Submit your post

Follow Us

RTI से पीएम मोदी की नागरिकता का सर्टिफिकेट मांगा, PMO ने क्या जवाब दिया?

पिछले दिनों एक ख़बर आई. असम की एक महिला जाबेदा बेगम  ने अपनी नागरिकता साबित करने के लिए पैन, आधार, वोटर कार्ड जैसे 15 डॉक्यूमेंट पेश किए, लेकिन गुवाहाटी हाईकोर्ट में अपनी नागरिकता साबित नहीं कर पाईं. इससे पहले फॉरेनर्स ट्रिब्यूनल में उन्हें विदेशी घोषित किया गया था. अब उन्हें साबित करना है कि वो भारत की नागरिक हैं. तमाम काग़ज़ भी उनकी मदद नहीं कर पा रहे हैं.

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के बाद से देश के कई हिस्सों में तूफान आया हुआ है. इसके साथ NRC-NPR का नाम भी लिया जाता है. नागरिकता कैसे साबित हो, इसके लिए कौन से काग़ज़ होने चाहिए, ऐसी बातें चल रही हैं. कुल मिलाकर कन्फ्यूज़न वाला माहौल है.

इन सबके बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नागरिकता को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) से एक सवाल पूछा गया. शुभांकर सरकार ने RTI लगाई. पीएम मोदी की नागरिकता का सर्टिफिकेट मांगा. इस पर PMO ने जवाब दिया कि पीएम मोदी जन्म से भारत के नागरिक हैं.

17 जनवरी, 2020 को दायर RTI याचिका में सवाल था,

कृपया हमारे सम्मानित प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी की नागरिकता का सर्टिफिकेट दिखाइए.

इस पर PMO के अंडर सेक्रेटरी प्रवीन कुमार की तरफ से जवाब दिया गया,

प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी नागरिकता कानून, 1955 के सेक्शन 3 के तहत जन्म से भारत के नागरिक हैं. ऐसे में सर्टिफिकेट का सवाल नहीं उठता, जो कि रजिस्ट्रेशन से नागरिकता के लिए होता है.

शुभांकर सरकार की तरफ से दायर की गई RTI याचिका पर PMO का जवाब.
शुभांकर सरकार की तरफ से दायर की गई RTI याचिका पर PMO का जवाब.

नागरिकता कानून, 1955 का सेक्शन 3

नागरिकता कानून, 1955 के सेक्शन 3 में जन्म से नागरिकता की बात है. इसमें कहा गया है कि-

1. सब-सेक्शन (2) को छोड़कर हर वो शख्स भारत का नागरिक है जो-

(a) 26 जनवरी, 1950 से 1 जुलाई, 1987 के बीच भारत में पैदा हुआ हो.

(b) 1 जुलाई, 1987 से लेकर नागरिकता संशोधन कानून, 2003 लागू होने तक भारत में पैदा हुआ हो और माता-पिता में कोई भी भारत के नागरिक हों.

(c) नागरिकता संशोधन कानून, 2003 लागू होने के बाद, जिसमें-

(i) माता-पिता दोनों भारत के नागरिक हों.
(ii) माता-पिता में कोई एक भारत का नागरिक हो और दूसरा अवैध प्रवासी ना हो.

2. कोई व्यक्ति भारत का नागरिक नहीं होगा अगर;

(a) उसके माता-पिता को मुकदमों और कानूनी प्रक्रिया से छूट मिली हो, जो भारत के राष्ट्रपति की तरफ से एक विदेशी संप्रभु सत्ता के दूत को दी जाती है.

(b) उसके माता-पिता दुश्मन देश से हों और जन्म किसी दुश्मन देश के कब्जे वाले क्षेत्र में हुआ हो.


दिल्ली हिंसा पर पीएम मोदी ने तोड़ी चुप्पी, शांति की अपील की

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.

मोदी ने दिव्यांग लड़के को फोन दिया, उसने पक्के इलाहाबादी वाला काम कर दिया

कुछ ऐसा कि आप भी जानकर मुस्कुरा देंगे.

दिल्ली दंगा: पुलिस ने 5 लड़कों से जबरन राष्ट्रगान गाने को कहा था, उनमें से एक की मौत हो गई

ये वीडियो खूब वायरल हुआ था.

हॉन्गकॉन्ग के एक पालतू कुत्ते में भी मिला कोरोनावायरस!

कुत्ते के साथ रह रहा इंसान पहले से कोरोनावायरस का मरीज़ था.

कोर्ट में आपस में ही मारपीट पर उतर आए CBI अधिकारी!

राकेश अस्थाना से जुड़ा हुआ मामला.