Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

शुभ मुहूर्त के चक्कर में करवाया पत्नी का ऑपरेशन, पर बच्चा होने के बाद कांड हो गया

739
शेयर्स

दुनिया चांद पर न जाने कब पहुंच गई और हिंदुस्तान में कुछ लोग पाताल में जाने पर तुले हैं. ये बात ऐसे ही नहीं कह रहे हैं. लोगों की हरकतें ही ऐसी हैं. माने इन्हें हर चीज का टाइम चाहिए होता है. वो भी एकदम शुभ. ज्योतिषियों के आगे-पीछे मंडराया करते हैं. अब तक आपने सुना होगा कि लोग घर-कारोबार में कुछ करने के लिए शुभ समय खोजते हैं. लेकिन कुछ लोग बच्चा पैदा करने के लिए शुभ टाइम खोजने लगे हैं.

ये वाला मामला गाजियाबाद का है. एक पुलिस वाले का. नाम है हिमांशु शर्मा. भाईसाहब को बच्चा एकदम शुभ समय में चाहिए था. तो एक पंडित से कॉन्टैक्ट किया, यहीं गोविंदपुरम इलाके के एक मंदिर में. पंडित ने सोच-विचार के टाइम बता दिया. और वो अपनी पत्नी को लेकर पहुंच गए डॉक्टर के पास. सिजेरियन ऑपरेशन करवा दिया. बच्चा हो गया. बड़े खुश थे. सोच रहे होंगे, अब तो बच्चा विराट कोहली या रणबीर कपूर ही बनेगा. मगर इस बीच उन्हें कहीं से खबर मिली कि बच्चा मूल नक्षत्र में पैदा हो गया है. बताया जा रहा है कि ऐसा सुनने में गलतफहमी होने के कारण हुआ. माने पंडित ने समय बताया कुछ और हिमांशु ने सुना कुछ और.

सिजेरियन के मामलों में ज्यादातर ज्योतिषों की सलाह पर होते हैं.
सिजेरियन के मामलों में ज्यादातर ज्योतिषों की सलाह पर होते हैं.

पुलिस वाला बौरा गया. आरोप है कि वो तुरंत दल-बल और लाठी-डंडा लेकर पहुंच गया पुजारी के पास. मंदिर में तोड़फोड़ होने लगी. पंडित को पीट दिया. घटना 14 जनवरी की है. सीसीटीवी में भी ये हरकत कैद हो गई है. घटना के बाद पीड़ित पुजारी और लोगों ने मंदिर को बंद कर दिया. साथ ही घटना की लिखित शिकायत कविनगर पुलिस से की. एसएसपी ने मंदिर से जुड़े लोगों को सही जांच और सुरक्षा का आश्वासन दिया है.

बच्चे के लिए अच्छा नहीं है ये अंधविश्वास.
बच्चे के लिए अच्छा नहीं है ये अंधविश्वास.(सांकेतिक फोटो)

हर पांच में से एक सिजेरियन में होता है यही ‘शुभ मुहूर्त’

ऊपर बताया गया मामला कोई अनोखा नहीं है. देश में हर 5 ऐच्छिक सिजेरियन ऑपरेशन में 1 ऐसे ही किसी ना किसी ज्योतिष या पंडित की सलाह के कारण ही होता है. जबकि ये बच्चे से लेकर मां के लिए बेहद खतरनाक है. साफ है कि जो समय डॉक्टर को तय करना चाहिए, वो ज्योतिष तय कर रहे हैं, तो खतरा तो होगा ही. मगर कुछ लोगों को इन शुभ मुहूर्त की इतनी चुल्ल होती है कि वो इस बात से भी नहीं डरते कि ये कदम उनके बच्चे को खत्म कर सकता है. अगले बच्चे के होने पर दिक्कत पैदा कर सकता है. अंधविश्वास का ये खेल हर हाल में खत्म हो जाना चाहिए.


ये भी पढ़ें-

अब आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर इतना टोल लेंगे, इतना टोल लेंगे कि…

…जब ओ.पी. के गानों को अश्लील मानते हुए ऑल इंडिया रेडियो ने कर द‍िया बैन!

ये जो अजीब से नंबर आते हैं न टीवी स्क्रीन में, वो ऐंवेई नहीं हैं

दुनिया की सबसे ज्यादा बाल वाली लड़की ने पहली बार अपना चेहरा देखा

कौन है वो युवा साध्वी, 21 की उम्र में जिसके लाखों भक्त हैं?

लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Policemen made his wife go through Cesarean operation after advice from priest for a good time for birth

क्या चल रहा है?

एक तरफ बुलंदशहर जल रहा था, दूसरी ओर बलरामपुर के एसपी साहब आग भड़का रहे थे

क्या मिल गया बलरामपुर के एसपी को झूठ फैलाकर?

गौतम गंभीर ने संन्यास लिया और अपने इस वीडियो से इमोशनल कर दिया

उन ढेरों शानदार इनिंग्स के लिए शुक्रिया, गंभीर!

बुलंदशहर में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध के पिता भी हुए थे शहीद

सुबोध के पिता भी पुलिस फोर्स में थे. डकैतों से मुठभेड़ में उन्हें गोली लगी. उन्हीं की जगह सुबोध को नौकरी मिली.

क्या बुलंदशहर में बड़े दंगे की तैयारी में खेत में टांगा गया था गोमांस?

तहसीलदार के मुताबिक, गोकशी करने वाला कोई आदमी इस तरह चमड़ी और सिर नहीं टांगेगा.

कौन है बुलंदशहर में दरोगा सुबोध के कत्ल वाली घटना का मुख्य आरोपी योगेश राज

इस घटना के कई आरोपी बजरंगदल, वीएचपी आदि संगठनों से जुड़े बताए जा रहे हैं...

बिग बॉस 12: जसलीन क्यों दे रही हैं घरवालों को भद्दी गालियां?

अनूप जलोटा के जाने के बाद पहली बार इतनी खुलकर सामने आई हैं जसलीन.

रजनीकांत और अक्षय कुमार की फिल्म '2.0' ने इतने पैसे कमा लिए हैं

'बधाई हो' की कमाई जहां अब भी ज़ारी है, वहीं 'ठग्स ऑफ हिन्दोस्तां' का बंडल बंध गया है.

बिग बॉस 12: एक लड़की को बहुत गंदी बात कहने के लिए सलमान खान ने श्रीसंत को लताड़ दिया

इसके बाद सलमान से भी बद्तमीज़ी कर बैठे श्रीसंत.

तेल के बढ़ते दामों पर फ्रांस में हिंसक प्रदर्शन, इमरजेंसी जैसे हालात

ग्लोबल लेवल पर कीमतें कम होने पर भी फ्रांस में कीमतें कम नहीं हुईं, टैक्स बढ़ा दिया.

बीजेपी कैंडिडेट लोगों के चूल्हे तक पहुंच गए, लोगों ने पूछ लिया उज्ज्वला योजना कहां है

वोट पाने के लिए रोटियां सेंकनी पड़ रही हैं.