Submit your post

Follow Us

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

बीते 23 जून को योगगुरु रामदेव और पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने ‘कोरोनिल’ नाम की दवा लॉन्च की थी. दावा था कि ये कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज कर देगी. बाद में ICMR ने इस दवा पर रोक लगा दी. कहा गया कि कोरोनिक के केस में दवा से जुड़ी पूरी प्रोसेस फॉलो नहीं की गई. केंद्र सरकार ने भी जांच पूरी होने तक इस दवा का विज्ञापन रोकने को कहा था.

अब ठीक एक सप्ताह बाद बालकृष्ण ने कोरोनिल पर अपने, रामदेव के और पतंजलि के दावे पर यू-टर्न मार लिया है. कहा –

“हमने तो कभी कहा ही नहीं कि ये दवा (कोरोनिल) कोरोना को कंट्रोल कर सकती है या ठीक कर सकती है. हमने तो कहा था कि हमने एक दवा बनाई है, इसका क्लीनिकल ट्रायल किया है और इससे कोरोना के मरीज़ ठीक हुए हैं. इसमें कोई भ्रम नहीं होना चाहिए.”

कोरोनिल पर सरकार का क्या कहना है?

23 जून को कोरोनिल लॉन्च होने के बाद उसी दिन शाम होते-होते आयुष मंत्रालय का आदेश आ गया था कि जब तक सरकार रिसर्च की जांच नहीं कर लेती, तब तक इस दवा का प्रचार पूरी तरह बंद रहेगा.

पतंजलि से सारी जानकारी मांगी गई है

मंत्रालय ने पतंजलि से कोरोनिल के ट्रायल के बारे में सारी जानकारी मांगी है. जैसे CTRI का सर्टिफिकेट. कहां ट्रायल किया? किन पर ट्रायल किया? ट्रायल के वक्त जो दवा दी थी, उनमें क्या-क्या था. इसके अलावा मंत्रालय ने ये भी बता दिया है कि ड्रग्स एंड मैजिक रेमेडिज़ एक्ट 1954 के तहत भ्रामक प्रचार करना अपराध है.

उत्तराखंड की आयुर्वेद ड्रग्स लाइसेंस अथॉरिटी ने तो ये भी कहा है कि पतंजलि को खांसी-ज़ुकाम की दवा बनाने के लिए लाइसेंस दिया गया था और उन्होंने दावा कर दिया कोरोना की दवा बनाने का.

भ्रामक प्रचार करने आरोप में योगगुरु रामदेव, आचार्य बालकृष्ण और चार अन्य लोगों के ख़िलाफ राजस्थान की राजधानी जयपुर में एफआईआर भी दर्ज़ हो चुकी है.


पतंजलि आयुर्वेद के ‘कोरोनिल’ के क्लीनिकल ट्रायल पर उठे गंभीर सवाल

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

आमिर खान के स्टाफ को कोरोना हुआ, उनकी मां का कोविड टेस्ट होगा

ट्विटर पर पोस्ट शेयर करके उन्होंने पूरी जानकारी दी और दुआएं मांगी हैं.

नागपुरः शराब नहीं मिली तो सफाईकर्मी ने सैनिटाइज़र पी लिया, इलाज के दौरान मौत

दूसरे देशों से भी इस तरह की घटनाएं सामने आई हैं.

कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली के पूर्व क्रिकेटर का निधन

ऋषभ पंत से लेकर गौतम गंभीर ने जताया शोक.

बॉलीवुड में करियर बनाने के लिए सुशांत ने इस प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी की स्कॉलरशिप छोड़ दी थी

सुशांत एस्ट्रोनॉट बनना चाहते थे.

जब सारी फ़िल्में ऑनलाइन आ रही हैं, इन दो बड़ी फिल्मों को सिनेमाघरों में दिखाने का ऐलान हो गया

देखते हैं ये मुमकिन हो पाता है या नहीं.

बॉलीवुड का भेदभाव! सात फिल्मों की प्रेस कॉन्फ्रेंस में सिर्फ चार फिल्मों से स्टार बुलाए

बाकी तीन फिल्मों से - जिनमें एक सुशांत की आखिरी फिल्म है - किसी को बुलाने लायक नहीं समझा गया.

अनलॉक 2.0 के लिए सरकार ने क्या गाइडलाइंस जारी की हैं, क्या-क्या छूट मिलेगी?

1 जुलाई से 31 जुलाई तक लागू रहेगा अनलॉक 2.

शादी के दो दिन बाद दूल्हे की मौत हो गई, 95 मेहमान कोरोना पॉज़िटिव निकले

दुल्हन की रिपोर्ट में क्या आया?

चाइनीज़ ऐप्स बैन हुए तो कांग्रेस सांसद ने पीएम मोदी से कहा, 'पेटीएम भी बैन करो'

भारत सरकार ने 59 मोबाइल ऐप बैन किए हैं.

हरियाणा की टिकटॉक स्टार की उसके ही ब्यूटी पार्लर में दो दिन बाद मिली लाश

सोनीपत की रहने वाली थीं शिवानी खोबियान