Submit your post

Follow Us

कोरोना: तबलीगी जमात की वजह से पूरे समुदाय को लपेटने वालों को मोहन भागवत की ये बात सुननी चाहिए

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने 26 अप्रैल, रविवार को करीब 35 मिनट का एक वीडियो मैसेज जारी किया. संघ प्रमुख ने किसी का नाम न लेते हुए तबलीगी जमात और कोरोना पर भी बात की. इसके अलावा पालघर मॉब लिंचिग पर भी उन्होंने बात की.

मोहन भागवत ने कहा –

कभी-कभी लोगों को भय लगता है कि हमें क्वारंटीन में डाल देंगे. छिपने का प्रयास करते हैं. लोगों को कुछ नियमों में बांध दिया तो लोगों की ऐसी भावना होती है कि हम पर कुछ प्रतिबंध ना रहे. संघ ने जून के आखिरी तक अपने सारे कार्यक्रम बंद कर दिए हैं. लेकिन किसी-किसी को लग भी सकता है कि सरकार हमारे कार्यक्रमों पर प्रतिबंध कर रही है. और भड़काने वाले लोगों की कमी नहीं है. उसके कारण क्रोध पैदा होता है. फिर अतिवादी क्रत्य होते हैं. हम जानते हैं कि इसका लाभ लेने वाली ताकतें हैं और वो प्रयासरत हैं.

उन्होंने आगे कहा-

जिस प्रकार हमारे देश में कोरोना की बीमारी का फैलाव हमारे देश में हुआ है उसमें एक कारण ये भी है. परन्तु दो बातें ध्यान में रखनी चाहिए. अगर किसी ने भयवश या क्रोधवश कुछ उल्टा सीधा कर दिया तो उस सारे समूहों को ही एक माप में लपेटकर उनसे दूरी बनाना ये भी ठीक नहीं है. सवत्र दोष रखने वाले लोग होते हैं. सामान्य लोगों के मन में कुछ आ सकता है. सामान्य लोगों को ये समझदारी लेनी चाहिए कि हमारी भूमिका सहयोग की होगी, विरोध की नहीं होगी.

भागवत ने आगे कहा,

मन में किन्तु परन्तु हैं उसका लाभ लेकर द्वेश को भड़काने वाले लोग हैं. उनके खेल चल रहे हैं. उनके स्वार्थ चल रहे हैं. भारत तेरे टुकड़े होंगे ऐसे विचार रखने के कारण बहुत सारे लोग ऐसा प्रयास करते हैं.राजनीति भी बीच में आ जाती है. इससे बचना है. ये लोग अपना कुछ बिगाड़ न लें इतनी सावधानी बरतनी है. हमारे मन में इसके कारण प्रतिक्रियावश कोई खुन्ननस कोई दुश्मनी नहीं होनी चाहिए. भारत का 130 करोड़ का समाज भारत माता का पुत्र है. अपना बंधु है. इस बात को ध्यान में रखना चाहिए.

इसके अलावा मोहन भागवत ने पालघर मॉब लिंचिग की बात की. भागवत ने कहा कि पालघर में सन्यासियों की हत्या हुई, पीट पीटकर मार डाला गया, निर उपद्रवी लोग थे, किसी का कोई अपराध उन्होंने किया नहीं था. धर्म का आचरण करने वाले, धर्म का आचरण फैलाने वाले, मानव पर उपकार करने वाले लोग थे. उसका दुख हम सबके मन में है.

भागवत ने कहा कि 28 तारीख को उनको श्रद्धांजलि देने के लिए हिंदू धर्म आचार्य सभा ने कुछ आह्वाहन भी किया है. विश्व हिंदू परिषद ने कोई कार्यक्रम भी दिया है, उसका हम सब पालन करेंगे. उनकी स्मृति में अपना श्रद्धांजलि व्यक्त करता हुआ इस विषय में मैं आगे बढ़ता हूं.


हैदराबाद में RSS वॉलंटियर्स लॉकडाउन में पुलिस की तरह गाड़ियों की चेकिंग करने लगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

विराट से आगे और धोनी के ठीक पीछे पहुंच गए रोहित!

विराट से आगे और धोनी के ठीक पीछे पहुंच गए रोहित!

रैना नहीं खेल रहे तो नुकसान भी हो गया.

6.5 फुटा खिलाड़ी और ऊंचा उछला और मैच पलट दिया!

6.5 फुटा खिलाड़ी और ऊंचा उछला और मैच पलट दिया!

रोहित को लगा राजस्थान ने हरा दिया लेकिन तभी मैच पलट गया

IPL 2020: हारते ही बेन स्टोक्स को याद कर क्या बोले स्टीव स्मिथ

IPL 2020: हारते ही बेन स्टोक्स को याद कर क्या बोले स्टीव स्मिथ

स्मिथ ने पकड़ ली राजस्थान की कमज़ोर कड़ी.

IPL 2020: राजस्थान के किस बॉलर ने बेन स्टोक्स और ब्रेट ली का दिल जीत लिया

IPL 2020: राजस्थान के किस बॉलर ने बेन स्टोक्स और ब्रेट ली का दिल जीत लिया

अंडर 19 वर्ल्ड कप से निकला है ये हीरा!

कार एक्सीडेंट में अफगान क्रिकेटर की मौत, भारत में बनाई थी पहचान

कार एक्सीडेंट में अफगान क्रिकेटर की मौत, भारत में बनाई थी पहचान

क्रिकेट का एक सितारा खो गया.

इस वजह से इंडिया में मोबाइल फ़ोन अब और भी ज़्यादा महंगे हो जाएंगे

इस वजह से इंडिया में मोबाइल फ़ोन अब और भी ज़्यादा महंगे हो जाएंगे

दिवाली की सेल में इस बार कहीं दिवाला न निकल जाए!

अजय देवगन के डायरेक्टर भाई अनिल का निधन, सोशल मीडिया पर दी जा रहीं श्रद्धांजलि

अजय देवगन के डायरेक्टर भाई अनिल का निधन, सोशल मीडिया पर दी जा रहीं श्रद्धांजलि

अजय की कई फिल्मों में बतौर निर्देशक काम किया था.

हाथरस केस: पीड़ित परिवार और मुख्य आरोपी के बीच फोन पर एक साल से हो रही थीं बातें!

हाथरस केस: पीड़ित परिवार और मुख्य आरोपी के बीच फोन पर एक साल से हो रही थीं बातें!

पुलिस ने कॉल डिटेल्स खंगालने के बाद किया सनसनीखेज दावा

ट्रैक्टर पर कुशन लगाकर क्यों बैठे, राहुल गांधी ने इसका जवाब दे दिया

ट्रैक्टर पर कुशन लगाकर क्यों बैठे, राहुल गांधी ने इसका जवाब दे दिया

नए कृषि कानून के विरोध में निकले हैं राहुल गांधी.

कचरे में फेंकने के लिए दिए थे लाखों आईफोन और ऐपल वॉच, रीसाइक्लिंग कंपनी ने बाजार में बेच दिए

कचरे में फेंकने के लिए दिए थे लाखों आईफोन और ऐपल वॉच, रीसाइक्लिंग कंपनी ने बाजार में बेच दिए

ऐपल ने 166 करोड़ का मुआवजा मांगा है