Submit your post

Follow Us

लॉकडाउन में पारले कंपनी का फैसला लाखों लोगों की बड़ी परेशानी कम कर देगा

कोरोना वायरस की वजह से देश लॉकडाउन है. ऐसे वक्त में पारले बिस्किट बनाने वाली कंपनी ने एक फैसला लिया है. 25 मार्च को कंपनी ने कहा कि वो तीन करोड़ पारले-जी बिस्किट के पैकेट दान करेगी. अगले तीन हफ्तों में. किसे डोनेट करेगी? सरकारी एजेंसियों को, ताकि जरूरतमंद लोगों को लॉकडाउन में खाने की कमी न हो.

वर्कफोर्स में कमी की है

PTI की रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी ने कहा कि उनकी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट 50 फीसदी वर्कफोर्स के साथ काम कर रही है. सरकार की सारी एडवाइजरी को ध्यान में रखते हुए वर्कफोर्स कम कर दी गई है, लेकिन कोशिश कर रहे हैं कि मार्केट में जरूरी मात्रा में प्रोडक्ट मौजूद रहें.

पारले प्रॉडक्ट के सीनियर कैटेगरी हेड हैं मयंक शाह. उन्होंने कहा,

‘हमने सरकार के साथ काम करने का फैसला किया है. हम सरकारी एजेंसियों के जरिए बिस्किट के तीन करोड़ पैकेट डोनेट करेंगे. अगले 21 दिनों तक हर हफ्ते एक-एक करोड़ पैकेट दिए जाएंगे. खासतौर पर जरूरतमंद लोगों के लिए. बहुत से लोग ऐसे हैं, जिनकी जिंदगी लॉकडाउन की वजह से काफी दिक्कतों वाली हो गई है. उनके लिए हम सरकार के साथ काम करेंगे.’

आगे ये भी कहा कि लोग घबराहट में खाने का ढेर सारा सामान खरीद रहे हैं, खासतौर पर बिस्किट. इसलिए उनकी कंपनी ये कोशिश कर रही है कि मार्केट में इसकी कमी न हो. मयंक शाह ने ये भी बताया कि सरकार ने लॉकडाउन के नियमों से बिस्किट मैन्युफैक्चरर्स को छूट दी है, लेकिन उन्हें कच्चा माल लाने और बिस्किट के एक्सपोर्ट में दिक्कत हो रही है. लोकल अथॉरिटीज़ परमिशन नहीं दे रहीं. हालांकि वो इस दिक्कत को कम करने की तरफ काम कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-

कोरोना और लॉकडाउन की मार खाए छोटे उद्योगों को सरकार ने ये राहत दी है

लॉकडाउन: ऑनलाइन सामान मंगवाने वालों के लिए अच्छी खबर है

लॉकडाउन से बेरोजगार हुए मजदूर साइकिल से निकल पड़े 960 KM दूर अपने घर

देखिये भारत में कोरोना कहां-कहां और कितना फैल गया है.


वीडियो देखें: लॉकडाउन के बाद कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अब इन चीजों की जरूरत

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना के बीच सरकार ने गठिया वाली दवा के एक्सपोर्ट पर रोक क्यों लगा दी?

इस दवा का कोरोना के इलाज में क्या रोल है?

रात को लॉकडाउन के कायदे बताने के बाद सुबह हुजूम के बीच कहां निकल गए सीएम योगी?

सीएम ने लोगों से कहा था, 'घर पर ही रहें, बाहर न निकलें.'

21 दिन के लॉकडाउन में आपको कौन-कौन सी छूट मिलेगी, यहां जान लीजिए

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरा देश 15 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा.

आज आधी रात से पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन, पीएम बोले- एक तरह से ये कर्फ्यू ही है

कोरोना वायरस के खिलाफ सबसे बड़ा फैसला.

कोरोना वायरस: उत्तर प्रदेश के 17 नहीं, अब पूरे 75 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया है

देश में कोरोना वायरस इंफेक्शन के मामले 500 से ऊपर जा चुके हैं.

3 महीने तक ATM से पैसे निकलना फ्री, अब मिनिमम बैलेंस का भी झंझट नहीं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान किया.

कोरोना वायरस की वजह से अब जो काम रुका है, उसका असर 17 राज्यों पर पड़ेगा

क्या मतलब निकला इतनी उठा-पटक का?

चौथी बार MP के सीएम बने शिवराज, बोले- कोरोना से मुकाबला मेरी पहली प्राथमिकता

शिवराज सिंह चौहान ने शपथ लेते ही ये रिकॉर्ड भी बना दिया है.

कोरोना वायरसः लॉकडाउन में घर से निकलने वालों पर क्या एक्शन लिया जा रहा है?

देश के 75 जिले लॉकडाउन हैं.

कोरोना से लड़ने में इस भारतीय डॉक्टर की बात मानी तो बेड़ा पार हो जाएगा

सरकार को एक्शन प्लान भेज दिया है.