Submit your post

Follow Us

मोदी ने अक्षय कुमार वाले इंटरव्यू में बताया कि क्यों वो स्कूल से चॉक उठाकर घर ले आते थे

5
शेयर्स

एक्टर अक्षय कुमार ने पीएम नरेंद्र मोदी का ‘नॉन पॉलिटिकल’ इंटरव्यू लिया है. इस दौरान मोदी अक्षय को अपनी जिंदगी का वो किस्सा सुनाते हैं, जब वे लोटे में गर्म कोयला डालकर अपने कपड़े प्रेस किया करते थे. मोदी ने ये भी बताया कि वे अपने कपड़ों को लेकर इतना संजीदा क्यों रहते हैं. उन्होंने कहा कि ऐसा शायद अभावों में पलने की वजह से है.

अक्षय ने सवाल किया कि आपका फैशन आपने खुद से किया है या आपको किसी ने सुझाया है? दाढ़ी कपड़े वगैरह?

इसका जवाब देते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा –

“आपने मुझे मेरे फैशन के लिए पूछा. ये बात सही है कि ढंग से रहना ये मेरी प्रकृति थी. शायद एक कारण ये भी था कि गरीबी के कारण कभी-कभी छोटा महसूस करता था लोगों के बीच. शायद साइकोलॉजी पढ़ी होगी बचपन में. हमारे घर में वो प्रेस तो थी नहीं, तो मैं क्या करता था कि लोटे में गर्म कोयला भर लेता था और उसी से कपड़ों को प्रेस करता था, और पहन कर जाता था. जूते थे नहीं. एक बार मेरे मामा घर में आए तो उन्होंने सफेद जूते दिला दिए. फिर मैं क्लासरूम में रुका रहता था और चॉक के टुकड़े इकट्ठा करता था. फिर हर दिन सुबह-सुबह जूतों पर उसे लगा देता था ताकि वो सफेद बने रहें.”

मोदी ने बताया –

“मेरे कपड़ों को लेकर भी एक छवि बनाई गई है. लेकिन सच ये है कि मेरे पास एक झोला रहता था. छोटे बैग में मेरी जिंदगी थी. जब तक सीएम बना तब तक मैं अपने कपड़े खुद धोता था. मैं सोचता था कि कमीज की लंबी बाहें रखूंगा तो ज्यादा धुलाई करनी पड़ेगी. दूसरी वजह ये थी कि मेरे बैग में वो जगह ज्यादा लेता था. इसलिए मैंने खुद ही उसे काट दिया. कई कपड़ों की बाजुएं काट दीं.”


वीडियोः प्रधानमंत्री आवास योजना: घर बनाने वाली स्कीम की तीसरी किस्त के बाद हो रहा बड़ा गड़बड़झाला

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोर्ट के आदेश के बाद वो 3 मौके, जब योगी सरकार ने 'दंगाइयों' से जुर्माना नहीं वसूला

और सवाल उठ रहे कि इस बार ही क्यों?

मोदी के जिस ड्रीम प्रोजेक्ट पर सरकार ने करोड़ों खर्च किये वो फ्लॉप हो गया

इसके प्रचार के लिए सरकार ने जगह-जगह बड़े-बड़े होर्डिंग्स लगवाए थे.

नए साल की पहली खुशखबरी आ गई, रेलवे का किराया बढ़ गया

सेकंड क्लास, स्लीपर, फ़र्स्ट क्लास, एसी सबका किराया बढ़ा है रे फैज़ल...

CAA Protest : यूपी पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाने वालों को पुलिस ने क्यों ब्लॉक किया?

यूपी पुलिस की इस कार्रवाई का क्या मतलब है?

जिस अधिकारी पर प्रियंका गांधी ने गला दबाने का आरोप लगाया उसने क्या कहा है

भाई की मौत की खबर मिलने के बाद भी ड्यूटी पर तैनात थीं अफसर.

प्रियंका गांधी का UP पुलिस पर बड़ा आरोप, 'मुझे घेरा और मेरा गला दबाया'

लखनऊ दौरे पर हैं प्रियंका गांधी.

एक महीने में 77 बच्चों की मौत पर राजस्थान के CM बोले- इसमें कोई नई बात नहीं है

अस्पताल में इसी साल अब तक 940 बच्चों की मौत हो गई है.

क्या आर्मी चीफ बिपिन रावत ने अपने ताज़ा बयान से लाइन क्रॉस की है?

CAA प्रोटेस्ट का नाम लिए बग़ैर अपने 'विचार' रखे. फिर सेना के अफसरों से लेकर नेताओं तक ने प्रतिक्रिया दी.

100 लोगों से भरे प्लेन ने उड़ान भरी और तुरंत बाद एक बिल्डिंग से टकराकर क्रैश हो गया

अभी कुछ मौतों की पुष्टि हुई है, आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है.

क्या मुखर्जी नगर में रहने वाले स्टूडेंट्स को जबरन छुट्टी पर भेज रही है दिल्ली पुलिस?

लोग इसे CAA प्रोटेस्ट से जोड़कर देख रहे हैं.