Submit your post

Follow Us

आज से शुरू हो चुकी है 1 जून से चलने वाली ट्रेनों की बुकिंग, क्या है रेलवे की गाइडलाइन?

सरकार 1 जून से 200 नॉन एसी ट्रेनें चलाने जा रही है. इन ट्रेनों की बुकिंग 21 मई को सुबह 10 बजे से शुरू हो जाएगी. ये ट्रेनें 1 मई से चल रहीं श्रमिक स्पेशल ट्रेनों और 12 मई से चल रही स्पेशल एसी ट्रेनों से अलग हैं. इनमें बुकिंग और यात्रा को लेकर रेलवे ने नई गाइडलाइन जारी की है. रेलवे ने कहा है कि ये ट्रेनें मजदूरों के घर पहुंचाने के लिए चलाई जा रही श्रमिक ट्रेनों से अलग होंगी और इनमें बुकिंग ऑनलाइन ही करवाई जा सकेगी.

एक नज़र डाल लेते हैं रेलवे की गाइडलाइंस परः

बुकिंग को लेकर

# इन ट्रेनों में एक भी अनरिज़र्व्ड कोच नहीं होगी.
# जनरल बोगी में भी सभी यात्रियों को सीट उपलब्ध कराई जाएगी और उनसे 2S क्लास का किराया लिया जाएगा.
# IRCTC की वेबसाइट या ऐप से ई-टिकट ही बुक किये जा सकेंगे. किसी भी रेलवे स्टेशन पर काउंटर टिकट नहीं बेचा जाएगा.
# जिस डेट पर यात्रा करना चाहते हैं उससे अधिकतम 30 दिन पहले ही टिकट बुक कर सकते हैं.
# टिकटों में दिव्यांगजनों और मरीज़ों को छूट दी जाएगी. इसके लिए कुछ कैटेगिरीज़ तय हैं.
# तय सीमा तक RAC और वेट लिस्ट टिकटें भी बुक होंगी, लेकिन वेट लिस्ट वाले यात्रियों को स्टेशन में एंट्री नहीं मिलेगी.
# इन ट्रेनों के लिए तत्काल या प्रिमियम तत्काल बुकिंग की सुविधा नहीं दी जाएगी.


यात्रा को लेकर

# यात्रियों को ट्रेन के तय समय से 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा.
# जिन यात्रियों के पास कंफर्म्ड टिकट होगी, केवल उन्हें रेलवे स्टेशनों में घुसने दिया जाएगा.
# बोर्डिंग से पहले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी. केवल उन्हें ही स्टेशन के अंदर जाने दिया जाएगा जिनमें COVID 19 के कोई लक्षण नहीं हैं.
# यात्रा के दौरान सभी यात्रियों के लिए मास्क/ फेस कवर अनिवार्य होगा.
# ट्रेन में ब्लैंकेट, पर्दे और चादरें उपलब्ध नहीं कराई जाएंगी.
# यात्रा पूरी होने के बाद यात्रियों को उस राज्य के हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करना होगा.

रिफंड और कैंसिलेशन को लेकर

# टिकट कैंसिलेशन के सामान्य नियम लागू रहेंगे.
#  स्क्रीनिंग के दौरान अगर किसी यात्री में बुखार, ज़ुकाम या खांसी जैसे लक्षण मिलते हैं तो उसे यात्रा करने नहीं दिया जाएगा. इस स्थिति में उसकी टिकट कैंसिल करके रीफंड दिया जाएगा. इस स्थिति में उसके साथ यात्रा कर रहे लोग अगर यात्रा करना न चाहें, तो उनकी टिकट का भी पूरा रीफंड मिलेगा.

केटरिंग को लेकर

# ट्रेनों में केटरिंग सुविधा नहीं होगी. कुछ ट्रेनों में पीने का पानी और खाने का सामान पेमेंट बेसिस पर दिया जाएगा.
# इस बात पर जोर दिया जाएगा कि यात्री घर से अपना खाना लेकर आएं.
# स्टेशन प्लेटफॉर्म्स पर लगने वाली दुकानें खुली रहेंगी. फूड प्लाज़ा में खाना पैक करके खरीदने की सुविधा होगी. वहां बैठकर खाने की मनाही रहेगी.


लॉकडाउन 4.0 के दौरान एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए ई-पास कैसे बनवाएं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या गुजरात में खराब वेंटीलेटर की वजह से 300 कोरोना मरीज़ों की मौत हो गई?

कांग्रेस ने विजय रूपाणी सरकार पर वेंटीलेटर घोटाले का आरोप लगाया है.

अब इस तारीख से देश के अंदर फ्लाइट्स से यात्रा कर सकेंगे

इससे पहले 200 नॉन एसी ट्रेन चलने की सूचना दी गई थी.

'अम्फान' आ चुका है, पश्चिम बंगाल में दो की मौत, कई घरों को नुकसान

ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में अपना असर दिखा रहा है.

प्रियंका गांधी ने जो गाड़ियां यूपी भेजी हैं, उनमें कितनी बसें हैं, कितने ऑटो?

छह सूचियों में कुल 1049 गाड़ियों की डिटेल्स भेजी गई है.

देशभर में 200 और ट्रेनें चलने की तारीख़ आ गई है

इस बार ख़ुद रेल मंत्री ने बताया है.

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

इस लॉकडाउन में तमाम तरह की छूट दी गई हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की 1000 बसों में कुछ नंबर ऑटो और कार के कैसे निकल गए?

हालांकि संबित पात्रा ने भी जिस बस को स्कूटर बताया, वहां एक पेच है.

मज़दूरों की लाश की ऐसी बेक़द्री पर झारखंड के सीएम कसके गुस्साए हैं

घायल मज़दूरों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप.

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर, जल्द ही आखिरी स्टेज का टेस्ट होने की उम्मीद

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.