Submit your post

Follow Us

राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी को एंटी-नेशनल बताया, संसद में हंगामे के दौरान गूंजा 'खेला होबे' का नारा

कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले पर मोदी सरकार को घेरा है. राहुल गांधी ने सरकार से सवाल किया कि क्या उसने पेगासस मैलवेयर खरीदा. बुधवार 28 जुलाई को विपक्षी दलों की बैठक के बाद मीडिया के सामने आए राहुल गांधी इस मुद्दे पर काफी कुछ बोले. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पेगासस को लोकतंत्र के खिलाफ इस्तेमाल हुआ हथियार बताते हुए राहुल गांधी ने कहा,

“हम नरेंद्र मोदी और अमित शाह से जानना चाहते हैं- आपने इस हथियार (पेगासस मैलवेयर) का इस्तेमाल भारत की लोकतांत्रिक संस्थाओं के खिलाफ क्यों किया? हम केवल एक सवाल पूछना चाहते हैं. क्या भारत सरकार ने पेगासस खरीदा? हां या ना. क्या सरकार ने अपने ही लोगों के खिलाफ पेगासस का इस्तेमाल किया? सरकार की तरफ से हमें साफ बता दिया गया है कि सदन में पेगासस को चर्चा नहीं की जाएगी.”

राहुल गांधी ने आगे कहा,

“हमारे लिए पेगासस राष्ट्रवाद और विश्वासघात से जुड़ा मुद्दा है. लोकतंत्र के खिलाफ इस हथियार का इस्तेमाल किया गया है. मेरे लिए ये निजता का मुद्दा नहीं है. मैं इसे राष्ट्रविरोधी कृत्य मानता हूं. नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने भारत के लोकतंत्र की आत्मा पर हमला किया है.”

Rahul Gandhi, Opposition
विपक्ष के साथ मीडिया से बात करते राहुल गांधी. (तस्वीर- मौसमी सिंह/आजतक)

वहीं, आजतक/इंडिया टुडे के मुताबिक, राहुल गांधी ने कहा कि पेगासस का इस्तेमाल आतंकवादियों के खिलाफ होना चाहिए था, लेकिन पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को बताना चाहिए कि इसे लोकतंत्र के खिलाफ क्यों इस्तेमाल किया गया. इससे पहले बुधवार को राहुल गांधी ने विपक्षी दलों की बैठक में हिस्सा लिया. इसमें संसद के मौजूदा सत्र के भविष्य को लेकर चर्चा हुई. बाद में सभी दलों के प्रतिनिधियों के साथ वे मीडिया के सामने आए. इंडिया टुडे से जुड़ी मौसमी सिंह के मुताबिक, राहुल गांधी ने कहा कि सरकार विपक्ष पर संसद नहीं चलने देने का आरोप लगा रही है, लेकिन असल में विपक्ष अपनी ड्यूटी कर रहा है. उन्होंने कहा कि विपक्ष पूरी तरह एकजुट है और पेगासस के अलावा महंगाई, किसान और तमाम मुद्दों पर संसद में चर्चा करना चाहता है.

Rahul Gandhi, Opposition
विपक्षी दलों की बैठक की तस्वीर. (साभार- राहुल गांधी के ट्विटर अकाउंट से)

पेगासस पर संसद में ‘खेला होबे’

इस बीच, संसद में पेगासस की गूंज फिर सुनाई दी. बुधवार 28 जुलाई को पेगासस मामले पर चर्चा की मांग करते हुए संसद के दोनों सदनों में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया. इस दौरान संसद में खेला होबे के नारे लगाए गए. लोकसभा में हुए बवाल के बीच स्पीकर की तरफ कागज उछाले जाने की भी रिपोर्ट है. हंगामा कम होता ना देख दोनों सदनों की कार्यवाही दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. इससे पहले भी लोकसभा की कार्यवाही साढ़े 12 बजे और राज्यसभा की कार्यवाही 12 बजे स्थगित की गई थी.

सरकार सांसदों के खिलाफ ला सकती है प्रस्ताव

उधर, केंद्र सरकार हंगामा करने वाले सांसदों के खिलाफ कार्रवाई के मूड में दिख रही है. आजतक को मिली जानकारी के मुताबिक, लोकसभा की कार्यवाही नहीं चलने देने वाले सांसदों को सस्पेंड कराने के लिए सरकार सदन में नोटिस ला सकती है. ये कार्रवाई स्पीकर की तरफ कागज फाड़कर उछालने वाले सांसदों के खिलाफ हो सकती है. ऐसी आशंका है कि नोटिस के बाद 10 सांसदों को सस्पेंड किया जा सकता है.

आजतक से जुड़े अशोक सिंघल के मुताबिक, सरकार जिन सांसदों के खिलाफ ये प्रस्ताव ला सकती है, उनमें टीएन प्रतापन, हिबी एडन, गुरजीत सिंह औजला, रवनीत सिंह बिट्टू, मणिक्कम टैगोर, दीपक बैज, एएम कुरियाकोसे, जोतिमानी, सप्तगिरी उलाका और एएम आरिफ शामिल हैं. एएम आरिफ को छोड़कर सभी कांग्रेस के सांसद हैं.

राहुल के बयान पर क्या बोली बीजेपी?

राहुल गांधी के पीएम मोदी पर हमले के बाद बीजेपी को पलटवार करने में देर नहीं लगी. पार्टी की तरफ से संबित पात्रा ने राहुल गांधी के आरोपों का जवाब दिया. उन्होंने कहा,

“उनके (राहुल गांधी) फोन में कोई हथियार है, लेकिन वे कोई शिकायत नहीं दर्ज कराते और केवल प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं. कोई सिर्फ राहुल गांधी की जासूसी क्यों करेगा? वे कांग्रेस पार्टी चला नहीं सकते. उनकी जासूसी करके क्या हासिल होगा? राहुल जी, आपको अपना फोन चेक कराना चाहिए.”

संबित पात्रा ने आगे कहा,

“पीएम मोदी जरूरी मुद्दों पर बैठकें बुलाते हैं, लेकिन कांग्रेस उनका बहिष्कार करती है. आप (राहुल गांधी) कह रहे हैं कि गलत मुद्दा हमारे लिए जरूरी हो, ना कि कोविड. आप लोगों की जिंदगी से खेल रहे हैं. आप उनकी आवाज को दबा रहे हैं. विपक्षी दल चाहते क्या हैं? उनका केवल एक उद्देश्य है, अपने परिवारों को बचाना. राहुल और प्रियंका केवल राजनीतिक रूप से सेटल होना चाहते हैं.”

इसके बाद संबित पात्रा ने कहा कि पीएम मोदी को देश को विकास की ओर ले जाने की चिंता है. उन्होंने विपक्षी एकता पर भी टिप्पणी की. कहा कि जनता इस नाटक को समझती है.


वीडियो- पेगासस जासूसी मामले की जांच के लिए ममता बनर्जी ने दो सदस्यीय पैनल का गठन कर दिया 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.