Submit your post

Follow Us

पुलवामा बरसी: CPI(M) नेता सलीम मोहम्मद बोले- पता लगाएं कि RDX कैसे आया?

पुलवामा हमले को एक साल हो गए हैं. आज (14 फरवरी. 2020) पहली बरसी है. हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हुए थे. पहली बरसी पर हर कोई उन्हें याद कर रहा है, श्रद्धांजलि दे रहा है. शहीद जवानों की याद में पुलवामा के लेथिपोरा गांव में एक मेमोरियल का उद्घाटन किया जाना है. इस पर CPI(M) नेता मोहम्मद सलीम ने सवाल उठाए.

उन्होंने लिखा,

‘हमें कोई मेमोरियल की जरूरत नहीं है, जो हमारी अक्षमता को याद दिलाता रहे. केवल एक चीज़ हमें जानने की जरूरत है, ये कि 80 किलो RDX इंटरनेशनल बॉर्डर कैसे पार कर गया. वो भी उस जगह आ गया, जहां इतनी बड़ी तादाद में सेना मौजूद थी. कैसे पुलवामा में अटैक हुआ? पुलवामा हमले पर न्याय की जरूरत है.’

Mohammad Salim Tweet
मोहम्मद सलीम का ट्वीट.

इसके अलावा राहुल गांधी ने भी पुलवामा हमले पर सवाल किए. श्रद्धांजलि देते हुए तीन सवाल किए.

1. हमले से सबसे ज्यादा किसे फायदा हुआ?

2. हमले को लेकर हुई जांच से क्या पता चला?

3. सुरक्षा में चूक के लिए मोदी सरकार में किसकी जवाबदेही तय हुई?

एक साल पहले क्या हुआ था?

14 फरवरी, 2019. दोपहर के तीन बज रहे थे. सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के जवानों का काफिला श्रीनगर-जम्मू हाइवे से गुजर रहा था. काफिला जब पुलवामा में था, उसी वक्त जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकियों ने उस पर हमला कर दिया. इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर यूपी और राजस्थान की पुलिस में पटका-पटकी हो गई है!

डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे तब मामला शांत हुआ.

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.

क्या सोशल डिस्टेंसिंग से चूकने की इतनी बुरी सज़ा देगी पुलिस?

किसी एक पुलिसवाले का ऐसा करना बाकियों की मेहनत पर पानी फेर देता है.

उदयपुर में एक ही दिन में कोरोना वायरस के 58 केस सामने आए

राजस्थान में मरीज़ों की संख्या तीन हज़ार से ऊपर पहुंच चुकी है.

सूरत: BJP कार्यकर्ता पर आरोप, घर पहुंचाने के नाम पर मजदूरों से पैसे लिए, टिकट मांगने पर पीटा!

एक अन्य वीडियो में BJP पार्षद के भाई टिकट के ज्यादा पैसे लेते दिखे.