Submit your post

Follow Us

'पंगा' फिल्म में कंगना रनौत के साथ काम करने के बारे में ऋचा चड्ढा ने क्या कहा है?

24 जनवरी को ‘पंगा’ रिलीज हो चुकी है. फिल्म में कंगना रनौत लीड रोल में हैं. ऋचा चड्ढा और नीना गुप्ता ने भी फिल्म में महत्वपूर्ण रोल किए हैं.

एक इंटरव्यू में ऋचा से कंगना के साथ काम करने के अनुभव के बारे में पूछा गया. इसपर उन्होंने कहा कि राजनीतिक मतभेदों को हटा दें, तो कंगना के साथ काम करके उन्हें अच्छा लगा.

CAA (नागरिकता संशोधन कानून) और NRC (नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन) पर ऋचा और कंगना ने बिल्कुल अलग स्टैंड लिया है. ऋचा ने CAA और NRC पर सरकार का खुलकर विरोध किया है. जेएनयू में छात्रों के साथ हुई मारपीट पर भी उन्होंने अपनी आवाज उठाई. वह अनुराग कश्यप, अनुभव सिन्हा, दीया मिर्ज़ा जैसे सेलेब्स के साथ मुंबई में CAA और जेएनयू हिंसा के विरोध में सड़क पर उतरीं. वहीं कंगना हमेशा से बीजेपी और उनकी नीतियों की समर्थक रही हैं. उन्होंने जेएनयू जाने पर दीपिका पादुकोण की काफी आलोचना की थी.

पिंकविला से बात करते हुए ऋचा ने कहा-

मुझे अश्विनी अय्यर (फिल्क की डायरेक्टर) काम करने का तरीका पता है और मैंने अपने किरदार को बहुत इंजॉय किया. ये मेरे उस रोल से बिल्कुल अलग था, जो मैंने हाल ही में किया था. मुझे फिल्म की कहानी बहुत पसंद आई थी. और मैं इसका हिस्सा बनना चाहती थी. एक्टर के तौर पर हमारा तालमेल स्क्रीन पर बहुत बढ़िया नजर आता है. हमने साथ में अच्छा समय बिताया. लेकिन ये जरूरी नहीं होता कि आप हर सेट पर दोस्त बना लें. आखिर में हम यही चाहते हैं कि फिल्म में हर कोई अपना बेस्ट दे पाए.

ये जरूरी नहीं होता है कि आपकी सोच-विचार हर किसी से मिलें. लेकिन मैं इस बात से खुश हूं कि हर कोई अपनी राय रखने के लिए आजाद है. लेकिस सेट्स पर हम प्रोफेशनल होते थे. मुझे खुशी है कि कई नागरिक जागरुक हुए हैं हैं, वे विरोध प्रदर्शन करने के लिए आगे आए हैं और एक तरह की क्रांति लाए हैं.

832855 832797 Kangana Ranaut Ashwiny Iyer Richa Chadha Panga Eid
ऋचा चड्ढा, अश्विनी अय्यर और कंगना रनौत. तस्वीर सोर्स- इंस्टाग्राम.

ऋचा और कंगना के बीच ‘पंगा’ के सेट पर भले अच्छा वक्त बिताया हो, लेकिन कंगना की बहन रंगोली चंदेल और ऋचा चड्ढा के बीच पुराने पंगे रहे हैं. यहां तक कि रंगोली, ऋचा को बेरोजगार तक कह चुकी हैं. हुआ ये था कि रंगोली ने ट्विटर पर एक लिंक शेयर किया था, जिसके मुताबिक, ऋचा ने कंगना की मुखरता पर कमेंट किया था. रंगोली ने ट्विटर पर लिखा-

मुझे सुनने में आया कि ऋचा चड्ढा समेत कई लोगों को कंगना के खुलकर बात करने से परेशानी हैं. वह कहते हैं कि वह पब्लिकली ऐसी बात करने से बचेंगी. मेरा सवला है कि क्या आपके पास कोई दूसरा विकल्प है? क्या आप अपने दम पर काम करते हैं. अगर बॉलीवुड के बड़े लोग इन्हें ब्लैकलिस्ट कर दें तो क्या ये काम कर पाएंगी? क्या ये खुद का कंटेंट जनरेट कर सकती हैं और गुजारा कर सकता हैं. इस बात को समझने की कोशिश करें की कंगना ने 14 साल संघर्ष करने के बाद ये आजादी हासिल की है. वह पहले ऐसे बात नहीं करती थीं जैसा अब बोलती हैं. पिछले 14 साल में उन्होंने खुद को बनाया है. जब पूरी इंडस्ट्री उसके खिलाफ थी तभी भी उसने खुद को बनाया है. कंगना को कब बोलना है ये 10 साल पहले ही तय हो गया था. इसके अलावा कुछ बेरोजगार एक्टर हैं जो मूवी माफिया के चमचे हैं. उन्हें ज्ञान देना कि वह पब्लिक फाइट में शामिल हो सकती हैं. लेकिन हुई नहीं. डार्लिंग सच्चाई ये है तुम कर सकती तो करती. इसलिए अब बैठ जाओ.

जब ऋचा से एक इंटरव्यू में रंगोली के ट्वीट्स के बारे में पूछा गया था, तो उन्होंने कहा था कि ‘मैं पब्लिकली शाब्दिक लड़ाई करने में भरोसा नहीं करती हूं. अगर मुझे किसी इंसान से कोई शिकायत है, तो मैं उससे डायरेक्ट बात करूंगी.’

‘पंगा’ फिल्म को क्रिटिक्स से अच्छे कमेंट मिल रहे हैं. डायरेक्टर अश्निनी अय्यर ने ‘पंगा’ में कंगना और ऋचा को लेने पर कहा था कि वो एक्टर्स को उनकी पॉलिटिक्स देखकर नहीं चुनती हैं, बल्कि उनका टैलेंट मायने रखता है.


Video : कोरियोग्राफर गणेश आचार्य पर हैरेसमेंट का आरोप, असिस्टेंट ने वीडियो जारी कर लगाए गंभीर आरोप

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

IPL 2020: रोहित, कोहली, धोनी सब एक टीम से खेलते दिख सकते हैं

टाइमिंग और वेन्यू पर भी बड़े-बड़े फैसले हुए हैं.

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.