Submit your post

Follow Us

बाइक चला रहे CJI बोबड़े पर ट्वीट करने पर twitter और वकील प्रशांत भूषण पर अवमानना का केस हो गया!

सुप्रीम कोर्ट के वक़ील प्रशांत भूषण और सोशल मीडिया वेबसाइट Twitter पर सुप्रीम कोर्ट ने ही स्वतः संज्ञान लेते हुए contempt of court यानी अदालत की अवमानना का मुक़दमा दर्ज किया है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आज यानी 22 जुलाई को प्रशांत भूषण, twitter और भारत के अटर्नी जनरल केके वेणुगोपाल को नोटिस भी जारी किया है. वेणुगोपाल को नोटिस भूषण और twitter के खिलाफ़ अवमानना के मुक़दमे पर राय जानने के लिए दिया गया है.

क्यों दर्ज हुआ केस?

प्रशांत भूषण के दो ट्वीट्स को लेकर.

पहला ट्वीट : जस्टिस एसए बोबड़े की बाइक पर

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस (CJI) एसए बोबड़े की एक तस्वीर बहुत वायरल हुई थी. तस्वीर में बोबड़े एक भारी भरकम बाइक पर सवार हैं. बाइक की क़ीमत लाखों में आंकी गयी थी. इस पर प्रशांत भूषण ने 29 जून 2020 को एक ट्वीट किया. ट्वीट में प्रशांत भूषण ने कहा,
“CJI नागपुर के राजभवन में BJP नेता की 50 लाख रुपए की बाइक बिना मास्क और हेलमेट के चला रहे हैं. और वो भी उस समय जब उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में लॉकडाउन लगा रखा है, जिससे भारतीय नागरिक अपने न्याय पाने के मूलभूत अधिकार से वंचित हैं.”

दूसरा ट्वीट : भारत के पिछले 4 CJI के रोल पर

प्रशांत भूषण ने इससे पहले एक और ट्वीट किया था. और उस ट्वीट पर भी अच्छा ख़ासा हल्ला मचा था. ट्वीट में भूषण ने कहा था कि इतिहासकार जब बीते 6 सालों को देखेंगे कि आधिकारिक रूप से आपातकाल लगाए बिना कैसे लोकतंत्र को बर्बाद किया गया, तो इसमें वो इसमें सुप्रीम कोर्ट की भूमिका और ख़ासकर पिछले 4 CJI के रोल का ज़रूर उल्लेख करेंगे

भूषण पर कहा जा रहा है कि इन्हीं दो ट्वीट्स की वजह से अवमानना का मुक़दमा दर्ज हुआ है. मौजूदा मामला तो स्वतः संज्ञान का है, यानी कोर्ट ने ख़ुद इसका संज्ञान लिया है, लेकिन 9 जुलाई को मध्य प्रदेश के गुना के एक वक़ील महक माहेश्वरी ने भी इन्हीं दो ट्वीट के आधार पर सुप्रीम कोर्ट में प्रशांत भूषण और ट्विटर के खिलाफ़ याचिका दायर की थी. मौजूदा केस में इस याचिका का कितना रोल है, ये अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है.

कौन कर रहा है सुनवाई?

जस्टिस बीआर गवई, जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस कृष्ण मुरारी

पहले दिन की सुनवाई में क्या हुआ?

पहले दिन ट्विटर इंडिया की ओर से साजन पोवैय्या कोर्ट में उपस्थित हुए. उन्होंने कहा कि इस मामले में ट्विटर इंडिया के बजाय Twitter, Inc. को पक्षकार बनाना चाहिए. उन्होंने ये भी कहा कि कोर्ट के एक आदेश के बाद प्रशांत भूषण का ट्वीट डिलीट किया जा सकता था.

इस पर कोर्ट का जवाब रोचक था. न्यूज़ 18 के मुताबिक़, जस्टिस अरुण मिश्रा ने साजन पोवैय्या से कहा,

“आप ख़ुद से ट्वीट क्यों नहीं डिलीट कर सकते हैं? हमने अवमानना का मुक़दमा शुरू कर दिया है, इसके बाद भी आप कोर्ट ऑर्डर का इंतज़ार करते रहेंगे? हमें लगता है कि हम कोई ऑर्डर पास नहीं करेंगे और बाक़ी हम आपकी सूझबूझ पर छोड़ते हैं.”

कोर्ट ने भी स्वीकार किया कि मामले में Twitter, Inc. को पक्षकार बनाना चाहिए. और कोर्ट ने ट्विटर इससे सम्बंधित आवेदन करने की अनुमति भी दे दी है. इस मामले में अगली सुनवाई 5 अगस्त को होगी.

 

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

सचिन पायलट को दो दिन का आराम मिला है

राजस्थान में तनातनी के बीच हाईकोर्ट में फैसला पेंडिंग है.

अस्पताल ने कोरोना पेशेंट को निगेटिव बताकर घर भेज दिया, अब पूरा गांव सील हो गया

मामला जगदलपुर मेडिकल कॉलेज का है.

16 साल की लड़की ने माता-पिता को मारने वाले तीन आतंकवादियों को मार डाला

घर में आतंकवादी घुसकर मां पिता को मारकर लौट रहे थे.

गाज़ियाबाद के उस पत्रकार की मौत हो गई, जिन्हें यौन शोषण की शिकायत पर गोली मारी गई थी

पुलिस पर लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहा है परिवार.

बिहार BJP MLC सुनील कुमार सिंह की कोरोना वायरस से मौत

पिछले कुछ दिनों से एम्स में वेंटिलेटर पर थे.

हाइप के घोड़े पर सवार 'वनप्लस नॉर्ड' की सवारी इंडिया पहुंच ही गई

जानें कब, कहां और कैसे मिलेगा फोन.

विकास दुबे ने पुलिस को क्या-क्या धमकी दी थी, नई ऑडियो क्लिप वायरल!

कथित ऑडियो क्लिप में पुलिस वाले से दुबे की बातचीत सुनाई दे रही है.

विद्या बालन ने कहा, 'सुशांत जहां भी हैं, उन्हें शांति से रहने दें'

एक इंटरव्यू में नेपोटिज़म पर भी बोल गईं.

सुशांत की फिल्मों को खराब रेटिंग दी, क्या इसलिए फिल्म क्रिटिक राजीव मसंद को पुलिस ने बुलाया?

अपना स्टेटमेंट रिकॉर्ड करने के लिए बांद्रा पुलिस स्टेशन जाना पड़ा राजीव मसंद को.

कोरोना वायरस मच्छरों के काटने से फैलता है या नहीं, पता चल गया

पहले WHO ने बताया था, पर अब वैज्ञानिकों ने साबित किया है.