Submit your post

Follow Us

सिडनी टेस्ट के बाद अश्विन की बिटिया ने कौन सा सवाल पूछ लिया?

भारतीय क्रिकेट टीम इस समय ब्रिसबेन में है. ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ चार मैच की टेस्ट सीरीज़ का चौथा मैच खेलने. सीरीज़ फिलहाल 1-1 से बराबरी पर है. पिछला टेस्ट मैच सिडनी में था और एक वक्त हार के करीब खड़ी टीम इंडिया ने बड़ी दिलेरी से वो मैच ड्रॉ कराया था. इस ड्रॉ के तमाम जो हीरो रहे, उनमें से एक हैं आर अश्विन. मैच के बाद अश्विन की पत्नी प्रीति ने इंडियन एक्सप्रेस से बात की. प्रीति की बातों के ख़ास-ख़ास अंश..

अश्विन के दर्द पर

पिछले कुछ बरसों में मैंने अश्विन को कई बार दर्द में देखा है. इसलिए ये कह सकती हूं कि उसकी दर्द झेलने की क्षमता काफी ज़्यादा है. लेकिन इस बार ये काफी ज़्यादा था (सिडनी टेस्ट के चौथे दिन से). वे सुबह उठे (पांचवें दिन) तो बड़ी मुश्किल से फीजियो के रूम तक पहुंच सके. वो एक ही बात कह रहे थे – मुझे खेलना है. ये काम करके आना है (मैच बचाने का काम).

बच्चियों के सवाल पर

जब अश्विन सुबह इतने दर्द में थे तो बेटी आद्या ने बड़ा मासूम सवाल किया. कहा कि अप्पा, आप आज छुट्टी क्यों नहीं ले लेते? उसका कहना भी ठीक था. कि जब उनकी तबीयत गड़बड़ होती है तो स्कूल से छुट्टी ले लेते हैं. फिर उनके अप्पा ऐसा क्यों नहीं कर सकते?

परिवार वालों की फीलिंग्स

चौथे दिन का मैच मैं टीवी पर देख रही थी. उसी समय मुझे लग रहा था कि अश्विन को बैक में कुछ दिक्कत है. मैच के बाद जब वो कमरे में आए तो मैंने पूछा – तुम ठीक हो? वो तुरंत बोला – तुमने देखा नहीं मुझे बोलिंग करते हुए? मैं समझ गई. अश्विन उस दिन बार-बार फीजियो के पास जा रहे थे. दर्द में थे. मैं जानती थी कि हमारे कई और प्लेयर्स भी चोटिल हैं. मैच अभी किसी भी करवट जा सकता था. मैं सोच ही रही थी कि ये लोग (खिलाड़ी) कैसे मैच खेलेंगे.

प्रीति आगे लिखती हैं –

एक परिवार के तौर पर हमारे इमोशन भी उफान पर होते हैं. हमने इन्हें (खिलाड़ियों को) तैयारी करते, जूझते, प्रतिस्पर्धा की हद तक जाते देखा होता है. काफी करीब से. परिवार वाले भी लगातार उनके इस भाव को समझने की कोशिश करते हैं. लेकिन पूरी तरह तो कभी नहीं समझ पाएंगे.

प्रीति ने उस सवाल का भी ज़िक्र किया, जो अश्विन से उनकी बेटी ने किया. मैच ड्रॉ होने के बाद. उन्होंने बताया कि अश्विन मैच के बाद खुश थे. बेटी आद्या आई और बड़े मासूम तरीके से पूछा – “Did we win?” यानी ‘क्या हम जीत गए’.

सवाल मासूम था. शायद उस वक्त अश्विन के पास इसका कोई जवाब भी न रहा हो. छोटी सी बच्ची को आप ड्रॉ का मतलब तो समझा नहीं सकते. लेकिन आद्या जब बड़ी होगी, तब शायद समझेगी कि वो ड्रॉ भी जीत से कम नहीं था.


टिम पेन की स्लेजिंग अश्विन और विहारी को हिला नहीं पाई, जानिए कैसे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कृषि कानून पर फैसले के बाद वो सवाल, जिनके जवाब सुप्रीम कोर्ट को देने चाहिए

SC ने फैसले में ऐसा क्या कह दिया, जिस पर सवाल उठ रहे हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने जिन चार लोगों की कमिटी बनाई है, क्या उनमें ज्यादातर कृषि कानूनों के समर्थक हैं?

किसान आंदोलन को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले से किसे ख़ुश होना चाहिए?

क्या सुप्रीम कोर्ट ने तीनों कृषि कानूनों को ग़लत माना?

क्या सुप्रीम कोर्ट कृषि कानूनों को होल्ड पर रखने जा रही है?

डॉनल्ड ट्रम्प के समर्थकों ने अमेरिका की राजधानी में मचाया दंगा, 4 लोगों की मौत, वॉशिंगटन में कर्फ़्यू

फ़ेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम ने ट्रम्प पर बैन लगा दिया है.

चांदनी चौक: हनुमान मंदिर तोड़ने के पीछे की असल वजह क्या है, जान लीजिए

BJP, AAP और कांग्रेस मंदिर ढहाने का ठीकरा एक दूसरे पर फोड़ रही हैं.

शाहजहांपुर बॉर्डर से हरियाणा में घुस रहे किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

किसान नेताओं ने क्या ऐलान किया है?

कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी को किस मामले में जेल भेज दिया गया है?

मध्य प्रदेश में बीजेपी विधायक के बेटे ने दर्ज करवाया था केस.

तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया के पांच खिलाड़ियों को आइसोलेट क्यों कर दिया गया?

इसमें रोहित शर्मा का नाम भी शामिल है.

देश के स्वास्थ्य मंत्री बोले सबको फ्री देंगे वैक्सीन, फिर ट्वीट करके कुछ और बात कह दी

जानिए देश में कहां-कहां वैक्सीन का ड्राई रन चल रहा है.

BCCI अध्यक्ष और पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली अस्पताल में भर्ती

ममता बनर्जी का ट्वीट-गांगुली को हल्का कार्डियक अरेस्ट आया है.