायल वैक्सीन का चूहे पर ट्रायल किया, तो क्या हुआ?

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.

लॉकडाउन 4: पर्सनल गाड़ी से शहर या राज्य के बाहर जाने के क्या नियम हैं?

केंद्र सरकार ने इस पर क्या कहा है?

कोरोना संक्रमण के बीच स्विगी ने बहुत बुरी खबर दी है

दो दिन पहले जोमैटो ने भी ऐसा ही ऐलान किया था.

ममता बनर्जी ने लॉकडाउन के नियमों में बहुत बड़ा बदलाव किया है

केंद्र सरकार की नई बात मानने से मना कर दिया!

लॉकडाउन 4.0: सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, जानें क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

31 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया गया है.

घर जाने को लेकर राजकोट में 500 मज़दूरों का सब्र जवाब दे गया, सड़क पर उतरे

हंगामे के बीच पुलिस घायल, किसी तरह शांत हुआ मामला.

चोटिल बेटे को खटिया पर लादकर 900 किमी दूर घर के लिए निकल पड़ा ये मज़दूर

पंजाब से चला था परिवार, मध्य प्रदेश जाना था.

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज की आख़िरी किश्त में मनरेगा को 40 हजार करोड़, अन्य को क्या मिला?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सात सेक्टर्स के लिए घोषणाएं कीं.

यूपी: औरैया में दो ट्रक टकराने से 24 मज़दूर मारे गए, योगी ने कई पुलिसवालों को सस्पेंड किया

पीएम मोदी ने घटना पर शोक जताया है.