Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन तोड़ा, गिरफ्तार हुआ तो लोग विरोध में पुलिस पर ही पत्थर फेंकने लगे

मध्य प्रदेश का इंदौर ज़िला. पूरे प्रदेश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले यहीं पर हैं. बहुत से इलाके कंटेनमेंट ज़ोन बने हुए हैं. लेकिन लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे. और पुलिस एक्शन ले रही है तो उस पर ही चढ़ाई रहे हैं. 19 मई को पुलिस ने एक शख्स को लॉकडाउन तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया. इस गिरफ्तारी के विरोध में लोग सड़कों पर उतर आए. थाने के बाहर हंगामा किया. कुछ लोगों ने पुलिस के ऊपर पत्थरबाजी भी की.

रिपोर्टर राहुल करैया ने मामले की और जानकारी दी. उन्होंने बताया कि घटना जबरन कॉलोनी की है. ये इलाका रावजी बाजार थाने के तहत आता है. हुआ ये कि 15 मई के दिन यहां रहने वाला एक लड़का कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने पहुंच गया था. उसने अपने साथ करीब 50 लोगों को भी जुटा लिया था. पुलिस को मामले की जानकारी मिली, तो आरोपी लड़के को 19 मई के दिन गिरफ्तार किया गया.

इस गिरफ्तारी के विरोध में लोग सड़कों पर उतर गए. पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की गई. पुलिस पर दादागिरी के आरोप भी लगाए गए. इसी दौरान कुछ लोगों ने पथराव भी किया.

CSP जूनी इंदौर दिशेष अग्रवाल ने बताया,

‘पिछले शुक्रवार (15 मई) को यूसुफ नाम का आदमी, जो प्रकाश के बगीचे का रहने वाला है, उसने कब्रिस्तान में करीब 50 लोगों को इकट्ठा किया था. इस मामले में उसके खिलाफ लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में FIR की गई थी. इसे पुलिस लेकर गई, तो इसके समर्थक थाने पहुंच गए. पुलिस ने उन्हें समझाकर वापस घर भेजा. मामले की कार्रवाई की जा रही है. सुरक्षा के लिए कड़े इंतजाम कर दिए गए हैं. प्रकाश का बगीचा चूंकि कंटेनमेंट इलाका है, तो वहां पहले से ही पुलिस तैनात है.’

इस मामले में अब तक 15 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. बाकी लोगों की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई चल रही है.

देखिये भारत में कोरोना कहां-कहां और कितना फैल गया है.


वीडियो देखें: इंदौर में लोगों को बेरहमी से पीटते हुए पुलिस वालों के इस वायरल वीडियो की सच्चाई क्या है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या गुजरात में खराब वेंटीलेटर की वजह से 300 कोरोना मरीज़ों की मौत हो गई?

कांग्रेस ने विजय रूपाणी सरकार पर वेंटीलेटर घोटाले का आरोप लगाया है.

अब इस तारीख से देश के अंदर फ्लाइट्स से यात्रा कर सकेंगे

इससे पहले 200 नॉन एसी ट्रेन चलने की सूचना दी गई थी.

'अम्फान' आ चुका है, पश्चिम बंगाल में दो की मौत, कई घरों को नुकसान

ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में अपना असर दिखा रहा है.

प्रियंका गांधी ने जो गाड़ियां यूपी भेजी हैं, उनमें कितनी बसें हैं, कितने ऑटो?

छह सूचियों में कुल 1049 गाड़ियों की डिटेल्स भेजी गई है.

देशभर में 200 और ट्रेनें चलने की तारीख़ आ गई है

इस बार ख़ुद रेल मंत्री ने बताया है.

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

इस लॉकडाउन में तमाम तरह की छूट दी गई हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की 1000 बसों में कुछ नंबर ऑटो और कार के कैसे निकल गए?

हालांकि संबित पात्रा ने भी जिस बस को स्कूटर बताया, वहां एक पेच है.

मज़दूरों की लाश की ऐसी बेक़द्री पर झारखंड के सीएम कसके गुस्साए हैं

घायल मज़दूरों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप.

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर, जल्द ही आखिरी स्टेज का टेस्ट होने की उम्मीद

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.