Submit your post

Follow Us

राज्यसभा में धक्कामुक्की पर घमासान, 8 मंत्रियों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके विपक्ष पर क्या आरोप लगाए?

संसद का मॉनसून सत्र बुधवार, 11 अगस्त को खत्म हो गया. सत्र के आखिरी दिन राज्यसभा में जो हुआ, उसे लेकर सरकार और विपक्ष आमने सामने है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत करीब 15 विपक्षी दलों के नेताओं ने संसद से विजय चौक तक पैदल मार्च किया. इन्होंने आरोप लगाया कि बाहर से मार्शल बुलाकर विपक्षी सांसदों के साथ बदसलूकी की गई. सरकार के 8 मंत्रियों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इसका जवाब दिया और उलटे विपक्षी नेताओं पर ही निशाना साधा. इस बीच, राज्यसभा में हंगामे के दौरान की फुटेज भी सामने आई है.

मंत्रियों ने विपक्ष पर क्या आरोप लगाए?

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, प्रहलाद जोशी, मुख्तार अब्बास नकवी, धर्मेंद्र प्रधान, भूपेंद्र यादव, अनुराग ठाकुर, अर्जुन मेघवाल और वी. मुरलीधर आदि ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. विपक्ष पर हमला बोलते हुए मंत्रियों ने कई आरोप लगाए, कहा-

#विपक्ष पहले से ही सत्र बर्बाद करने का मन बना चुका था, इसलिए सदन में काम नहीं करने दिया.
#कोरोना, महंगाई, कृषि बिल पर सरकार चर्चा के लिए तैयार थी, लेकिन विपक्ष पेगासस पर अड़ा रहा.
# 2004 से 2014 तक यूपीए सरकार ने दर्जनों बिल बिना चर्चा के पास किए थे, लेकिन हमने तो चर्चा करने की कोशिश की.
# जिन 6 सांसदों को सस्पेंड किया गया था, वो शीशा तोड़कर सदन में आना चाहते थे. इस दौरान महिला मार्शल को चोट लगी.
# 9 अगस्त को टेबल पर चढ़कर हंगामा किया गया, रूलबुक को चेयर की ओर फेंका गया, ये एक कातिलाना हमला था.
#विपक्ष की महिला सांसदों ने ही लेडी मार्शल के साथ धक्का-मुक्की की, वीडियो फुटेज में ये साफ दिख रहा है.
#कोई भी बाहरी सुरक्षाकर्मी सदन में नहीं आए. सिर्फ 30 सुरक्षाकर्मी जो सदन के ही हैं, वो मौजूद थे.
#विपक्ष सिर्फ अपनी बात कहने और डिविजन (यानी OBC बिल पर वोटिंग) के वक्त शांत रहा, बाकी पूरे समय हंगामा किया गया और चेयर का अपमान किया गया.

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया कि राज्यसभा में जब हाथापाई हुई तो किसी बाहरी व्यक्ति को नहीं लाया गया. (विपक्ष की ओर से) गलत जानकारी साझा की जा रही है कि बाहरी लोग जो संसदीय सुरक्षा का हिस्सा नहीं हैं, उन्हें लाया गया. गोयल ने विपक्ष पर ड्रामा करने का आरोप भी लगाया. उन्होंने कहा,

12 महिला और 18 पुरुष मार्शल थे. वो बाहरी नहीं थे. उनके (विपक्ष के) आंकड़े गलत हैं. विपक्ष के आरोप गलत हैं. जिस तरह से कांग्रेस के दो सांसदों ने महिला मार्शल के साथ बदसलूकी की… जिस तरह से उन्होंने पुरुष मार्शल को गर्दन से खींचने की कोशिश की… वह शर्मनाक है.

पीयूष गोयल ने आरोप लगाया कि विपक्ष ने सदन की गरिमा गिराई. मिनिस्टर के हाथ से जवाब की कॉपी छीन ली. जब माफी के लिए कहा गया तो साफ कह दिया कि माफी नहीं मांगेंगे. चैंबर में जबरदस्ती घुसने की कोशिश की. इस दौरान महिला मार्शल को चोट लगना दुखद है. हमने इस पर एक्शन की मांग की है. मोटी रूलबुक चेयर की तरफ फेंकी गई. अगर कोई चेयर पर बैठा होता तो वो घायल हो जाते. ये बहुत बुरा हमला था.

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि विपक्ष घड़ियाली आंसू न बहाए. विपक्ष ने संसदीय काम में रुकावट डालने का काम किया. इसके लिए उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए. मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि संसद में जो हुआ, वो शर्मसार करने वाला था. उन्होंने पूछा कि जब मुद्दे पहले से तय थे तो कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों ने सदन को क्यों नहीं चलने दिया?

सामने आए वीडियो में क्या है?

वीडियो में देखा जा सकता है कि विपक्षी सांसद वेल में आकर प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान उन्हें संभालने के लिए मार्शल बुलाए गए. सांसदों और मार्शलों के बीच धक्का-मुक्की हुई. कुछ सांसद मेज पर चढ़ते दिखाई दे रहे हैं. दिख रहा है कि कुछ महिला सांसदों के साथ धक्का मुक्की भी की गई.

पैदल मार्च के बाद विपक्षी नेताओं ने क्या कहा?

राज्यसभा की तीन महिला सांसदों द्वारा मार्शल्स पर पिटाई का आरोप लगाया गया है. इनमें फूलो देवी नेताम, अमी याग्निक और छाया वर्मा शामिल हैं. विपक्ष का आरोप है कि राज्यसभा में बुधवार को जब इंश्योरेंस बिल जबरन पास करने की कोशिश हो रही थी, तब बाहर से कुछ मार्शल आए जिन्होंने सांसदों के साथ बदसलूकी की. इस दौरान महिला सांसदों को भी निशाना बनाया गया.

करीब 15 विपक्षी दलों के नेताओं ने गुरुवार को संसद भवन से विजय चौक तक मार्च किया. इनमें राहुल गांधी के अलावा शिवसेना, राकांपा, राजद, समाजवादी पार्टी, DMK और अन्य विपक्षी दलों के नेता शामिल थे. इन्होंने सरकार पर लोकतंत्र की मर्यादा भंग करने का आरोप लगाया. कहा कि राज्यसभा में बुधवार को लोकतंत्र की हत्या की गई.

राहुल गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा,

राज्यसभा में पहली बार सांसदों की पिटाई की गई. उनसे धक्का-मुक्की की गई. प्रधानमंत्री मोदी देश और देश की आत्मा को बेच रहे हैं.

वहीं राकांपा के प्रफुल्ल पटेल ने कहा,

संसद का सत्र शर्मनाक रहा है. शरद पवार जी ने राज्यसभा की प्रोसीडिंग्स पर टिप्पणी की है और कहा है कि उन्होंने अपने संसदीय जीवन में इस तरह की शर्मनाक घटना को कभी नहीं देखा.

समाजवादी पार्टी के विशंभर निषाद ने कहा,

जिस तरह संसद में मार्शल लगाए गए, हमारी महिला सांसदों से धक्का-मुक्की की गई. विपक्ष पेगासस, किसान बिल और महंगाई पर चर्चा चाहता था, लेकिन ऐसा नहीं करने दिया गया.

DMK पार्टी की ओर से कहा गया है कि संसद की ऐसी तस्वीर कभी नहीं देखी. हमारी महिला सांसदों को घसीटा गया. शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि राज्यसभा में बीते दिन मार्शल लॉ लगाया गया, ऐसा लग रहा था कि हम पाकिस्तान की सीमा पर खड़े थे. सरकार हर दिन लोकतंत्र की हत्या कर रही है, हम इस सरकार के खिलाफ लड़ते रहेंगे.


मोदी सरकार और विपक्ष ने हंगामे और ज़िद में किस तरह खपा दिया संसद का मॉनसून सत्र?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.