Submit your post

Follow Us

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद किस हाल में हैं राशिद खान और बाकी अफगानी क्रिकेटर?

अफगानिस्तान पर अब तालिबान का कब्जा हो चुका है. तालिबान के लड़ाकों ने काबुल पर भी कब्जा जमा लिया है. इसके साथ ही तालिबान ने युद्ध खत्म करने की घोषणा करते हुए अमन और शांति जैसे कुछ मीठे शब्दों का प्रयोग किया है. लेकिन पूरे देश में अफरा-तफरी का माहौल है. लोग पलायन करने पर मजबूर हैं. अफगानी राष्ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर जा चुके हैं. देश से निकलने की जद्दोजहद में काबुल एयरपोर्ट पर लोगों की भीड़ टूट पड़ी. फायरिंग में 5 लोगों की मौत की खबर आ रही है.

इस बीच सवाल ये भी उठ रहा है कि अफगानी क्रिकेटर्स कहाँ हैं? उनके परिवार किस हाल में हैं? क्या अफगानिस्तान के खिलाड़ी सुरक्षित हैं? क्योंकि बीते कुछ हफ्तों से राशिद खान और मोहम्मद नबी लगातार मदद की गुहार लगा रहे थे.

द हंड्रेड लीग खेल रहे हैं राशिद खान

राशिद खान कमाल के लेग स्पिनर हैं और इस समय अफगानिस्तान टी20 टीम के कप्तान भी. आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए राशिद खेलते हैं. जबकि मोहम्मद नबी ऑलराउंडर हैं. अफगानिस्तान क्रिकेट को ऊंचाइयों तक पहुंचाने में नवरोज मंगल, असगर अफगान के अलावा नबी का भी बड़ा योगदान रहा है.

वहीं, मुजीब उर रहमान युवा स्पिनर और उभरते हुए सितारे हैं. तीनों ही खिलाड़ी आईपीएल में हैदराबाद फ्रेंचाईजी के लिए खेलते हैं. नबी, राशिद और मुजीब दुनिया भर की टी20 लीग्स में खेलते हैं. इसी वजह से ज्यादा समय देश से बाहर रहते हैं. इस समय ये इंग्लैंड की ‘द हंड्रेड’ लीग में खेल रहे हैं. खबर है कि द हंड्रेड लीग खत्म होने तक नबी, राशिद और मुजीब इंग्लैंड में ही रहेंगे. इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी  केविन पीटरसन ने राशिद खान को लेकर ताजा जानकारी दी है. स्काई स्पोर्ट्स से बातचीत के दौरान पीटरसन ने कहा,

“अफगानिस्तान में काफी कुछ हो रहा है. राशिद से मैंने मैच के दौरान बाउंड्री पर बात की थी. वो बहुत परेशान थे. राशिद अपनी फैमिली को देश से बाहर नहीं निकाल सके हैं. उनके लिए फिलहाल कुछ भी सही नहीं हो रहा है. बावजूद इसके इस दबाव में राशिद लीग में बढ़िया कर रहे हैं. ये काबिल-ए-तारीफ है.”

नबी, राशिद और मुजीब इंग्लैंड में हैं, और सेफ हैं. लेकिन बाकी टीम का क्या? उनके बारे में भी जान लीजिए. अफगानिस्तान को आगे पाकिस्तान के साथ वनडे सीरीज खेलनी है. पहले सीरीज का आयोजन दुबई में होना था. लेकिन अब श्रीलंका शिफ्ट किया गया है. 1 से 5 सितंबर के बीच सीरीज खेली जाएगी. श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने हम्बनटोटा में सीरीज आयोजित कराने की अनुमति दे दी है. मतलब अफगानी क्रिकेटर्स सुरक्षित हैं और अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड पूरा ख्याल रख रहा है. लेकिन इनके परिवार वाले अफगानिस्तान में ही हैं. उनके बारे में कोई खोज खबर मीडिया में नहीं है.

क्रिकेटर्स ने लगाई मदद की गुहार

इससे पहले राशिद खान और मोहम्मद नबी ने दुनिया से मदद की गुहार लगाई थी. राशिद ने ट्वीट करते हुए लिखा था,

“दुनिया के सभी लीडर्स, मेरे मुल्क के हालात बदतर होते जा रहे हैं. हजारों बच्चे, औरतें और आम नागरिकों का खून हो रहा है. घर और सारी संपत्तियों को तबाह किया जा रहा है. हजारों-लाखों परिवार सड़क पर आ गए हैं और पलायन के लिए मजबूर है. अराजकता के इस माहौल में हमें अकेला मत छोड़िए. अफगानियों का कत्लेआम बंद करवाइए. अफगानिस्तान को बर्बाद करना मत होने दीजिए. हम बस अमन और शांति चाहते हैं.”

ऑलराउंडर मोहम्मद नबी ने भी ट्वीट किया था कि-

“अफगानी होने के नाते ये देखकर बुरा लग रहा है कि आज हमारा मुल्क कहां पर है. अफगानिस्तान में अराजकता का माहौल है. आपदा और त्रासदी की रोज नई कहानियां सामने आ रही हैं. लोग अपना घर-मकान छोड़कर जाने पर मजबूर हैं. काबुल से कहां जाएंगे? नहीं पता. उनके घरों को जब्त किया जा रहा है. मैं दुनिया के नेताओं से अपील करता हूं, प्लीज अफगानिस्तान को बर्बाद होने से बचा लीजिये. हमें आपका साथ चाहिए. हम शांति चाहते हैं.”

अफगानिस्तान में अनिश्चितता का माहौल है. क्रिकेटर्स भी नहीं जानते कि वे कहां जाएंगे. राशिद, नबी और मुजीब फिलहाल सुरक्षित हैं. लेकिन उनकी फैमिली किस हाल में है, कुछ नहीं पता.

IPL खेलेंगे राशिद और नबी

सितंबर में आईपीएल होने वाला है और फिर टी20 विश्वकप. सनराइजर्स हैदराबाद ने कंफर्म कर दिया है कि राशिद और नबी खेलेंगे. लेकिन अफगानिस्तान की टीम टी 20 विश्वकप खेलेगी या नहीं? अभी कुछ कहा नहीं जा सकता. उम्मीद यही करेंगे कि अफगानी खिलाड़ी और उनकी फैमिली सुरक्षित हों.


INDvsENG: विराट ने चहेते गेंदबाज़ सिराज की इन तीन जोरदार अपील पर क्या किया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?