Submit your post

Follow Us

रिज़र्व बैंक ने एक बार फिर रेपो रेट घटाया, EMI से तीन महीने और छुटकारा

रिज़र्व बैंक (RBI) गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट में 40 बेसिस पॉइंट की कटौती का ऐलान किया है. रेपो रेट 4.4 फीसदी से घटकर 4 फीसदी हो गया है. वहीं, रिवर्स रेपो रेट घटकर 3.35 फीसदी हो गया है. उन्होंने बताया कि मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की मीटिंग हुई और MPC ने 5:1 से रेट कट के समर्थन में वोट दिया. पहले भी RBI रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कटौती कर चुका है.

एक बार फिर बता दिया जाए कि रिज़र्व बैंक से जिस ब्याज दर पर कुछ समय के लिए दूसरे बैंक लोन लेते हैं, वो रेपो रेट होता है. इससे उलट जब बैंक अपना पैसा रिज़र्व बैंक में जमा करते हैं, तो उन्हें ब्याज मिलता है. इस ब्याज की दर को रिवर्स रेपो रेट कहते हैं.

तीन महीने और EMI नहीं देनी होगी

RBI ने टर्म लोन पर मोरैटोरियम को तीन महीने और बढ़ाकर 31 अगस्त तक दिया है. इसका मतलब है, इस दौरान लोन पर EMI की किस्त नहीं देनी होगी. पहले इस पर तीन महीने तक छूट दी गई थी, जो कि 31 मई को खत्म हो रही है. अब तीन महीने और बढ़ने से EMI पर छूट छह महीने की हो गई है. इससे कार लोन, होम लोन लेने वाले लोगों को राहत मिलेगी, जिनकी इनकम पर लॉकडाउन की वजह से असर पड़ा है.

घरेलू अर्थव्यवस्था को नुकसान

शक्तिकांत दास ने कहा कि COVID-19 की वजह से घरेलू अर्थव्यवस्था को नुकसान हुआ है. डिमांड में कमी आई है. निवेश की डिमांड कम हुई.  वैश्विक व्यापार कम हुआ है. ग्लोबल ट्रेड 13 से 32 फीसदी तक कम हो सकता है. सरकार के प्रयासों और रिजर्व बैंक की तरफ से उठाए गए कदमों का असर सितंबर के बाद दिखना शुरू होगा.

RBI ने पहले भी की कटौती 

रिज़र्व बैंक ने पहले भी रेपो रेट-रिवर्स रेपो रेट में कटौती की थी. इससे ब्याज दरों में कटौती हुई है. इससे पहले 27 मार्च और 17 अप्रैल को की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में शक्तिकांत दास ने रेपो रेट घटाकर 4.4 फीसदी किया था और रिवर्स रेपो रेट घटकर 3.75 फीसदी हुआ था.

रेपो रेट कम होने से आपका क्या फायदा होता है?

हालांकि पिछले कुछ रेपो रेट में कटौती से बैंकों की तरफ से ग्राहकों को ज़्यादा राहत नहीं दी गई है. लेकिन रेपो रेट घटने से बैंकों के पास ज़्यादा कैश होता है. इससे वे लोगों को ज्यादा कर्ज दे पाते हैं. मौजूदा लोन की ईएमआई यानी महीने की किस्त कम होती है. कंपनियों को राहत मिलती है. ये सब फायदे इस बात पर निर्भर करते हैं कि बैंक आरबीआई के फैसले का फायदा आम ग्राहकों तक पहुंचाते हैं या नहीं.


RBI के रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट के घटने या बढ़ने से क्या असर होता है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

इरफ़ान और ऋषि कपूर पर बेतुकी बातें करने वाला ये एक्टर अब नप गया है

इरफ़ान को लेकर इस एक्टर ने बेहद घटिया ट्वीट किये थे.

आज से काउंटर पर भी मिलने लगी हैं ट्रेन की टिकटें, गांव वालों के लिए है खास इंतज़ाम

पहले सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुक करने की परमिशन थी.

दो मीटर की दूरी भी कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए काफी नहीं है

वैज्ञानिकों की रिसर्च में लार की बूंदों का बड़ा अजीब बर्ताव सामने आया.

कब्र से निकालकर नाबालिग के शव से दरिंदगी कर रहा था, फिर लोगों की नजर पड़ गई

लड़की की रहस्यमय हालात में मौत हो गई थी.

'अम्फान' तूफान से 72 लोगों की मौत, शुक्रवार को पश्चिम बंगाल जाएंगे पीएम मोदी

सीएम ममता बनर्जी ने पीएम से राज्य का दौरा करने की अपील की थी.

टिकटॉक चुटकियों में इस तरह अपने ऐप की रेटिंग सुधार लेगा, धरी रह जाएगी विरोधियों की मेहनत!

गूगल प्ले स्टोर पर टिकटॉक की रेटिंग 1.2 तक पहुंच गई है.

IPL से पहले साउथ अफ्रीका के साथ T20 सीरीज खेलेगा भारत

इस महीने में खेली जा सकती है ये सीरीज.

छत्तीसगढ़ सरकार की 'राजीव गांधी किसान न्याय योजना' क्या है, जिसमें किसानों को 7,500 रु. मिलेंगे

सीएम भूपेश बघेल के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सोनिया गांधी-राहुल भी जुड़े.

जब वर्ल्ड सीरीज के लिए गावस्कर कप्तान बने, तो उनकी बीवी ने क्यों कहा- मछली और चिप्स आ गई है

जब कार में बैठकर गावस्कर ने चुनी अपनी पहली टीम.

राहत पैकेज पर RBI के केंद्रीय बोर्ड के सदस्य ने जो कहा है, वो वित्त मंत्री को अच्छा नहीं लगेगा!

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज पर अपनी बात रखी है.