Submit your post

Follow Us

कूलर चलाने के लिए परिवार ने मरीज के वेंटिलेटर का प्लग हटा दिया, जान चली गई

राजस्थान का कोटा शहर. यहां एक सरकारी अस्पताल में 40 साल के एक मरीज की जान चली गई. क्यों? कथित तौर पर उसके परिवारवालों ने कूलर लगाने के लिए उसके वेंटिलेटर का प्लग हटा दिया.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, इस शख्स को कोरोना के संदेह में 13 जून को महाराव भीम सिंह (MBS) अस्पताल के ICU में भर्ती किया गया था. हालांकि उसकी टेस्ट रिपोर्ट बाद में निगेटिव आई. अस्पताल प्रशासन ने कहा है कि तीन सदस्यों की एक समिति मामले की जांच करेगी.

आइसोलेशन वॉर्ड में गर्मी थी इसलिए…

15 जून को शख्स को आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट किया गया था. क्योंकि ICU में एक और शख्स कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. रिपोर्ट के मुताबिक, आइसोलेशन वॉर्ड में काफी गर्मी थी. परिवारवाले उसी दिन एक कूलर खरीद लाए. कूलर के लिए कोई सॉकेट ना मिलने पर उन्होंने कथित तौर पर वेंटिलेटर का प्लग हटा दिया. लगभग आधे घंटे बाद वेंटिलेटर का पॉवर खत्म हो गया.

समिति रिपोर्ट देगी

इसके बाद तुरंत डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को सूचना दी गई. डॉक्टरों ने उसे बचाने की कोशिश की लेकिन शख्स की मौत हो गई. अस्पताल के अधीक्षक डॉ. नवीन सक्सेना ने कहा कि तीन सदस्यों की समिति घटना की जांच करेगी, जिसमें अस्पताल के उप-अधीक्षक, नर्सिंग अधीक्षक और चीफ मेडिकल ऑफिसर शामिल हैं. समिति ने आइसोलेशन वॉर्ड में मेडिकल स्टाफ के बयान लिए हैं. लेकिन परिवार की तरफ से अभी समिति को जवाब नहीं दिया गया है.

परिवार पर भी आरोप

डॉक्टर सक्सेना ने कहा कि जो भी रिपोर्ट में ज़िम्मेदार पाया जाएगा, उसके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी. अस्पताल से जुड़े कुछ लोगों का आरोप है कि परिवारवालों ने कूलर लगाने की इजाज़त नहीं ली और जब मरीज की मौत हो गई तो उन्होंने मेडिकल स्टाफ के साथ दुर्व्यहार किया. अस्पताल के उप-अधीक्षक डॉक्टर समीर टंडन ने कहा कि मामले की जांच जारी है.

कोरोना ट्रैकर:


राजस्थान: कोरोना वायरस का सैंपल लेने के दौरान स्वाब स्टिक टूटकर नाक में फंस गई

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

एक और पार्टी है जिसने कांग्रेस जितनी सीटें जीती हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.