Submit your post

Follow Us

जोकोविच ने अंपायर को गेंद मार घायल किया, उसके बाद जो हुआ वो क्रिकेट फैन्स के लिए सीख है

सालभर पहले की बात होगी. साफ-साफ कहें तो 11 अप्रैल 2019 की. एक क्रिकेट मैच हुआ. मैच अपने आखिरी दौर में था. जीत-हार के लिए रोमांचक लड़ाई हुई. इसी दौरान मैदानी अंपायर से एक गलती हो गई. मैदान पर काफी गफलत हो गई. तभी एक आदमी जो आउट होकर बाहर जा चुका था. मैदान में घुस आया. वह एक टीम का कप्तान भी था. जिसकी ‘कूलनेस’ की गाथाएं गाई जाती हैं. वह सीधा अंपायर से जाकर टकरा गया. काफी जिद्द-बहस के बाद बाहर गया. उस आदमी के मैदान में आने को लेकर काफी हंगामा और विवाद हुआ. लोगों ने सजा की मांग की. पर उस आदमी का कद बड़ा था. और मामला भारत का. तो बड़े कद के आदमी अक्सर रस्मी सजा पाकर बरी हो जाते हैं. ऐसा ही हुआ. मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगा और मामला खत्म हो गया. मैदान में घुसने वाले उस आदमी का नाम था महेंद्र सिंह धोनी. और मैच राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स का था.

एमएस धोनी आईपीएल 2019 में अंपायर के फैसले के खिलाफ बीच मैच में घुस गए थे.
एमएस धोनी आईपीएल 2019 में अंपायर के फैसले के खिलाफ बीच मैच में घुस गए थे.

नंबर वन खिलाड़ी, एक गलती पर टूर्नामेंट से बाहर

अब सीधा बात सितंबर 2020 की. 6 सितंबर 2020 की. दुनिया के नंबर वन पुरुष टेनिस खिलाड़ी का ग्रैंडस्लैम मैच हो रहा था. एक सेट में वह खिलाड़ी 5-6 से पीछे होता है. इसी दौरान एक्स्ट्रा टेनिस बॉल को लापरवाही से मार देता है. बॉल लाइन अंपायर को लगती है. वह चोटिल हो जाती है.  मैदान पर बैठ जाती है और सांस लेने को तड़पती दिखाई देती है.

गलती पता लगते ही वह खिलाड़ी दौड़कर जाता है. हाथ जोड़कर माफी मांगता है. बार-बार सॉरी कहता है. लेकिन कुछ देर बाद ही उस खिलाड़ी को डिसक्वालिफाई कर दिया जाता है. 10 मिनट की चर्चा के बाद यह फैसला हो जाता है. न उस खिलाड़ी के नंबर वन प्लेयर होने का रुतबा काम आता है. न ही उसके गलती मानने की बात पर रहम होता है. न टीवी रेटिंग्स की परवाह की जाती है. नियमों को कद्र और तरजीह मिलती है. डिसक्वालिफाई होने वाले प्लेयर का नाम नोवाक जोकोविच था. वह जिस टूर्नामेंट में खेल रहा था वह यूएस ओपन. चार ग्रैंडस्लैम में से एक. जोकोविच टूर्नामेंट जीतने के तगड़े दावेदार थे.

नोवाक जोकोविच ने अपनी गलती के लिए कई बार माफी मांगी लेकिन उन पर कोई रहम नहीं हुआ.
नोवाक जोकोविच ने अपनी गलती के लिए कई बार माफी मांगी लेकिन उन पर कोई रहम नहीं हुआ.

यह हम आपको क्यों बता रहे हैं?

क्योंकि यह घटनाएं बताती हैं कि कोई भी खिलाड़ी खेल से ऊपर नहीं हो सकता है. खिलाड़ी आते-जाते रहते हैं लेकिन खेल चलता रहता है. अब इसी कड़ी में आगे बढ़ते हैं. यूएस ओपन से बाहर होने के बाद जोकोविच के फैंस ने उस लाइन अंपायर को घेर लिया. सोशल मीडिया पर उसे ट्रोल किया जाता है. अकाउंट पर जाकर गालियां दी गई. कई फैंस ने उस लाइन अंपायर को ‘फेडरर की एजेंट’ कहा. फेडरर यानी रोजर फेडरर. टेनिस के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में से एक. और जोकोविच के प्रतिद्वंदी.

Novak Djokovic
बाएं से दाएं: लाइन जज के साथ नोवाक जोकोविच. नोवाक गलती से लाइन जज को गेंद मारने के बाद. (फोटो- AP)

लाइन अंपायर को अकाउंट डिलीट करने पड़े

जोकोविच के चाहने वालों ने लाइन अंपायर का सोशल मीडिया पर रहना मुहाल कर दिया. अंपायर के मर चुके बेटे को भी इस मामले में घसीट लिया. परेशान होकर उसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट डिलीट करने पड़े.

जोकोविच को भी अपने फैंस की हरकतों का पता चला. तो उन्होंने टि्वटर के जरिए रिएक्शन दिया:

प्रिय फैन्स, पॉजिटिव संदेशों के लिए आपका शुक्रिया. कृपया याद रखें कि पिछली रात जिस लाइंस पर्सन को गेंद से चोट लगी उसे भी हमारी कम्युनिटी के सपोर्ट की जरूरत है. उसने कुछ भी गलत नहीं किया. मेरा आपसे कहना है कि इस समय उसका साथ दो और ध्यान रखो. इन्हीं पलों में हम मजबूत होते हैं और आगे बढ़ते हैं. सभी को प्यार. यूरोप मैं आ रहा हूं.

जोकोविच ने आगे आकर उसका महिला का पक्ष लिया. फैन्स जो ट्रोल बन गए थे. उनकी हरकतों को रोकने की कोशिश की.

अपना सामान समेटकर यूएस ओपन से जाते नोवाक जोकोविच.
अपना सामान समेटकर यूएस ओपन से जाते नोवाक जोकोविच.

भारत की हस्तियां कब सीखेंगी

अब इस बात को भारत के संदर्भ में देखिए. देश के राजनेताओं के खिलाफ एक बात कह देने पर गद्दार या देशद्रोही होने का तमगा दे दिया जाता है. अगर मुखालफत करने वाली महिला हो तो उसे खुलेआम रेप की धमकियां दी जाती है. लेकिन वे नेता, सेलेब्रिटी मौन धारण कर लेते हैं. गाली देने वाले लोगों को टोकते नहीं. उल्टा उन्हें फॉलो किया जाता है. एक तरह से स्थापित किया जाता है.

सदी के महानायक कहे जाने वाले एक एक्टर किसी ट्रोल को ठोक देने की बातकहते हैं. सिर्फ इसलिए कि उसने उनके मरने को लेकर ट्वीट किया. या फिर देश की नेशनल क्रिकेट टीम का कप्तान विदेशी क्रिकेटर को पसंद करने वाले को देश छोड़ने को कह देता है. एक राज्य का डीजीपी एक महिला को उसकी औकात बताने लगता है. देश के प्रधानमंत्री का टि्वटर अकाउंट गाली देने वालों को फॉलो करता है.

काश भारत के नेता, हस्तियां और सितारे जोकोविच से सीख सकें कि ट्रोल्स के साथ खुद को ट्रोल बनने से कैसे रोका जाता है.


Video: नोवाक जोकोविच ने मैच में ऐसी गलती कर दी कि US ओपन से ही बाहर कर दिए गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

IPL 2020 से पहले एमएस धोनी और चेन्नई सुपरकिंग्स का बड़ा सिरदर्द हुआ दूर

IPL 2020 से पहले एमएस धोनी और चेन्नई सुपरकिंग्स का बड़ा सिरदर्द हुआ दूर

चेन्नई की ताकत लौट आई है.

PM किसान योजना में 110 करोड़ रुपए का घपला पकड़ा गया!

PM किसान योजना में 110 करोड़ रुपए का घपला पकड़ा गया!

तमिलनाडु सरकार ने लंबी कमीशनखोरी पकड़ी.

#9बजे9मिनट क्यों ट्रेंड कर रहा है?

#9बजे9मिनट क्यों ट्रेंड कर रहा है?

इस बार तो मोदीजी ने कोई टास्क भी नहीं दिया है.

जानिए कोरोना के समय पीएफ पर कितना प्रतिशत ब्याज मिलने वाला है

जानिए कोरोना के समय पीएफ पर कितना प्रतिशत ब्याज मिलने वाला है

मामला छह करोड़ लोगों से जुड़ा है.

रिया चक्रवर्ती का 11 साल पुराना ट्वीट अचानक वायरल क्यों हो गया

रिया चक्रवर्ती का 11 साल पुराना ट्वीट अचानक वायरल क्यों हो गया

रिया को 14 दिन की जेल हुई है.

बिहार : चार बार से जीत रहे BJP विधायक से सवाल पूछा, तो फोन छीन लिया

बिहार : चार बार से जीत रहे BJP विधायक से सवाल पूछा, तो फोन छीन लिया

मामला बिहार के दरभंगा का है.

रोहित शर्मा का आतिशी छक्का, स्टेडियम के बाहर बस की छत पर गिरी गेंद

रोहित शर्मा का आतिशी छक्का, स्टेडियम के बाहर बस की छत पर गिरी गेंद

ऐसे ही रोहित को 'हिटमैन' नहीं कहते.

युवराज सिंह संन्यास से वापस आएंगे! गांगुली-जय शाह से मांगी परमिशन

युवराज सिंह संन्यास से वापस आएंगे! गांगुली-जय शाह से मांगी परमिशन

कहानी में जबरदस्त मोड़ आया है.

PUBG मोबाइल के बैन होने से इन कंपनियों की चांदी हो गई

PUBG मोबाइल के बैन होने से इन कंपनियों की चांदी हो गई

लूडो किंग को तो 15 लाख बार डाउनलोड किया गया!

रिया को जेल भिजवाते वक्त NCB ने सुशांत के ड्रग्स लेने से जुड़े कई राज खोल दिए

रिया को जेल भिजवाते वक्त NCB ने सुशांत के ड्रग्स लेने से जुड़े कई राज खोल दिए

रिया पर लगाए हैं गंभीर आरोप, तभी नहीं मिल पाई जमानत