Submit your post

Follow Us

रंजीत सिंह मर्डर केस में राम रहीम को उम्र कैद, शक होने पर डेरा मैनेजर को मरवा दिया था

डेरा सच्चा सौदा चलाने वाले गुरमीत राम रहीम को हत्या के एक और मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है. मामला डेरा के ही मैनेजर रहे रंजीत सिंह की हत्या का है. सोमवार 18 अक्टूबर को सज़ा का ऐलान हुआ. आजतक की खबर के मुताबिक, राम रहीम के अलावा 4 अन्य दोषियों को भी उम्रकैद की सजा मिली है. इनके नाम हैं जसबीर, सबदिल, अवतार और किशन लाल. जसबीर और सबदिल शूटर हैं, जिन पर आर्म्स ऐक्ट का भी केस है. एक और आरोपी था. इंदर सेन. उसकी 2020 में मौत हो गई थी. बाकी सभी आरोपियों को बीती 8 अक्टूबर को IPC की धारा 302 यानी हत्या और 120-B यानी आपराधिक साजिश रचने के लिए दोषी ठहराया गया था.

बता दें कि रंजीत सिंह की 2002 में हत्या कर दी गई थी. वो डेरे के ही अनुयायी थे और प्रबंधक के तौर पर काम-काज भी संभाल रहे थे. राम रहीम को शक था कि एक साध्वी के यौन शोषण का सच उजागर करती एक गुमनाम चिट्ठी असल में रंजीत सिंह ने लिखवाई थी. इसी चिट्ठी के आधार पर स्थानीय अख़बार ‘पूरा सच’ में राम रहीम के तमाम कच्चे चिट्ठे छपे थे. इसी के बाद 10 जुलाई 2002 को रंजीत सिंह की गोली मारकर हत्या करवा दी गई थी. साथ ही अख़बार के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की भी राम रहीम ने हत्या करवा दी थी.

तमाम सजाएं हैं

इससे पहले 2017 में राम रहीम को अपने डेरे की दो शिष्याओं के बलात्कार का दोषी पाया गया था. तब अदालत ने राम रहीम को 10-10 साल सश्रम कैद और 15-15 लाख रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई थी. ये 10-10 साल की कैद अलग-अलग मामलों में थी, जो राम रहीम को अलग-अलग ही काटनी हैं. साथ ही, दोनों मामलों में 15-15 लाख का जुर्माना लगाया गया था. इसके अलावा उसे पत्रकार रामचंद्र की हत्या के मामले में भी 2019 में उम्रकैद की सज़ा सुनाई गई थी.

राम रहीम इस समय रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है. उसने सुनवाई के दौरान अपनी बीमारियों का हवाला देते हुए रहम की मांग की थी. कहा था कि उसे ब्लड प्रेशर, आंख और गुर्दे से जुड़ी समस्याएं हो गई हैं, लिहाजा अदालत दया करे. लेकिन कोर्ट ने उसकी ये याचिका खारिज कर दी. याचिका के विरोध में सीबीआई ने कहा था कि पीड़ित ने राम रहीम को भगवान की तरह समझा, लेकिन उसने अपने अनुयायी के खिलाफ ही आपराधिक साजिश कर उसकी हत्या करवा दी. जांच एजेंसी ने अदालत से कहा था कि गुरमीत का आपराधिक इतिहास रहा है और उसे धारा 302 के तहत अधिकतम सजा दी जाए. अब कोर्ट ने गुरमीत को सारी जिंदगी कैद में रहने की सजा दे दी है.


डेरा प्रमुख राम रहीम रेपिस्ट ही नहीं हत्यारा भी है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?