Submit your post

Follow Us

कार बम से हुआ लाहौर में आतंकी हाफिज सईद के घर के पास जोरदार धमाका

पाकिस्तान के लाहौर में बुधवार, 23 जून को भीषण विस्फोट हुआ. कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई, 20 से ज्यादा घायल हो गए. घायलों में कई पुलिसवाले भी हैं. रिपोर्ट्स में बताया गया है कि जिस जगह धमाका हुआ, वो भारत में वॉन्टेड आतंकी हाफिज सईद के घर से करीब 120 मीटर दूर है.

धमाका जौहर इलाके में एक एक्सपो सेंटर के नजदीक हुआ. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि विस्फोट इतना तेज था कि आसपास के कई घरों, दुकानों को नुकसान पहुंचा. मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि करीब 7 गाड़ियां भी क्षतिग्रस्त हो गईं. तीन घर डैमेज हो गए. एक घर की तो छत ही गिर गई. दूर तक कई  इमारतों के शीशे टूट गए. विस्फोट की आवाज काफी दूर तक सुनाई दी.

विस्फोट के तुरंत बाद पुलिस और बम निरोधक दल घटनास्थल पर पहुंच गए. राहत और बचाव अभियान शुरू हो गया. घायलों को निजी कारों और ऑटो-रिक्शा के माध्यम से लाहौर के जिन्ना अस्पताल पहुंचाया गया. जिन्ना अस्पताल के डॉक्टर याह्या सुल्तान के मुताबिक, अस्पताल में भर्ती 17 में से 6 की हालत नाजुक है. चार घायलों को प्राथमिक इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई.

कार बम से हुआ धमाका

पंजाब के आईजी इनाम घानी ने बताया कि कार में रखे विस्फोटक के जरिए इस धमाके को अंजाम दिया गया था. इलाके में एक हाई प्रोफाइल शख्स का मकान भी है. अगर उसके घर के बाहर पुलिस पिकेट नहीं होती तो बड़ा नुकसान हो सकता था. आईजी का इशारा हाफिज सईद की ओर था. उन्होंने कहा कि कार में विस्फोटक रखकर लाया गया था, लेकिन पुलिस पिकेट होने के कारण कार आगे नहीं जा सकी. उन्होंने इसके पीछे दुश्मन की खुफिया एजेंसियां होने की आशंका भी जताई. मामले की जांच काउंटर टेररिजम डिपार्टमेंट कर रहा है.

हालांकि इससे पहले ब्लास्ट की वजह को लेकर कन्फ्यूजन था. एक चश्मदीद ने जियो न्यूज से दावा किया था कि एक व्यक्ति ने वहां मोटरसाइकिल खड़ी की थी, जिसमें थोड़ी देर बाद विस्फोट हुआ. एक CCTV फुटेज भी सोशल मीडिया पर चला, जिसमें सड़क के अंदर से ब्लास्ट होता दिखाई दे रहा है. बताया जा रहा है कि सड़क के नीचे गैस पाइपलाइन है. घटना को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री सरदार उस्मान बुजदार ने पुलिस महानिरीक्षक से विस्तृत रिपोर्ट तलब की है.

मुंबई अटैक का मास्टरमाइंड हाफिज सईद

हाफिज सईद पाकिस्तान में पनपे आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक है. वह मुंबई के 26/11 अटैक का मास्टरमाइंड भी है. संयुक्त राष्ट्र ने उसे ग्लोबल आतंकवादी घोषित करके कड़े प्रतिबंध लगा रखे हैं. पाकिस्तान ने हाफिज को जुलाई-2019 में गिरफ्तार दिखाया था. इसके बाद फरवरी-2020 में उसे टेरर फंडिंग केस में दस साल, छह महीने की सजा हुई थी. इसके बाद हाफिज को टेरर फंडिंग के दो और केसों में दोषी पाया गया था. पाकिस्तान की एंटी टेरिरिज्म कोर्ट ने अभी नवंबर में उसे दस साल की सजा सुनाई. दावा किया जाता है कि फिलहाल वह लाहौर की कोट लखपत जेल में सजा काट रहा है. लेकिन धमाके के बाद चर्चाएं चलीं कि उस वक्त वह घर में ही मौजूद था.

हाफिज सईद जमात-उद-दावा का भी चीफ है. ये लश्कर का ही मुखौटा संगठन है. जमात-उद-दावा सामाजिक सेवा के काम करने का दावा करता है. सईद का ये संगठन 300 से ज्यादा मदरसे और स्कूल चलाता है. जमात-उद-दावा के कई अस्पताल, एक प्रकाशन हाउस और एम्बुलेंस सेवा हैं. इसके पास करीब 50,000 स्वयंसेवक और सैकड़ों की संख्या में वेतनभोगी कर्मचारी हैं. जमात-उद-दावा अपनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए फलाह-ए-इंसानियत नाम के संगठन के जरिए फंड इकट्ठा करता है. पूरे पाकिस्तान में हाफिज सईद के इन संगठनों का जबरदस्त नेटवर्क है. जमात और लश्कर को संयुक्त राष्ट्र ने 2008 में प्रतिबंधित कर दिया था. अमेरिका जून 2014 में जमात को आतंकी संगठन घोषित कर चुका है.


पाकिस्तान की संसद में हुई लात-घूंसो की बारिश के पीछे की असली वजह क्या है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

CBSE और ICSE की परीक्षाएं रद्द करने के खिलाफ याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज किया

नंबर देने के फॉर्मूले से सुप्रीम कोर्ट भी सहमत.

LJP में कलह की वजह बताए जा रहे सौरभ पांडेय के बारे में रामविलास पासवान ने चिट्ठी में क्या लिखा था?

चिराग को राजनीति में आने की सलाह किसने दी थी?

सरकार फिल्मों के सर्टिफिकेशन में क्या बदलाव करने जा रही, जो फ़िल्ममेकर्स की आज़ादी छीन सकता है?

कुछ वक़्त से लगातार हो रहे हैं फ़ेरबदल.

यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में लग रहे 'थैंक्यू मोदी' के बैनर पर बवाल क्यों हो रहा है?

क्या यूनिवर्सिटीज़ और कॉलेजों को सरकारी प्रचार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?

ये किन दो नेताओं को चुनाव से ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने बड़ा काम दे दिया है?

कौन हैं रामबाबू हरित और जसवंत सैनी?

अयोध्याः 20 लाख की जमीन मेयर के भतीजे ने ट्रस्ट को 2.5 करोड़ में बेची, महंत ने उठाए सवाल

ट्रस्ट द्वारा खरीदी जा रही जमीनों के दो और सौदे विवादों के घेरे में.

चिराग पासवान के चचेरे भाई सांसद प्रिंस राज पर लगे रेप के आरोप का पूरा मामला है क्या?

आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ प्रिंस ने भी फरवरी में दर्ज कराई थी FIR.

किसान आंदोलन में शामिल लोगों पर आरोप- पहले ग्रामीण को शराब पिलाई, फिर जिंदा जला दिया!

बहादुरगढ़ की घटना, पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है.

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताया, 12वीं के मार्क्स देने का 30:30:40 फॉर्मूला क्या है

31 जुलाई से पहले फाइनल रिजल्ट जारी करने की जानकारी भी दी है.

योगी सरकार के संपत्ति रजिस्ट्री को लेकर लगने वाले स्टाम्प शुल्क के नए नियम में क्या है?

नए नियम के बाद विवादों में कमी आएगी?