Submit your post

Follow Us

संघ के ऑफिस में बम फेंकना चाहता था RSS वर्कर, पुलिस पिकेट में जा गिरा

केरल का कन्नूर ज़िला. यहां थालासेरी नाम का एक इलाका है. इस इलाके से गुजरने वाली नायनर रोड पर पुलिस पिकेट के पास 16 जनवरी की सुबह बम विस्फोट हुआ था. 21 जनवरी की शाम पुलिस ने बम फेंकने के आरोप में प्रबेश नाम के एक आदमी को गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी तमिलनाडु के कोयंबटूर से हुई. प्रबेश RSS कार्यकर्ता है.

अब इस केस में नई बात पता चली है. ये कि प्रबेश असल में पुलिस पिकेट पर नहीं बल्कि उसके सामने बने RSS के ऑफिस में बम फेंकना चाह रहा था. कथिरुर के सब इंस्पेक्टर एम निजीश का कहना है,

‘उसने 16 जनवरी की सुबह-सुबह बम फेंका था. गिरफ्तारी के बाद उसने बताया कि वो असल में RSS के ऑफिस में बम फेंकना चाह रहा था. राजनीतिक नजरिए से देखा जाए तो कन्नूर काफी संवेदनशील ज़िला है. किसी भी राजनीतिक पार्टी के ऑफिस में किसी भी तरह के अटैक को विपक्षियों की हरकत के तौर पर देखा जाता है. उस इलाके में हमारा एक पुलिस पिकेट है. पिछले कुछ महीनों से. हमें लगता है कि प्रबेश उस इलाके में बम फेंककर अशांति के हालात बनाकर पुलिस को हटाना चाहता था. हमें स्थिति के बारे में वहां लगे सीसीटीवी फुटेज से पता चला. घटना के तुरंत बाद ही उसकी पहचान हो गई थी. घटना के बाद वो कोयंबटूर जाकर छिप गया था. हमारी टीम ने उसे वहां से पकड़ लिया.’

पुलिस ने जानकारी दी कि प्रबेश के खिलाफ पहले से ही कुछ आपराधिक मामले दर्ज हैं. एक और बात जिस RSS ऑफिस में प्रबेश बम फेंकना चाह रहा था, उसका नाम कथिरुर मनोज स्मृति केंद्रम है. ऑफिस का नाम RSS के वरिष्ठ कार्यकर्ता कथिरुर मनोज के नाम पर रखा गया था. कथित तौर पर जिन्हें CPI(M) कार्यकर्ताओं ने साल 2014 में मार दिया था. मनोज पर CPI(M) के वरिष्ठ नेता पी जयराजन की हत्या की कोशिश करने का आरोप लगा था.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.

मोदी ने दिव्यांग लड़के को फोन दिया, उसने पक्के इलाहाबादी वाला काम कर दिया

कुछ ऐसा कि आप भी जानकर मुस्कुरा देंगे.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने 5 लड़कों से जबरन राष्ट्रगान गाने को कहा था, उनमें से एक की मौत हो गई

ये वीडियो खूब वायरल हुआ था.