Submit your post

Follow Us

रोनित रॉय ने टीशर्ट से मास्क बनाने की टेक्नीक बताई, अमेरिका के प्रदर्शनकारियों में हिट हो गई

मास्क की हमेशा से अलग-अलग अहमियत रही है. कभी डाकू को नकाब लगाए हुए देखा, तो कभी अप्सराओं को. सर्कस में जोकर मास्क लगाते हैं. औरतों का घूंघट करना या हिजाब पहनना भी परंपराओं का हिस्सा रहा है. अब मास्क शब्द सुना जा रहा है कोरोना वायरस से बचने के लिए. इसके लिए एक्टर रोनित रॉय ने मास्क बनाने की एक टेक्नीक सोशल मीडिया पर साझा की. लेकिन उन्होंने सोचा नहीं होगा कि उनकी यह मास्क बनाने की टेक्नीक किसी और मकसद के लिए अमेरिका में पॉपुलर हो जाएगी.

टी-शर्ट से मास्क बनाओ और कोरोना से बचो

रोनित ‘उड़ान’ और ‘अग्ली’ जैसी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के लिए जाने जाते हैं. ‘कसौटी ज़िंदगी की’, ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’, और ‘किचन चैंपियन’ जैसे प्रोग्राम की बदौलत वे टीवी जगत में भी एक जाना-पहचाना चेहरा हैं. 20 अप्रैल के दिन उन्होंने लोगों को कोरोना से बचने के लिए एक हिदायत दी. उन्होंने एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें वे एक टी-शर्ट से मास्क बना रहे हैं. उन्होंने कैप्शन में लिखा:

“मास्क नहीं है? टेंशन नहीं लेने का! सिंपल है!” 

बहुत से ट्विटर यूज़र्स ने इसके लिए उनको शुक्रिया कहा था. एक यूज़र ने कहा कि उनका यह तरीका केवल आजकल के लिए नहीं, बल्कि सर्दियों में ठंड से बचने के लिए भी खूब काम आएगा.

कई यूज़र्स ने इस टेक्नीक का इस्तेमाल करते हुए अपनी टी-शर्ट से मास्क बनाने की वीडियो साझा की:

टी-शर्ट मास्क का इस्तेमाल पहचाने जाने से बचने के लिए 

रोनित रॉय की यह टेक्नीक अमेरिका के प्रदर्शनकारियों के बीच ज़ोर पकड़ रही है. जो पुलिस अफसरों की मारपीट से हुई एक अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लॉयड की मृत्यु पर रोष प्रकट कर रहे हैं. पुलिस प्रदर्शनकारियों को रोकने में लगी हुई है. एक यूज़र ने रोनित रॉय की वीडियो को शेयर करते हुए लिखा:

“अगर आज कोई प्रोटेस्ट कर रहा है, तो यह एक तरीका है अपनी टी-शर्ट से चेहरे को ढकने वाला मास्क बनाने का. अपने चश्मे ले जाना ना भूलें.”  

इस ट्वीट को 1 लाख 12 हज़ार बार रीट्वीट किया जा चुका है. 2.5 लाख से ज़्यादा लोग इसे लाइक कर चुके हैं. कमेंट्स में एक यूज़र ने इस तरह का मास्क लगाकर अपनी फोटो पोस्ट की. साथ ही वीडियो शेयर करने वाले को शुक्रिया भी कहा.

एक और यूज़र ने अपनी ऐसी ही फोटो शेयर की:

इन्होंने साथ में चश्मे भी लगाए हैं:

एक यूज़र ने इसे रीट्वीट करते हुए लिखा:

“सुरक्षित रहें. अपनी पहचान छुपाए रखें.” 

Be safe and protect your identities!! https://t.co/BSQ42cE3wQ — NO JUSTICE NO PEACE (@rey_xo_) May 30, 2020

बहुत से यूज़र्स ने रोनित के बारे में बात की. एक यूज़र ने हैरानी प्रकट करते हुए कहा:

“यक़ीन नहीं आ रहा कि तुलसी के पति ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ प्रोटेस्ट में इतने मददगार साबित हो रहे हैं.”  

कुछ यूज़र्स ने एक्सप्लेन करते हुए बताया कि रोनित ने यह मास्क बनाने का वीडियो कोरोना से बचने के लिए बनाया था.

क्या है जॉर्ज फ्लॉयड की मृत्यु का मसला?  

25 मई के दिन किसी दुकान से पुलिस हेल्पलाइन 911 पर फोन आया कि कोई 20 डॉलर के नकली नोट से सिगरेट खरीदने की कोशिश कर रहा है. मिनीपोलिस पुलिस ने वहां पहुंचकर जॉर्ज फ्लॉयड नाम के एक ‘अश्वेत’ शख्स को गिरफ्तार किया. पुलिस स्क्वाड की गाड़ी का इंतज़ार हो रहा था. इस दौरान 911 की कॉल पर एक ‘श्वेत’ पुलिस अफसर डेरेक शॉविन आया हुआ था. उसने जॉर्ज की गर्दन पर अपना घुटना रख दिया, और 8 मिनट 46 सेकंड तक नहीं हटाया. जॉर्ज और आसपास के लोगों ने मदद के लिए चीख-पुकार की. लेकिन डेरेक ने जॉर्ज ने होश खोने पर भी अपना घुटना नहीं हटाया. डॉक्टरों के आने के एक मिनट बाद उसने अपनी पकड़ को ढीला किया. यह सब सिक्योरिटी कैमरों में और आसपास खड़े लोगों के कैमरों में रिकॉर्ड हो गया था. जब तक स्क्वाड पुलिस की कार आई, तब तक जॉर्ज की मृत्यु हो चुकी थी. पुलिस डिपार्टमेंट ने उन चारों पुलिस वालों को नौकरी से बर्खास्त कर दिया. डेरेक पर थर्ड-डिग्री मर्डर का केस दर्ज हुआ है. बाकी तीन पुलिस वालों पर अभी जांच चल रही है.

पिछले 6 दिन से इस मसले पर अमेरिका के कई शहरों में प्रोटेस्ट हो रहे हैं. न्यू जर्सी में पुलिस चीफ और कई पुलिस अफसर भी प्रदर्शनकारियों के साथ शांतिपूर्ण मार्च करते हुए नज़र आए.


वीडियो देखें: दुनियादारी: अमेरिका में छह साल के अंदर दो अश्वेतों की मौत का ज़िम्मेदार कौन है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.

पुलवामा हमले के लिए विस्फोटक कहां से और कैसे लाए गए, नई जानकारी सामने आई

पुलवामा हमला 14 फरवरी, 2019 को हुआ था.