Submit your post

Follow Us

सुप्रीम कोर्ट ने क्यों कहा, क्या यूपी सरकार पाकिस्तान में उद्योगों को बैन करना चाहती है?

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण (Air Pollution) को नियंत्रित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने एयर क्वालिटी मैनेजमेंट कमीशन के फैसले को लागू करने के आदेश दिए हैं. कोर्ट ने ये आदेश केंद्र और दिल्ली सरकार को दिए हैं. इससे एक दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट की कड़ी टिप्पणी के बाद आयोग ने कई फैसले लिए थे. आज 03 दिसंबर को इन फैसलों के बारे में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट को जानकारी दी.

लाइव लॉ की एक रिपोर्ट के अनुसार सॉलिसिटर जनरल ने कोर्ट को बताया कि कमीशन ने ‘इमरजेंसी टास्क फोर्स’ और ‘फ्लाइंग स्क्वाड्स’ बनाने का फैसला लिया है. टास्क फोर्स का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना होगा कि कमीशन के फैसले लागू किए जाएं. कोर्ट को यह भी बताया गया कि कमीशन ने उन उद्योंगों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है, जो PNG या फिर दूसरे साफ ईंधन का प्रयोग नहीं कर रहे हैं. ऐसे उद्योगों को सप्ताह के आखिर में बंद किया जाएगा. साथ ही साथ दिल्ली में प्रवेश की 124 जगहों पर टीम्स को तैनात किया गया है, ताकि राजधानी के अंदर CNG का प्रयोग ना करने वाले ट्रक ना घुस पाएं.

‘पाकिस्तान से आ रहा प्रदूषण’

कमीशन की तरफ से साफ ईंधन का प्रयोग ना करने वाले उद्योगों पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर उत्तर प्रदेश सरकार ने आपत्ति जताई. यूपी सरकार की तरफ से कहा गया कि इस प्रतिबंध से उत्तर प्रदेश के गन्ना और दूध से जुड़े उद्योगों पर बुरा असर पड़ेगा. यूपी सरकार की तरफ से यह भी कहा गया कि दिल्ली में ज्यादातर प्रदूषित हवा पाकिस्तान से आ रही है. इस दलील के जवाब में CJI एनवी रमना ने पूछा कि क्या यूपी सरकार पाकिस्तान में उद्योंगों पर प्रतिबंध लगाना चाहती है.

दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि यूपी सरकार अपनी सारी चिंताएं एयर क्वालिटी मैनेजमेंट कमीशन के सामने रख सकती है. दूसरी तरफ अगर वायु गुणवत्ता की बात करें तो हल्की बारिश के बाद भी दिल्ली-एनसीआर में सांस लेना अभी भी दूभर है. दिल्ली एनसीआर में वायु गुणवत्ता अभी भी 400 के ऊपर है. जो स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक है.

हॉस्पिटल निर्माण जारी रहेगा

इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में हॉस्पिटल निर्माण जारी रहने देने की दिल्ली सरकार की याचिका पर भी विचार किया. इस याचिका को केंद्र सरकार का भी समर्थन मिला. अपनी याचिका में दिल्ली सरकार ने कहा कि निर्माण कार्य पर बैन लगाने से हेल्थ सेंटर्स और अस्पतालों के निर्माण पर बुरा असर पड़ रहा है. दिल्ली सरकार की इस दलील के बाद कोर्ट ने हॉस्पिटल निर्माण जारी रखने की मंजूरी दे दी. इस संदर्भ में अगली सुनवाई 10 दिसंबर को होगी.

दिल्ली सरकार का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने उन मीडिया रिपोर्ट्स पर भी आपत्ति जताई, जिनमें यह बताया गया कि सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगर दिल्ली सरकार प्रदूषण नियंत्रित करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाती, तो वो सरकार चलाने के लिए किसी और को नियुक्त कर देगा. कोर्ट ने भी माना कि उसने ऐसी टिप्पणी कभी नहीं की और मीडिया को जिम्मेदार तरीके से रिपोर्टिंग करनी चाहिए. कोर्ट की तरफ से कहा गया कि मीडिया का एक हिस्सा उसे विलेन के तौर पर पेश करने की कोशिश करता है.


वीडियो- दिल्ली में वायु प्रदूषण की वजह से हो रही परेशानियों पर ‘दी लल्लनटॉप’ के न्यूजरूम में क्या बातें हुईं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?