Submit your post

Follow Us

स्पेशल डिमांड पर चिदंबरम को मिला विदेशी टॉयलेट, फिर भी बेचैनी में कटी रात

5
शेयर्स

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम. इनकी मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने INX मीडिया केस में चिदंबरम को तिहाड़ जेल भेज दिया है. 5 सितंबर के दिन वो जेल गए. 14 दिन तक न्यायिक हिरासत में रहेंगे. यानी 19 सितंबर तक वो जेल में ही होंगे.

5 सितंबर की रात तिहाड़ जेल में चिदंबरम की पहली रात थी. चिदंबरम ने जेल में वेस्टर्न टॉयलेट मांगा था. जेल प्रशासन ने उनकी अपील मानी और उन्हें वेस्टर्न टॉयलेट ही दिया गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक ये रात बहुत बैचेनी में कटी. ज़्यादातर वक्त वो जागते रहे.

वो जेल नंबर 7 में अलग सेल में हैं. ज़रूरी मेडिकल जांच के बाद उन्हें इस सेल में रखा गया है. आमतौर पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) के मामलों में आरोपियों को इसी जेल में रखा जाता है. रात को उन्हें खाने में दाल, रोटी और सब्जी मिली. उन्हें अपने साथ चश्मा और दवाइयां लाने की परमिशन थी. तो वो लेकर गए. चिदंबरम को 24 घंटे की सुरक्षा मिली है. सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. सेल के आसपास सुरक्षा के पूरे इंतज़ाम हैं.

जेल के नियम के मुताबिक, उन्हें एक तकिया और कंबल मिला है. वो कॉरिडोर और अपनी सेल के सामने के कैम्पस में टहल सकते हैं. जेल के मैनुअल के हिसाब से वो टीवी देख सकते हैं, अखबार भी पढ़ सकते हैं. बाकि कैदियों की तरह जेल की लाइब्रेरी भी उनके लिए खुली है. उन्हें सुबह 6 से 7 के बीच चाय दी जाएगी. नाश्ते में पोहा, दलिया, ब्रेड मिलेगा.

ये सब मिला है चिदंबरम को तिहाड़ जेल में. एक और ज़रूरी बात आपको बता दें. वो ये कि चिदंबरम को 74वां जन्मदिन तिहाड़ जेल में ही मनाना पड़ेगा. 16 सितंबर को उनका बर्थडे होता है. पीएम नरेंद्र मोदी के बर्थडे के एक दिन पहले.


वीडियो देखें:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

यूपी के उर्स में हिंदुओं ने खाकर 43 मुस्लिमों पर केस किया, कहा - भैंसे की बिरयानी खिला दी

केस किया भी तो दो दिन बाद.

15 हज़ार की गाड़ी थी, 23 हज़ार का चालान ठोंक दिया

किन पांच चीज़ों पर एक स्कूटी का ऐसा चालान हुआ?

योगी आदित्यनाथ के 'प्रेरणा ऐप' को प्ले स्टोर पर 1-स्टार की रेटिंग क्यों मिल रही है?

यूपी के टीचर अब सेल्फी नहीं लेना चाह रहे हैं.

यूपी के स्कूल में नमक-रोटी खाते बच्चों का वीडियो बनाने वाला पत्रकार फंस गया

बदनामी से गुस्साए डीएम ने केस करने की धमकी दी थी!

मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार में आर्थिक मंदी पर क्या कहा?

मनमोहन सिंह की बात पढ़ेंगे तो समझ जाएंगे कि मंदी क्यों आई.

असम के विधायक हैं, विपक्ष के नेता हैं, लेकिन NRC की लिस्ट में नहीं हैं अनंत कुमार मालो

कई नेताओं और सैनिकों के साथ ऐसा ही हुआ है.

BJP ने बड़बोली प्रज्ञा ठाकुर को चुप कराने का आईडिया निकाल लिया है

और प्रज्ञा ठाकुर बहुते परेशान हो गयी हैं

इमरान खान की भयानक बेज्ज़ती बिजली विभाग के क्लर्क ने कर दी है

सोचा होगा, 'हमरा एक्के मकसद है, बदला!'

जज साहब ने भ्रष्टाचार पर जजों का धागा खोला, मगर फिर जो हुआ वो बहुत बुरा है

कहानी पटना हाईकोर्ट के जज राकेश कुमार की, जो चारा घोटाले के हीरो हैं.

अयोध्या में बाबरी मस्जिद को बाबर ने बनवाया ही नहीं?

ये बात सुनकर मुग़लों की बीच मार हो गयी होती.