Submit your post

Follow Us

कोरोना की वजह से ऑस्कर अवॉर्ड वालों को यह बड़ा फैसला करना पड़ा

कोरोना की वजह से फिल्म इंडस्ट्री लॉकडाउन में है. सिनेमा हॉल बंद हो गए. दुनियाभर के फिल्म फेस्टिवल भी बच नहीं सके. कुछ फेस्टिवल कैंसल हो गए, कुछ पोस्टपॉन हुए, तो कुछ ने ऑनलाइन अवतार अपना लिया. अब दुनियाभर में मशहूर ऑस्कर अवॉर्ड की तरफ से भी कुछ ऐसी ही खबर आई है. IANS की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, अगले साल की ऑस्कर सेरेमनी को पोस्टपॉन किया जा सकता है.

 ऑस्कर अवॉर्डस को पोस्टपॉन करने की क्या है वजह

इस साल बहुत कम फिल्में रिलीज़ हो रही हैं. जेम्स बॉन्ड की फिल्म ‘नो टाइम टू डाई’ और मार्वल की ‘ब्लैक विडो’ जैसी फिल्मों की रिलीज़ डेट आगे बढ़ा दी गई है. आमतौर पर जिन फिल्मों से अवॉर्ड की उम्मीद होती है, स्टूडियो उन्हें नवंबर या दिसंबर में रिलीज़ करते हैं. ऑस्कर कमिटी के लोग जनवरी में वोटिंग करते हैं और फरवरी में अवॉर्ड दिए जाते हैं. लेकिन अमेरिका में कोरोना महामारी जिस तरह फैल रही है, उससे लगता है कि ये फिल्में इस पूरे साल रिलीज़ ही न हो पाएं. ऐसे में फिल्म स्टूडियोज़ की नज़र ऑस्कर 2022 पर होगी, जिसके लिए उन्हें रिलीज़ डेट को और भी आगे बढ़ाना पड़ेगा. यह अमेरिकन फिल्म इंडस्ट्री के लिए घातक हो सकता है.

इसलिए अगले साल के ऑस्कर अवॉर्ड को पोस्टपॉन करने का विचार बन रहा है. पहले ऑस्कर सेरेमनी 28 फरवरी को होनी थी. लेकिन अब इसे 3-4 महीने आगे, यानी मई या जून तक सरकाया जा सकता है. हॉलीवुड के एक सूत्र ने इस फैसले के बारे में बताया:

“ऐसा करने का मतलब होगा कि जिन फिल्मों को अपनी रिलीज़ डेट और आगे करनी पड़ती, अब वे इस साल के अंत में या 2021 की शुरुआत में रिलीज़ हो सकती हैं. फिल्म स्टूडियोज़ को इस प्लान के बारे में बता दिया गया है और अब वे इसी हिसाब से रिलीज़ डेट निर्धारित कर रहे हैं. लेकिन अभी बात बस हवा में है. यक़ीनन तौर पर कुछ कहना मुश्किल है.”

इस बार के नियम भी बदले गए हैं

ऑस्कर एकेडमी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर इससे जुड़ी कोई जानकारी नहीं मिल सकी है. आपको बता दें कि पिछले महीने ‘द एकेडमी ऑफ़ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज़’ ने ऑस्कर 2021 के लिए अपने नियमों में एक और फ़ेरबदल की थी. सिनेमा हॉल पर रिलीज़ होने वाली फिल्मों के अलावा ऑनलाइन स्ट्रीमिंग सर्विस पर रिलीज़ होने वाली फिल्में भी अगले साल के लिए एलिजिबल होंगी. लेकिन नियमों में हुए ये बदलाव परमानेंट नहीं हैं. इसके अलावा एकेडमी ने एक ऑस्कर कैटेगरी हटाने का फैसला किया है. साउंड मिक्सिंग और साउंड एडिटिंग कैटेगरी को एक अवॉर्ड में मिलाया जाएगा. इस तरह अवॉर्ड कैटेगरी की संख्या घटकर 23 हो जाएगी.

ऑस्कर 2020 की बात करें, तो ‘पैरासाइट’ फिल्म ने इस बार 4 ऑस्कर जीते थे – ‘बेस्ट फिल्म’, ‘बेस्ट डायरेक्टर’, ‘बेस्ट स्क्रीनप्ले’ और ‘बेस्ट इंटरनेशनल फिल्म’. वॉक्वीन फीनिक्स ने ‘जोकर’ के लिए बेस्ट एक्टर का खिताब जीता. रैने जेलवैगर को ‘जूडी’ फिल्म के लिए ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ अनाउंस किया गया.


वीडियो देखें: ‘जूडी’: वो एक्ट्रेस जिसे भूख लगने पर खाना नहीं गोलियां खिलाई जाती थीं 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में से पहले दिन वित्त मंत्री ने क्या-क्या ऐलान किया?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की डिटेल दी.

पीएम मोदी ने जिस Y2K क्राइसिस का ज़िक्र किया, वो क्या था?

पीएम ने 12 मई को देश को संबोधित किया.

अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने अगले लॉकडाउन के बारे में ये हिंट दे दिया है

मोदी के 34 मिनट के भाषण में काम की बात क्या थी?

ट्रेन के बाद अब फ़्लाइट शुरू होगी तो यात्रा के क्या नियम होंगे?

केबिन लगेज, जांच और बैठने की व्यवस्था को लेकर क्या नियम हैं?

गुजरात: CM बदलने की संभावना पर खबर चलाई, पुलिस ने राजद्रोह का केस लिख लिया

इस मामले में गुजरात सरकार की किरकिरी हो रही है.

किसी को सही-सही पता ही नहीं कि दिल्ली में कोरोना से कितनी मौतें हुईं!

सरकार और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग.

चीन से ठगे जाने के बाद इंडिया ने अपनी टेस्टिंग किट बनाई, कैसे काम करेगी?

किसने बनाई ये टेस्टिंग किट?

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.