Submit your post

Follow Us

बिहार के मुंगेर में दुर्गा विसर्जन के दौरान गोलियां पुलिस ने चलाईं या भीड़ ने?

बिहार के मुंगेर में 28 अक्टूबर को वोटिंग है, लेकिन उससे पहले 26 तारीख सोमवार को वहां जो हुआ, उसे शहर के लोग लंबे वक्त तक भूल नहीं पाएंगे. दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान गोलीबारी हुई. एक शख्स की मौत हो गई. पुलिस ने लाठीचार्ज किया. बहुत सारे लोग घायल हो गए. 100 से अधिक लोग हिरासत में हैं. पुलिस ये जानने की कोशिश कर रही है कि आखिर बवाल शुरू कैसे हुआ था. वहीं, घायल लोग पुलिस पर ही आरोप लगा रहे हैं.

आखिर मुंगेर में हुआ क्या?

आजतक से जुड़े मुंगेर के पत्रकार गोविंद के मुताबिक, 26 अक्टूबर की शाम को दुर्गा मूर्ति को विसर्जन के लिए ले जाया जा रहा था. अचानक हंगामा होने लगा. गोलियां भी चलने लगीं. गोलीबारी में 18 साल के अनुराग कुमार की मौत हो गई. करीब 5 से 6 लोग गोली लगने से घायल हो गए. मौके पर पहुंची फोर्स ने लोगों को दौड़ाना और पीटना शुरू कर दिया. इसके वीडियो भी सामने आए हैं.

Munger 2
पुलिस के लाठीचार्ज से भगदड़ मच गई (फोटो-आजतक)

बिना वर्दी के लोगों को पीटने वाले कौन थे?

वीडियो में ये भी दिख रहा है कि पुलिस के साथ दो लोग और भी थे, जो बिना वर्दी के ही लोगों को पीट रहे थे. आखिर ये लोग कौन थे? क्या ये लोग भी पुलिसवाले थे, जिन्होंने वर्दी नहीं पहनी थी? या फिर ये असामाजिक तत्व थे? अगर ऐसा था तो पुलिस के साथ मिलकर दुर्गा मूर्ति के पास बैठे लोगों को क्यों पीट रहे थे? सवाल कई हैं लेकिन मुंगेर की एसपी लिपि सिंह का कहना है कि असामाजिक तत्वों ने गोली चलाई और हंगामा किया. पुलिस ने तो समय रहते हालात संभाल लिए.

Munger 3
बिना वर्दी पहने लोगों पर डंडे बरसाने वाला ये कौन है?

घायलों का क्या कहना है?

जख्मी युवक विशाल कुमार ने बताया कि वो लोग दुर्गा प्रतिमा के पास बैठे थे, उन्हें जमकर पीटा गया. विशाल का सिर फट गया है. फिलहाल अस्पताल में इलाज चल रहा है. चंदन कुमार को भी गोली लगी. उन्होंने बताया कि पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिससे भगदड़ मच गई. फिर गोलियां चलने लगीं. चंदन इस मामले में पुलिस की गलती बता रहे हैं.

पुलिस क्या कह रही है?

मुंगेर की एसपी लिपि सिंह ने कहा, “दुर्गापूजा के टाइम पर एक दुखद घटना हुई. कुछ असमाजिक तत्वों की तरफ से रोड़ेबाजी (पत्थरबाजी) की गई. रोड़ेबाजी में करीब 20 जवान घायल हुए हैं. एक थाना प्रभारी का सिर फट गया. इसके बाद भीड़ की तरफ से कुछ फायरिंग हुई, जिसमें दुर्भाग्य से एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई है और छह लोग घायल हैं.”

Lipi Singh
मुंगेर एसपी लिपि सिंह असमाजिक तत्वों को जिम्मेदार बता रही हैं.

चुनाव को लेकर थी कड़ी सुरक्षा

28 अक्टूबर को होने वाली वोटिंग के कारण यहां कड़ी सुरक्षा का माहौल था, उसके बाद भी इतनी बड़ी घटना का होना पुलिस और प्रशासन पर सवाल खड़े करता है. जिले के दीनदयाल चौक के पास ये पूरा मामला हुआ. पुलिस जल्दी से जल्दी प्रतिमा को विसर्जित कराना चाहती थी, जबकि पब्लिक इसका विरोध कर रही थी. पुलिस का दावा है कि तीन देसी तमंचे और 12 कारतूसों के खाली खोखे बरामद किए गए हैं. इस मामले में पूछताछ के लिए 100 से अधिक लोगों को हिरासत में भी लिया गया है.


वीडियो- बिहार चुनाव: इस पुलिस अधिकारी ने बताया, मुंगेर हथियारों के लिए फेमस क्यों है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कॉलेज से लौटती लड़की को सरेआम गोली मारी, परिवार ने 'लव जिहाद' का आरोप लगाया

दोनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

ऑस्ट्रेलिया टूर की टीम से क्यों बाहर हुए रोहित शर्मा?

अनाउंस हुई टीम इंडिया, मिला नया उपकप्तान.

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

मामला 21 साल पुराना है.

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.