Submit your post

Follow Us

मैच के बीच पूरा ईडन चिल्लाया सचिन-सचिन और फिर 16 नवंबर 2013 की याद आ गई

ईडन गार्डन्स में हो रहे पिंक टेस्ट को बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एक बड़ा इवेंट बनाने की कोशिश की है. इस मैच का टॉस खास सिक्के से हुआ. मैच से पहले बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना कोलकाता आईं. उनके साथ बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी भी मौजूद रहीं. दोनों ने मैच की शुरुआत ईडन का घंटा बजाकर की. इसके अलावा भारत के लिजेंड्री क्रिकेटर्स भी इस टेस्ट का हिस्सा बने हैं.

पहले दिन मैदान पर आने वाले क्रिकेटर्स में सचिन तेंडुलकर, राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले, वीवीएस लक्ष्मण और हरभजन सिंह समेत कई और खिलाड़ी शामिल रहे. पहले दिन लंच के समय इन खिलाड़ियों को मैदान के बीच बैठाया गया. इस दौरान द्रविड़ को छोड़ इन सभी ने अपने-अपने किस्से साझा किए.

Sachin Kumble Harbhajan Laxman
Sachin Kumble Harbhajan Laxman

लेकिन फैंस के लिए खेल के अलावा जो सबसे खास पल रहा वो 23 नवंबर को लंच के बाद आया. पल भी ऐसा कि मानो आप फिर से 16 नवंबर 2013 से पीछे आ गए हों. यानी सचिन के संन्यास से पहले. आज इस खास मौके पर एंकर जतिन सपरू के साथ सचिन और बाकी क्रिकेटर्स बैठे थे. इसके बाद जतिन ने मैदान पर मौजूद कोलकाता के फैंस से कहा कि ये सभी के लिए एक फैन बॉय मोमेंट है. उन्होंने आगे कहा, सभी लोग एक साथ मिलकर बोलेंगे ‘सचिन-सचिन’.

इसके बाद मैदान का शोर बिल्कुल वैसा ही था, जैसा सचिन के बल्ला लेकर मैदान पर उतरने के वक्त होता था. फैंस ईडन के मैदान पर ज़ोर-जोर से सचिन-सचिन चिल्लाने लगे. खुद सचिन भी इस शोर को सुनकर बिल्कुल चुप हो गए. भावनाएं उनके चेहरे पर साफ नज़र आ रही थी. सचिन अपने लिए फैंस का प्यार देखकर एक बार फिर से भावुक हो गए.

 

सचिन ने इस खास मौके पर ईडन गार्डन्स के उस ऐतिहासिक 2001 के मैच का ज़िक्र किया. जिसमें भारत ने ऑस्ट्रेलिया को धूल चटाई थी. सचिन ने कहा,

”जब हमें फॉलो ऑन मिला, हमारे पास बल्लेबाज़ी के लिए पूरे ढाई दिन का समय था. गांगुली और कोच राइट ने सिर्फ 10 मिनट में ये फैसला किया कि लक्ष्मण नंबर तीन पर और द्रविड़ नंबर छह पर खेलेंगे. वो बेहतरीन फॉर्म में था. और जब वो दोनों खेल रहे थे तो ड्रेसिंग रूम में से कोई वाशरूम जाने के लिए भी नहीं हिला. उनके लिए ड्रिंक्स-आइसपैक तैयार किए गए. वो जादुई साझेदारी थी और फिर हमें ये लगने लगा कि अगर भज्जी और ज़ैक अच्छी गेंदबाज़ी करें तो हम ये मैच जीत सकते हैं.”

पहले मैदान पर सचिन-सचिन का शोर और उसके बाद सचिन की इस कहानी ने मैदान पर मौजूद दर्शकों का दिन बना दिया.


16 साल के पाकिस्तानी गेंदबाज नसीम शाह की उम्र में बड़ा झोल है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.

मुंबई में सुशांत सिंह राजपूत को दी गई अंतिम विदाई, ये हस्तियां हुईं शामिल

मुंबई में तेज बारिश के बीच अंतिम संस्कार.

सुशांत ने किस दोस्त को आख़िरी कॉल किया था?

दोस्त फोन रिसीव न कर सका. जब तक कॉल बैक किया, देर हो चुकी थी.

सुशांत के साथ काम कर चुके मनोज बाजपेयी, राजकुमार राव और अनुष्का शर्मा ने क्या कहा?

सुशांत ने 11 फिल्मों में काम किया था.

सुशांत के सुसाइड से जुड़ी शुरुआती डिटेल्स आ गई हैं, सुबह 10 बजे तक सब ठीक था

किसे कॉल किया था? घर में कितने लोग थे? वगैरह.

कभी फिल्मी सितारों के पीछे नाचते थे सुशांत, फिर एकता कपूर ने कहा- मैं तुझे स्टार बनाऊंगी

सुशांत सिंह राजपूत ने फिल्मों से पहले छोटे पर्दे पर काम किया था.

मुम्बई से लेकर सुशांत के पटना वाले घर तक हर तरफ भयानक सदमा है

सुशांत के पिता पटना में रहते हैं. सदमे में चले गए हैं.