Submit your post

Follow Us

बाय गॉड की क़सम फ़र्स्ट टाइम इंडियन रेलवे ने दिल गार्डन-गार्डन कर दिया है

एक क्लासिक फ़िल्म है. गुरुदत्त की प्यासा. उसमें एक बेहद शानदार गीत है. मुहम्मद रफ़ी साहब ने गाया है.

सर जो तेरा चकराये
या दिल डूबा जाये
आजा प्यारे पास हमारे
काहे घबराये, काहे घबराये…

इस गाने में चम्पी वाले का ये कैरेक्टर शहर में घूम घूम कर तेल मालिश करता है
इस गाने में चम्पी वाले का ये कैरेक्टर शहर में घूम घूम कर तेल मालिश करता है

दिल डूबता है. ज़रूर डूबता है. नौकरी का इंटरव्यू हो और पहुंचना केला खाने से पहले छीलने जितना ज़रूरी हो, तो प्लेटफ़ॉर्म पर खड़े-खड़े दिल डूबने लगता है भाई सा’ब. क्योंकि ट्रेन होती है लेट. और गिरती अर्थव्यवस्था की तरह लगातार लेट होती ही चली जाती है. तब दिल बंगाल की खाड़ी में डूबता है. सिर भन्नाता है. भीड़ धकियाती है. लेकिन मरता क्या ना करता. प्रलय की तरह ट्रेन का इंतज़ार करता ही है पैसेंजर.

कागा सब तन खाइयो, मेरा चुन-चुन खइयो मास 

दो नैना मत खाइयो, इन्हें तूफ़ान मेल की आस

इस टाइप का मामला होता है न? लेकिन राहतें और भी हैं कन्फर्म सीट के सिवा.

# क्या राहत की बात हो गई?

हुई है… हुई है, राहत की बात ही हुई है. हुआ ये है कि अब जब आप अपना नश्वर शरीर लेकर ट्रेन में चढ़ेंगे तो रेलवे इस बात का ख्याल रखेगा कि ‘हो जाएं सब गुनाह माफ़’. अब आपकी सीट के पास एक मस्त चम्पी वाला आएगा. सिर दर्द हाथ लगाते ही हवा हो जाएगा. और मज़ा आने लगे तो पांव भी दबा देगा. वो भी ओनली हंड्रेड रुपीज में. जी केवल 100 रुपए में सिर और पांव की मालिश का अब मज़ा लीजिए अपनी मनपसंदीदा (अगर कोई हो) ट्रेन में.

# ये अजूबा कैसे हुआ

देखिए साहेबान अब ये तो हमको ख़ुद नहीं पता कि ये हुआ कैसे. बस इत्ता पता है कि भारतीय रेलवे ने घोषणा कर दी है. अभी फ़िलहाल ज़्यादा ख़ुश न हो जाइएगा. क्योंकि तत्काल प्रभाव से केवल तत्काल टिकट मिलेगा. अभी इस सेवा को आप तभी ले सकेंगे जब पूरे देश में लागू होगी. फ़िलवक्त तो ये सेवा कुछ ही ट्रेनों में ‘पायलट प्रोजेक्ट’ के तौर पर शुरू हुई है. जब सक्सेसफुल हो जाएगी योजना तो आप तक भी पहुंचेगी. उम्मीद पर दुनिया क़ायम है.

# भारतीय रेलवे की हिस्ट्री में फ़र्स्ट टाइम हो रहा है ये 

ये भी मज़े की बात है कि ऐसा पहली बार हो रहा है. ऐतिहासिक फैसला है रेलवे का. भारतीय रेलवे के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है जब यात्रियों के लिए चलती ट्रेन में मसाज सुविधा उपलब्ध होगी. फिलहाल मालिश की सुविधा इंदौर से चलने वाली 39 ट्रेनों में उपलब्ध होगी. असल में रेलवे ने अलग-अलग जोन और डिविजन से किराए के अलावा आय के लिए नए सुझाव मांगे थे. यह प्रस्ताव वेस्टर्न रेलवे जोन की रतलाम डिविजन की ओर से रखा गया.

# रेलवे को सालाना 20 लाख रुपए के मुनाफ़े की उम्मीद 

रेलवे का कहना है कि मसाज सेवा शुरू करने से ना सिर्फ रेलवे का रेवेन्यू बढ़ेगा बल्कि यात्रियों की संख्या में भी इजाफा होगा. मसाज सर्विस से सालाना रेवेन्यू में 20 लाख रुपए का इजाफा होने की उम्मीद है. साथ ही हर साल 20,000 यात्रियों के अतिरिक्त टिकट खरीदने से 90 लाख रुपए की आय होने का अनुमान है.

तो अब प्यार का होवे झगड़ा, या बिज़नस का हो रगड़ा, सब लफड़ों का बोझ हटे, जब पड़ेगा हाथ इक तगड़ा. हो सकता है अब मालिश कराने के बाद आप भी गाने लगें ‘ज़िंदगी एक सफ़र है सुहाना’. लेकिन कल क्या हो किसने जाना.


वीडियो देखें:

चुनाव में हार के बाद मायावती और अखिलेश यादव के सुर बदल गए हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट ने कहा- खुदाई में मिल रहे खंभे, मूर्तियां और शिवलिंग

लॉकडाउन में मिली छूट के बाद राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है.

दाढ़ी देखकर पुलिसवालों ने वकील को पीटा, अधिकारी ने सफाई दी- उन्हें लगा आप मुस्लिम हैं

ASI ने वकील पर केस वापस लेने का भी दबाव बनाया.

बिग बॉस फेम शहनाज़ गिल के पिता पर रेप का आरोप, महिला बोली- गन पॉइंट पर रेप किया

बॉयफ्रेंड को ढूंढने जालंधर से ब्यास पहुंची थी महिला.

डेविड वॉर्नर की किस बात पर नाराज़ हुए इरफान पठान?

शिखर धवन से जुड़ा है इस नाराज़गी का राज़.

आज से शुरू हो चुकी है 1 जून से चलने वाली ट्रेनों की बुकिंग, क्या है रेलवे की गाइडलाइन?

बुकिंग, यात्रा और कैंसिलेशन की पूरी जानकारी यहां पढ़ें.

पटना: बड़े अधिकारी के पीटने का वीडियो वायरल हुआ, लेकिन डर-दबाव के चलते FIR भी न हो सकी

अधिकारियों के झगड़े में एक गरीब श्रमिक से काम तक छिन गया.

कोरोना को हराने के लिए अनुराग कश्यप, कुणाल कामरा, जावेद अख्तर ने कमाल का काम किया है!

बड़े-बड़े सितारे भी ऐसा नहीं कर पाए.

2007 वर्ल्ड कप के बॉल आउट में धोनी ने जो किया, उसे जान आप भी कहेंगे- वाह कप्तान वाह!

रॉबिन उथप्पा ने शेयर किया कमाल का किस्सा.

BCCI एपेक्स काउंसिल मेंबर ने बताया, कब हो सकता है IPL

इस साल के IPL में क्या है वर्ल्ड कप का रोल?

मोदी कैबिनेट की बैठक में आपके फायदे के लिए क्या-क्या फैसले लिए गए?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में किए गए ऐलान पर कैबिनेट ने लगाई मुहर.