Submit your post

Follow Us

कोका-कोला शिकंजी के अलावा राहुल ने अपने भाषण में क्या-क्या कहा?

गैंग्स ऑफ वासेपुर में रामाधीर सिंह ने अपने बेटे से एक बड़े पते की बात कही थी. कि क्षेत्र में जाओ, लोगों को मोटीवेशन दो. सभी नेताओं को ये करना चाहिए. जब चुनाव न हों तब भी. ऐसे ही एक कार्यक्रम में कांग्रेस के जिल्ले इलाही राहुल गांधी ने ओबीसी समाज के प्रतिनिधियों को मोटीवेशन दिया. तारीख थी 11 जून और जगह थी दिल्ली का तालकटोरा स्टेडियम.

कार्यक्रम में अशोक गहलोत जैसे नेता मौजूद थे लेकिन ध्यान बार-बार मंच के पीछे लगी स्क्रीन पर जा रहा था. इसकी एक तरफ राहुल गांधी की तस्वीर थी और एक तरफ ताम्रध्वज साहू. दुर्ग के साहू छत्तीसगढ़ के इकलौते नेता हैं जो मोदी लहर के बावजूद कांग्रेस टिकट पर सांसदी लड़े और जीते. साहू कांग्रेस के अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) विभाग के अध्यक्ष हैं. तो साफ था कि राहुल ओबीसी समाज तक अपनी बात पहुंचाने को लेकर गंभीर दिखना चाहते थे. लेकिन जो कुछ जनता तक पहुंचा उसके लिए अंग्रेज़ी में ‘मिक्स्ड बैग’ शब्द है. माने कुछ काम की बात, कुछ राजनीतिक बयानबाज़ी और बयानबाज़ी के चक्कर में कुछ गलतियां. सब की सब बटोरकर हम यहां दे रहे हैं.

– अपने ‘अनुभव’ के आधार पर राहुल ने एक दर्जी वाली कहानी बताई. कहानी लंबी थी और राहुल के मुताबिक मॉरल ऑफ द स्टोरी ये था कि भारत में असल कारीगर को सम्मान नहीं मिलता क्योंकि वो छुपा रहता है और क्रेडिट कोई और ले उड़ता है.

– राहुल ने स्किल्स के नाम पर ‘धोबी’, ‘दर्जी’ और ‘बढ़ई’ शब्दों पर ज़ोर दिया. ये वो पेशे हैं जो पारंपरिक तौर पर पिछड़ी जाति के लोगों के होते थे.

पुराने जमाने की कोका कोला
पुराने जमाने की कोका कोला

– देश के बैंकों में लाखों करोड़ों का एनपीए है. लेकिन किसानों का कर्ज माफ नहीं होता.

– कोका कोला. वो शब्द जो आज राहुल के बयान का कीवर्ड बन गया. राहुल ने कहा कि कोका-कोला बनाने वाला अमरीका में शिकंजी बेचता था. पानी में चीनी मिलाता था. उसकी प्रतिभा का सम्मान हुआ, पैसा मिला और एक बड़ी कंपनी बन गई.

– कोका कोला पीने के बाद राहुल ने मैकडॉनल्ड्स का बर्गर भी खाया. राहुल ने कहा कि मैकडॉनल्ड्स शुरू करने वाला व्यक्ति एक समय ढाबा चलाता था.

– इसी तरह राहुल ने फोर्ड, मर्सिडीज़ और होंडा नाम भी लिए. कहा कि ये मैकेनिक थे, कंपनी बना ली. फिर सवाल किया कि हिंदुस्तान में किसी ढाबे वाले या मैकेनिक की कंपनी क्यों नहीं खुली. फिर जवाब दिया कि हमारे ढाबे वालों, धोबियों और मैकेनिकों के लिए बैंक के दरवाज़े बंद हैं.

– राहुल ने पीएम के स्किल इंडिया पर भी तंज कसा. कहा कि मोदी जी कहते हैं कि युवा को स्किल देने की ज़रूरत है. झूठा. ओबीसी वर्ल्ड (ओबीसी वर्ग समझ लीजिए) में स्किल की कमी नहीं है, लेकिन हुनर का आदर नहीं होता.

– पीएम मोदी ओबीसी नेताओं की नहीं सुनते, आरएसएस की सुनते हैं.

– हिंदुस्तान को आगे ले जाना है तो देश की 50-60 फीसदी आबादी (ओबीसी वर्ग की ओर इशारा) को आगे ले जाना होगा, बैंकों के दरवाज़े खोलने होंगे.

– हिंदुस्तान भाजपा के तीन नेताओं और आरएसएस का गुलाम बन गया है.

– हुनर और फायदे को बांटने वाली ताकत का नाम आरएसएस है.

राहुल के आज के बयान में सारा फुटेज एक शब्द खा गया – कोका कोला. लेकिन ये सनद रहे कि तीन राज्यों में चुनाव आ रहे हैं जहां सबसे ज़्यादा आबादी ओबीसी की है. और राहुल ओबीसी सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे.


ये भी पढ़ेंः
राहुल गांधी और भाजपा की सोशल मीडिया टीम के बीच ये ट्वीटबाज़ी पढ़ने लायक है
राहुल गांधी को ट्रोल करने की कोशिश में खुद ट्रोल हो गए परेश रावल
राहुल गांधी के एक बयान की वजह से कर्नाटक में हार गए सिद्धारमैया!
क्या सच में राहुल गांधी रायबरेली की इस विधायक से शादी करने वाले हैं?
वीडियो: राहुल गांधी पर जो फेंका गया, एकदम सटीक जा लगा

वीडियोः कौन है ये महिला, जिसके वायरल वीडियो रोज लाखों लोग देख रहे हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.