Submit your post

Follow Us

ATM से पैसे निकालना महंगा होने वाला है, जानिए कब और कितना?

अगर आप ATM से बार-बार पैसे निकालते हैं, तो जल्द ही आपकी जेब को थोड़ी और चपत लगने वाली है. 1 जनवरी से अपने या किसी दूसरे बैंक के एटीएम से एक लिमिट से ज्यादा ट्रांजैक्शन करना महंगा हो जाएगा. RBI ने बहुत पहले ही बैंकों को कैश और नॉन-कैश ट्रांजैक्शन चार्जेज में इजाफा करने की इजाजत दे दी थी. बैंकों ने इसे पहली जनवरी से लागू करने की तैयारी शुरू कर दी है.

कितनी बढ़ोतरी?

अभी बैंक फ्री मंथली ट्रांजैक्शन लिमिट के ऊपर हर ट्रांजैक्शन पर 20 रुपये प्लस 18% जीएसटी चार्ज करते हैं. 1 जनवरी से यह 21 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन हो जाएगा और साथ में जीएसटी लगेगा.

क्या है फ्री लिमिट?

अभी तक कोई भी कस्टमर अपने बैंक के एटीएम से हर महीने 5 ट्रांजैक्शन फ्री में कर सकता है. ट्रांजैक्शन का मतलब है कि आप चाहे कैश निकालें या मिनी स्टेटमेंट, केवल पांच बार ही फ्री है. उसके बाद चार्जेज लगते हैं. फिलहाल लिमिट में कोई कटौती या इजाफा नहीं किया गया है. दूसरे बैंक के एटीएम से हर महीने मेट्रो सिटीज में 3 और नॉन-मेट्रो सिटीज में 5 ट्रांजैक्शन फ्री किया जा सकता है. इस लिमिट में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है. लेकिन इससे ऊपर 20 रुपये प्लस टैक्स की जगह 21 रुपये प्लस टैक्स देना होगा.

बैंकों की तैयारी

आरबीआई ने इस बारे में बहुत पहले ही निर्देश जारी कर दिए थे, लेकिन अब बैंकों ने अपने पोर्टल व दूसरे जरियों से ग्राहकों को बताना शुरू कर दिया है. एचडीएफसी बैंक और एक्सिस बैंक ने अपनी वेबसाइट पर सूचना जारी कर दी है कि 1 जनवरी 2022 से एटीएम के जरिए कैश और नॉन-कैश ट्रांजैक्शन की फ्री मंथली लिमिट के बाद बढ़ी हुई दरें लागू होंगी.

टैक्स मिलाकर कितना ?

एटीएम ट्रांजैक्शन सर्विसेज पर जीएसटी की दर 18% है. ऐसे में 21 रुपये के साथ आपको 3.78 रुपये अतिरिक्त देने होंगे. ऐसे में फ्री लिमिट के बाद प्रति ट्रांजैक्शन आपके खाते से 24.78 रुपये कटेंगे, जो पहले 23.60 रुपये हुआ करता था.

क्यों बढ़ रहे हैं चार्ज ?

ये चार्ज बढ़ने की दो वजहे हैं. पहली बैंक एटीएम मेनटेन करने की लागत और महंगाई का हवाला देते हुए आरबीआई से ट्रांजैक्शन चार्ज बढ़ाने की इजाजत मांग रहे थे. दूसरा, बैंक और सरकार दोनों चाहते हैं कि लोग एटीएम का यूज कम से कम करें. ऐसे में ट्रांजैक्शन चार्जेज में इजाफा एक तरह से ग्राहकों को कैश ट्रांजैक्शन के प्रति हतोत्साहित करने की कवायद कही जा सकती है. एटीएम से जुड़े खर्चे में सिर्फ मशीन के रखरखाव और सुरक्षा से जुड़ी लागत ही शामिल नहीं होती, बल्कि कैश हैंडलिंग का खर्च भी इसमें शामिल होता है.


वीडियो: लोन से जुड़ी कंफ्यूजन का सॉल्यूशन खोज रहे हैं तो ये वीडियो आपके लिए है !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

ये वेरिएंट कितना खतरनाक है, ये भी जान लें.

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार के लिए गोरखनाथ मंदिर हमला 'आतंकी घटना', हमलावर के पिता ने क्या बताया?

यूपी सरकार ने आरोपी के खिलाफ तगड़ी जांच के आदेश दे दिए हैं.