Submit your post

Follow Us

ATM का ज्यादा इस्तेमाल अब पड़ेगा ज्यादा महंगा, RBI ने फीस बढ़ा दी है

बैंक में खाता है तो आप भी ATM कार्ड जरूर इस्तेमाल करते होंगे. तो ये खबर आपके काम की है. अब अगर आप बैंक एटीएम से तय लिमिट से ज़्यादा बार रुपए निकालेंगे या बैलेन्स चेक करने जैसा कोई काम करेंगे तो बैंक इसके लिए थोड़ी ज़्यादा फ़ीस वसूलेगा. खाता किसी बैंक में है, और एटीएम किसी दूसरे बैंक का इस्तेमाल करते हैं, तो उसके लिए भी अब थोड़ा ध्यान रखना होगा क्योंकि इसके नियमों में भी बदलाव हुआ है.

क्या-क्या बदलाव हुए?

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) ने बैंकों को एटीएम के इस्तेमाल पर ग्राहकों से ज्यादा फीस वसूलने की अनुमति दे दी है. ये बढ़ोतरी 1 जनवरी 2022 से लागू होगी. इसके तहत, तय सीमा से ज़्यादा बार डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने पर प्रति ट्रांजेक्शन 20 रुपये के बजाय 21 रुपये देने पड़ेंगे. RBI ने सर्कुलर जारी करके कहा है कि इस बदलाव से बैंकों को इंटरचेंज फ़ीस और लागत में बढ़ोतरी की भरपाई हो सकेगी.

कार्ड धारकों के लिए एटीएम ट्रांजेक्शन की मंथली लिमिट में कोई बदलाव नहीं किया गया है. आप अपने बैंक का डेबिट कार्ड उसी बैंक के ATM में चलाते हैं, और महीने में 5 बार इस्तेमाल करते हैं तो कोई चार्ज नहीं देना होगा. अगर किसी दूसरे बैंक के ATM में इस्तेमाल करते हैं तो महीने की ये लिमिट 3 बार की होगी. मेट्रो शहरों में और अन्य शहरों के लिए भी ये लिमिट अलग-अलग है. मेट्रो शहरों में 3 ट्रांजेक्शन ही फ्री हैं. बाकी शहरों में एटीएम से 5 बार मुफ्त में लेनदेन किया जा सकता है. ध्यान रखिए, ये ट्रांजेक्शन एटीएम से हर तरह के इस्तेमाल में काउंट होंगे. फ़र्ज़ करिए कि अपने कैश नहीं निकाला, बस बैलेन्स चेक कर लिया. या मिनी स्टेटमेंट निकाल लिया. या कुछ और कर लिया. ऐसे सभी काम एक ट्रांजेक्शन में गिने जाएंगे.

आरबीआई ने बैंकों के लिए इंटरचेंज फ़ीस भी बढ़ाई है. यह 1 अगस्त, 2021 से लागू होगी. इंटरचेंज फ़ीस वो चार्ज है, जो आपके बैंक से कोई दूसरा बैंक तब लेता है, जब आप अपने कार्ड का इस्तेमाल उस दूसरे बैंक के ATM में करते हैं. ये इंटरचेंज फ़ीस एटीएम से रुपये निकालने के मामले में अभी प्रति ट्रांजेक्शन 15 रुपये है, जो अगस्त से 17 रुपये हो जाएगी. वहीं अगर बैलेन्स चेक या मिनी स्टेट्मेंट निकालने जैसे कोई काम करने पर 5 रुपये से बढ़कर 6 रुपए हो जाएगी.

फीस बढ़ाने की ये वजह

फीस बढ़ाने के पीछे RBI ने कहा है कि एटीएम लगाने की लागत काफ़ी बढ़ गई है. उसके रखरखाव का खर्च भी बढ़ा है. RBI ने ATM से जुड़ी फ़ीस की समीक्षा करने के लिए जून 2019 में एक कमिटी बनाई थी. भारतीय बैंक संघ के मुख्य कार्यकारी की अध्यक्षता में. उस कमेटी के सुझावों की व्यापक जांच के बाद नए आदेश जारी किए गए हैं.

RBI ने बयान में बताया कि एटीएम ट्रांजेक्शन पर बैंकों की इंटरचेंज फ़ीस में आख़िरी बार अगस्त 2012 में बदलाव हुआ था. जबकि ग्राहकों से ली जाने वाली फ़ीस पिछली बार अगस्त 2014 में संशोधित हुई थी. दोनों ही मामलों में फीस बढ़ाए काफ़ी वक्त बीत चुका है.

भारत में 90 करोड़ से ज्यादा डेबिट कार्ड

डेबिट या एटीएम कार्ड हमारी ज़िंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुके हैं. इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि भारत में अलग-अलग बैंक 90 करोड़ से ज्यादा डेबिट कार्ड जारी कर चुके हैं. ये मार्च 2021 तक का डेटा है. भारत में ऑनसाइट एटीएम की कुल संख्या 1,15,605  है. मतलब वह एटीएम, जो बैंक के ब्रांच में लगे हैं. इसके अलावा ऑफ-साइट यानी बैंक ब्रांच से अलग लगे एटीएम की संख्या 97,970 है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में पहला ATM 1987 में लगा था. HSBC बैंक ने मुंबई में इसे लगाया था. अगले 12 साल में यानी 1997 तक भारत में लगभग 1,500 ATM लग चुके थे. 1997 में इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (IBA) ने स्वधन की स्थापना की थी. यह ATM का पहला साझा नेटवर्क था. इसी के तहत अलग-अलग बैंकों के एटीएम से लेनदेन की अनुमति दी गई थी.


वीडियो- SBI ने ATM से पैसा निकालने वालों के लिए किया बड़ा ऐलान

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से सिक्के-चम्मच चिपकने के दावों में कितना सच?

कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से सिक्के-चम्मच चिपकने के दावों में कितना सच?

क्या शरीर में वाकई चुंबकीय शक्ति पैदा हो जाती है?

पावर बैंक ऐप, जिसने 15 दिन में पैसे डबल करने का झांसा दे 4 महीने में 250 करोड़ उड़ा लिए

पावर बैंक ऐप, जिसने 15 दिन में पैसे डबल करने का झांसा दे 4 महीने में 250 करोड़ उड़ा लिए

पैसा शेल कंपनियों में लगाते, फिर क्रिप्टोकरंसी बनाकर विदेश भेज देते थे.

भूटान के बाद अब नेपाल ने पतंजलि की कोरोनिल दवा बांटने पर रोक क्यों लगा दी?

भूटान के बाद अब नेपाल ने पतंजलि की कोरोनिल दवा बांटने पर रोक क्यों लगा दी?

नेपाल के अधिकारियों ने IMA के उस लेटर का भी हवाला दिया है, जिसमें कोरोनिल को लेकर रामदेव को चुनौती दी गई थी.

दक्षिण में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ीं, कर्नाटक और केरल में टॉप नेता सवालों में क्यों हैं?

दक्षिण में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ीं, कर्नाटक और केरल में टॉप नेता सवालों में क्यों हैं?

मामला इतना बढ़ गया कि बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व को दखल देना पड़ा है.

आसिफ को भीड़ ने पीटकर मार डाला तो आरोपियों की रिहाई के लिए महापंचायतें क्यों हो रही हैं?

आसिफ को भीड़ ने पीटकर मार डाला तो आरोपियों की रिहाई के लिए महापंचायतें क्यों हो रही हैं?

करणी सेना के नेता धमकी दे रहे- जो भी हमें रोकेंगे, उन्हें ठोक देंगे.

तमिल नेता ने अमेज़न से कहा 'फैमिली मैन 2' को बंद करो, वरना...

तमिल नेता ने अमेज़न से कहा 'फैमिली मैन 2' को बंद करो, वरना...

अमेज़न प्राइम वीडियो की हेड को लेटर लिख दी है खुली चेतावनी.

सुवेंदु अधिकारी और उनके भाई के खिलाफ राहत सामग्री चोरी करने के आरोप में FIR

सुवेंदु अधिकारी और उनके भाई के खिलाफ राहत सामग्री चोरी करने के आरोप में FIR

वेस्ट बंगाल पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है.

अलीगढ़ शराबकांड का मुख्य आरोपी और एक लाख का इनामी ऋषि शर्मा गिरफ्तार

अलीगढ़ शराबकांड का मुख्य आरोपी और एक लाख का इनामी ऋषि शर्मा गिरफ्तार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जहरीली शराब से अब तक 108 लोगों की मौत हो चुकी है.

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाया, कुछ ही घंटे में रिस्टोर किया

पर्सनल अकाउंट से हटा था ब्लू टिक, ट्विटर ने वजह बताई.

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

कानपुर की घटना, पुलिस ने शुरुआती FIR में बीजेपी नेताओं का नाम ही नहीं लिखा.