Submit your post

Follow Us

बम फटने के बाद हंसती हुई सल्वा को तुर्की में पनाह मिल गई है

हाल में सीरिया की एक वीडियो वायरल हुई थी. इस वीडियो में एक पिता अपनी बेटी के साथ खेलते हुए नजर आए थे. अब्दुलाह अपनी बेटी सल्वा को हंसा रहे थर. बम धमाकों से अपनी बेटी को मानसिक रूप से दूर रखने के लिए उन्होंने सल्वा को सिखाया कि जब भी बम की आवाज़ आए तो डरो नहीं. हंसो. सल्वा ऐसा ही करती दिखी थी. अब खबर ये आई है कि सल्वा और उसके परिवार को तुर्की में रहने के लिए पनाह मिल गई है.

तुर्की में रिफ्यूजी बनकर आने के बाद सल्वा के पिता अब्दुलाह ने अल-जजीरा से कहा-

मेरी इच्छा है कि मेरी बेटी किसी अन्य बच्चे की तरह बचपन और औसत जीवन जी सके. मुझे बस यही चाहिए. मेरी बेटी बिना किसी डर के जी सके. उसकी पढ़ाई हो सके. वह युद्ध और संघर्ष से दूर रहे.

वो वीडियो देखिए, जो वायरल हुआ था.

वीडियो वायरल होने के बाद अब्दुलाह ने कहा था-

वह सभी सिर्फ 3 साल की है. उसे जंग के बारे में कुछ नहीं मालूम. मैंने उसे धमाकों के असर से बचाने के लिए यह खेल सिखाने का फैसला किया था. अब वह धमाकों की आवाज़ के बाद भी परेशान नहीं होती.

सीरिया में क्या चल रहा है?

जंग. सरकार विद्रोही गुटों से लड़ रही है और विद्रोही गुटों को कई देश सपोर्ट कर रहे हैं. सीरिया के इस जंग में रूस-अमेरिका-ईरान-तुर्की मुख्य खिलाड़ी हैं. कई देश इन देशों को सपोर्ट कर रहे हैं. अभी तक लाखों लोग विस्थापित हो चुके हैं और हजारों लोग मारे जा चुके हैं. सीरियाई सेना ने हाल ही में इदलिब क्षेत्र से तुर्की समर्थित विद्रोहियों को पीछे धकेल दिया था. इसके बाद से सीरिया और तुर्की में तनाव बढ़ गया है. मामला शांत होता नहीं दिख रहा है.


वीडियो- सीरिया की जिन तस्वीरों पर आपको तकलीफ हुई, उनकी असली कहानी जानकर मुस्कुराएंगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जानिए कौन हैं जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में शहीद हुए पांच सुरक्षाकर्मी

सुरक्षाकर्मी आतंकियों के कब्जे से आम लोगों को निकालने के लिए गए थे.

दिल्ली में एक ही बिल्डिंग में मिले कोरोना के 58 पॉजिटिव मरीज

जिन्हें संक्रमण हुआ है वो लोग एक ही टॉयलेट इस्तेमाल करते थे.

कुलभूषण जाधव मामले में वकील हरीश साल्वे ने खोले पाकिस्तान के कई बड़े राज

भारतीय अधिवक्ता परिषद के ऑनलाइन लेक्चर में कई बातें बताईं.

लोकपाल मेंबर कोरोना पॉज़िटिव पाए गए थे, अब हार्ट अटैक से मौत हो गई

अप्रैल से एम्स में थे अजय कुमार त्रिपाठी.

लॉकडाउन: मां चूल्हे पर बर्तन में पत्थर पकाती जिससे बच्चों को लगे कि खाना बन रहा है

भूखे बच्चे इंतजार करते-करते सो जाते.

पालघर: लिंचिंग स्पॉट पर जा रही पुलिस की बस को 200 लोगों ने रोका था, मारे थे पत्थर

लिंचिंग वाली जगह से करीब 13 किमी दूर तीन घंटे तक रोक कर रखा था.

यूजीसी ने बताया, इन तारीखों को और इस तरह होंगे यूनिवर्सिटी के एग्जाम

जिन बच्चों के पेपर अटके हुए हैं, उनका साल बर्बाद न हो, इसकी पूरी व्यवस्था है.

आतंकियों को हथियार पहुंचाने में BJP का पूर्व नेता पकड़ाया, पार्टी ने कहा 'बैकग्राउंड पता नहीं था'

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #BJPwithTerrorists.

मज़दूरों को अपने राज्य ले जाने वाली पहली ट्रेन चल पड़ी है

केंद्र ने तो बस की बात की थी, फिर ये कैसे मुमकिन हुआ?

ऋषि कपूर नहीं रहे, अमिताभ बच्चन ने ट्विटर पर बताया

29 अप्रैल की देर रात अस्पताल में हुए थे भर्ती.