Submit your post

Follow Us

राहुल ने अपने ही बड़े नेता 'कुंभाराम' को 'कुंभकरण' बता दिया !

445
शेयर्स

बीजेपी के प्रवक्ताओं के मुंह से एक बात आपने अक्सर सुनी होगी. वो ये कि कांग्रेस में जब तक राहुल गांधी हैं बीजेपी को परेशान होने की ज़रूरत नहीं. ऐन मौके पर वो अपने बयान से बीजेपी का साथ दे ही देते हैं.

हालांकि इस बार राहुल गांधी ने अपने बयान से बीजेपी का साथ तो नहीं ही दिया है. लेकिन एक भयंकर गड़बड़ कर दी. हुआ कुछ ऐसा कि वो पार्टी के प्रचार के लिए राजस्थान में थे और राजस्थान के झूंझुनू में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. भाषण देने के दौरान ही राहुल गांधी की ज़ुबान फिसल गई और उन्होंने ‘कुंभाराम लिफ्ट परियोजना’ को गलती से ‘कुंभकरण लिफ्ट परियोजना’ बोल दिया. हालांकि, उन्होंने अपनी गलती तुरंत सुधार भी ली. लेकिन उनके बयान के कारण सोशल मीडिया पर राहुल गांधी और उनकी पार्टी दोनों की जम कर फजीहत हो रही है.  अब राजस्थान में चुनाव के ठीक पहले राहुल गांधी के इस बयान का बीजेपी जमकर फायदा उठा रही है.

तो हुआ ये कि राहुल गांधी रैली में कुंभाराम परियोजना का जिक्र कर रहे थे. उन्होंने अपने भाषण में कुछ ऐसा कहा ‘मैं यहां के कुछ स्थानीय मुद्दों पर बात करना चाहता हूं। अशोक गहलोत जी ने यहां के लिए कुंभकरण लिफ्ट योजना शुरू की थी.’ राहुल के इतना बोलते ही मंच पर बैठे कांग्रेस नेताओं ने उन्हें टोका, तो राहुल ने तुरंत अपनी गलती सुधारते हुए कहा, ‘कुंभाराम लिफ्ट योजना. उन्होंने पहले फेज में इस योजना के लिए 955 करोड़ रुपये दिए. 3,200 करोड़ रुपये झूंझुंनू और आसपास के जिलों के लिए दिया था. भाजपा ने पांच साल में कुछ नहीं किया’

अब राहुल गांधी गलती कर चुके थे, उन्हें समझ में नहीं आया कि उन्होंने क्या किया है. राहुल के मुंह से जैसे ही ‘कुंभकरण’ शब्द निकला वहां आस पास खड़े लोग हंसने लगे. आस पास के लोगों की हलचल आप वीडियो में भी सुन और महसूस कर सकते हैं.

चौधरी कुंभाराम राजस्थान के स्वतंत्रता सेनानी, जाट नेता सांसद और बहुत ही फेमस किसान नेता थे. और चौधरी कुंभाराम लिफ्ट परियोजना के तहत किसानों को सिंचाई के लिए पानी मुहैया कराया जाता है. वैसे यह पहला मौका नहीं है जब राहुल गांधी ट्रोल हुए हैं. इससे पहले भी वो अपने बयानों की वजह से ट्रोल हो चुके हैं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

15 हज़ार की गाड़ी थी, 23 हज़ार का चालान ठोंक दिया

किन पांच चीज़ों पर एक स्कूटी का ऐसा चालान हुआ?

योगी आदित्यनाथ के 'प्रेरणा ऐप' को प्ले स्टोर पर 1-स्टार की रेटिंग क्यों मिल रही है?

यूपी के टीचर अब सेल्फी नहीं लेना चाह रहे हैं.

यूपी के स्कूल में नमक-रोटी खाते बच्चों का वीडियो बनाने वाला पत्रकार फंस गया

बदनामी से गुस्साए डीएम ने केस करने की धमकी दी थी!

मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार में आर्थिक मंदी पर क्या कहा?

मनमोहन सिंह की बात पढ़ेंगे तो समझ जाएंगे कि मंदी क्यों आई.

असम के विधायक हैं, विपक्ष के नेता हैं, लेकिन NRC की लिस्ट में नहीं हैं अनंत कुमार मालो

कई नेताओं और सैनिकों के साथ ऐसा ही हुआ है.

BJP ने बड़बोली प्रज्ञा ठाकुर को चुप कराने का आईडिया निकाल लिया है

और प्रज्ञा ठाकुर बहुते परेशान हो गयी हैं

इमरान खान की भयानक बेज्ज़ती बिजली विभाग के क्लर्क ने कर दी है

सोचा होगा, 'हमरा एक्के मकसद है, बदला!'

जज साहब ने भ्रष्टाचार पर जजों का धागा खोला, मगर फिर जो हुआ वो बहुत बुरा है

कहानी पटना हाईकोर्ट के जज राकेश कुमार की, जो चारा घोटाले के हीरो हैं.

अयोध्या में बाबरी मस्जिद को बाबर ने बनवाया ही नहीं?

ये बात सुनकर मुग़लों की बीच मार हो गयी होती.

पेरू में लगभग 250 बच्चों की बलि चढ़ा दी गयी और लाशें अब जाकर मिली हैं

खुदाई करने वालों ने जो कहा वो तो बहुत भयानक है