Submit your post

Follow Us

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के मसले पर एक बार फिर देश को संबोधित किया. इसमें उन्होंने लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की बात कही. साथ ही कहा कि 20 अप्रैल तक लॉकडाउन में सख्ती की जाएगी. इसके बाद जहां मामले नहीं होंगे, वहां पर राहत दी जाएगी. पीएम ने अपने भाषण में स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में भी बताया.

पीएम मोदी ने कहा-

हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर के मोर्चे पर भी हम तेजी से आगे बढ़ रहे हैं. जनवरी में हमारे पास कोरोना की जांच के लिए सिर्फ एक लैब थी. अब 220 से अधिक लैब में टेस्टिंग का काम हो रहा है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में अभी 223 लैब में कोरोना टेस्ट हो रहे हैं. इनमें से 157 सरकारी और 66 प्राइवेट लैब हैं. सरकारी लैब में कोरोना टेस्ट फ्री है. वहीं प्राइवेट लैब में जांच के 4500 रुपये लगते हैं. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने गरीब परिवारों की जांच मुफ्त करने का आदेश दिया है.

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी आईसीएमआर ने बताया था कि देश में अभी रोजाना 15 हजार से ज्यादा कोरोना टेस्ट हो रहे हैं. इस संख्या को बढ़ाने के प्रयास भी किए जा रहे हैं.

रैपिड किट पर नहीं बोले पीएम

हालांकि पीएम ने अब तक कितने कोरोना टेस्ट हुए, इसकी जानकारी नहीं दी. साथ ही देश में रैपिड टेस्ट कराने को लेकर कुछ नहीं कहा. बता दें कि भारत ने चीन से रैपिड किट मंगाई है. लेकिन अभी तक यह किट आई नहीं हैं. तीन बार इन किट के आने की डेडलाइन जा चुकी है. बताया गया है कि अब चीन के रैपिड किट 15 अप्रैल को आएंगी.

600 अस्पतालों में कोरोना का इलाज

साथ ही पीएम मोदी ने देश के अस्पतालों में मरीजों के लिए बिस्तरों की व्यवस्था के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा-

WHO कहता है कि 10 हजार मरीज होने पर अस्पतालों में डेढ़ हज़ार बेड की जरूरत है. भारत में आज हम एक लाख से अधिक बिस्तरों की व्यवस्था कर चुके हैं. इतना ही नहीं, 600 से भी अधिक ऐसे अस्पताल हैं, जो सिर्फ COVID-19 के इलाज के लिए काम कर रहे हैं. इन सुविधाओं को और तेजी से बढ़ाया जा रहा है.

इससे पहले पीएम ने 24 मार्च को पहली बार लॉकडाउन के ऐलान के वक्त भी स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने की बात कही थी. उन्होंने स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाने के लिए 15 हजार करोड़ रुपए देने का ऐलान किया था. उन्होंने कहा था कि इससे कोरोना से जुड़ी टेस्टिंग फेसिलिटीज, पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट्स, आइसोलेशन बेड, आईसीयू बेड, वेंटिलेटर और अन्य जरूरी साधन खरीदे जाएंगे.

सरकार ने कहा- जरूरत से ज्यादा तैयार हैं

कोरोना के चलते अस्पतालों में बिस्तरों के बारे में सरकार की ओर से कहा गया है कि जरूरत से ज्यादा तैयारी की गई है. 12 अप्रैल को हेल्थ सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने कहा था कि देश में टेस्टिंग, ट्रेनिंग और अस्पताल में भर्ती करने की तैयारी कोरोना के मामलों से ज्यादा है. उन्होंने कहा था कि 12 अप्रैल तक देश में अगर कोरोना मरीजों के लिए 1671 बेड चाहिए, तो हमारे पास एक लाख पांच हजार बेड हैं.

देश में ट्रेनों के कोच में भी कोरोना के चलते बेड तैयार किए जा रहे हैं. ट्रेन की बोगियों में आइसोलेशन वॉर्ड भी बनाए गए हैं.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: मोदी सरकार ने कहा, कोरोना से निपटने के लिए ‘आगरा मॉडल’ अपनाएं राज्य

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

अफवाह फैली कि मोदी ने पैसा भेजा है, नहीं निकाला तो वापस चला जाएगा, भीड़ टूट पड़ी

पैसा निकालने के लिए सुबह आठ बजे से ही लोग बैंक पहुंच रहे हैं.

ज़हीर खान ने बताया दादा और धोनी की कप्तानी में क्या कॉमन था

दोनों की कप्तानी में एक बात तो सेम थी.

शोएब अख़्तर ने सुझाई विराट कोहली को आउट करने की तरकीब

ये वही तरीका है, जो शोएब पहले भी कई बार इस्तेमाल कर चुके हैं.

12 फरवरी को ही कोरोना पर ट्वीट करके चेताने वाले राहुल गांधी ने अब क्या कहा है?

लॉकडाउन, टेस्टिंग और बेरोजगारी पर राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ़्रेन्स.

सांड के अंतिम संस्कार में हज़ारों लोग पहुंचे, सोशल डिस्टेंसिंग की टांई टुइंय्या फुस्स

सांड के अंतिम संस्कार में शामिल हुए लोगों के खिलाफ FIR दर्ज.

प्रॉपर्टी विवाद में शख्स ने महिला को गोली मार दी और लोग वीडियो बनाते रहे

घटना का वीडियो वायरल होने के बाद शख्स को गिरफ्तार किया गया.

बांद्रा में मजदूरों के इकट्ठा होने पर पुलिस ने शुरुआती जांच में क्या-क्या कहा?

मुंबई पुलिस कई ऐंगल से मामले की जांच कर रही है.

केरल में पुलिस ने बीमार को ऑटो से उतारा तो बेटा गोद में उठाकर चल पड़ा

ह्यूमन राइट्स कमिशन ने मामले को लेकर मामला दर्ज किया है.

आंध्र प्रदेश: तबलीगी जमात से लौटने वालों के संपर्क में आने से 40 बच्चे कोरोना पॉजिटिव हो गए

कुछ मामलों में तो परिवार की पूरी महिलाएं कोरोना पॉजिटिव.

स्टुअर्ट ब्रॉड, माइकल होल्डिंग और शॉन पोलॉक ने किसे माना 'बोलर ऑफ द जेनरेशन'?

तीनों ने एक ही बोलर की तारीफ में पढ़े कसीदे.